Asianet News Hindi

होमगार्ड से उठक-बैठक करवाने में दारोगा भी था शामिल, DGP के आदेश पर हुआ सस्पेंड

बिहार के अररिया जिले में कृषि पदाधिकारी की गाड़ी को रोकने वाले चौकीदार से उठक-बैठक करवाने और पैर पकड़कर माफी मंगवाने का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। इस मामले में दारोगा को भी निलंबित कर दिया गया है। 

asi govind singh suspended by bihar dgp order in case of uthak Baithak pra
Author
Araria, First Published Apr 22, 2020, 2:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अररिया। लॉकडाउन की ड्यूटी पर तैनात चौकीदार से उठक-बैठक करवाने के मामले में बिहार के डीजीपी के आदेश पर एएसआई को निलंबित कर दिया गया है। सोमवार को अररिया जिला कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार की गाड़ी को रोकने और पास मांगने पर होमगार्ड से उठक-बैठक करवाया गया था। उठक-बैठक करने वाला होमगार्ड अररिया के बैरगाछी ओपी का गणेश लाल ततमा हैं।  गणेश लाल ततमा को अपनी ड्यूटी करने पर भी दारोगा के सामने ही कृषि पदाधिकारी से माफी मंगवाई गई थी। हैरत की बात यह है कि होमगार्ड से माफी मंगवाने में उसके अपने ही विभाग के सीनियर दारोगा भी शामिल थे। 

बैरगाछी थाने का दारोगा हुआ सस्पेंड
होमगार्ड के उठक-बैठक और पैर के बल बैठकर माफी मंगवाने का वीडियो काफी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वीडियो में होमगार्ड को उठक-बैठक करने के लिए धमकाने वाला बैरगाछी थाना में कार्यरत दारोगा गोविंद सिंह है। जिसे डीजीपी के आदेश पर अररिया की एसपी धूरत सायली ने सस्पेंड कर दिया है। वीडियो वायरल होने पर डीजीपी बिहार ने कहा था कि यह बहुत ही शर्मनाक है। चौकीदार हमारी टीम का सबसे छोटा लेकिन अभिन्न अंग है। डीजीपी ने दोषी पुलिस अधिकारी पर कार्रवाई का भरोसा दिया था। 

कृषि पदाधिकारी पर भी कारवाई होनी तय 
डीजीपी ने आईजी और एसपी से मामले पर बात की थी। साथ ही दोषी को चिह्नित कर उसे सजा देने का निर्देश दिया था। जिसके बाद अररिया एसपी धूरत सायली ने बैरगाछी ओपी में कार्यरत एएसआई गोविंद सिंह को तत्काल सस्पेंड कर दिया। दूसरी ओर मामले के मुख्य आरोपी कृषि पदाधिकारी मनोज सिंह पर भी कार्रवाई की तलवार लटक रही है। कृषि मंत्री के निर्देश पर उनके खिलाफ जांच रिपोर्ट 24 घंटे में मांगी गई है। जांच रिपोर्ट मिलते ही मनोज सिंह पर कार्रवाई की जाएगी।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios