Asianet News HindiAsianet News Hindi

Bihar में जहरीली शराब से अब तक 11 मौत, 34 गिरफ्तारी, थाना प्रभारी सस्पेंड, सियासत भी जारी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले में हुई इस दर्दनाक घटना में अब तक 34 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। 6 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। इस घटना के बाद स्थानीय प्रशासन ने सोहसराय थाना प्रभारी सुरेश प्रसाद को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

bihar patna nalanda liquor case 34 arrested police station in charge suspended Tej Pratap Yadav attack on Nitish kumar stb
Author
Patna, First Published Jan 16, 2022, 7:14 PM IST

पटना : बिहार (Bihar) के नालंदा ( Nalanda) में कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से मौतों का आंकड़ा बढ़कर अब 12 हो गया है। हालांकि अभी भी इस मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इन मौतों के पीछे का असली कारण सामने आ पाएगा। इस मामले में कार्रवाई भी शुरू हो गई है। पुलिस लगातार गिरफ्तारियां कर रही है, और मामले की गंभीरता से जांच चल रही है। वहीं इस मामले को लेकर सियासत भी लगातार गर्म है।

अब तक 34 गिरफ्तारियां
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले में हुई इस दर्दनाक घटना में अब तक 34 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। 6 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। इस घटना के बाद स्थानीय प्रशासन ने सोहसराय थाना प्रभारी सुरेश प्रसाद को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है क्योंकि छोटी पहाड़ी मोहल्ला जहां पर यह शराब कांड हुआ था वह सोहसराय थाना अंतर्गत ही पड़ता है। घटना के बाद यहां भारी संख्या में सुरक्षाकर्मियों के साथ नालंदा के जिलाधिकारी शशांक शुभंकर और नालंदा एसपी अशोक मिश्रा पहुंचे थे।

पुलिस कर रही छापेमारी
वहीं, घटनास्थल पर पहुंचकर डीएम और एसपी ने मृतक के परिजनों से घटना के बारे में पूछताछ की थी। नालंदा के डीएम शशांक शुभंकर ने कहा कि इस पूरे मामले में अब तक 11 लोगों की मौत हुई है। हालांकि, अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है, लेकिन प्रथम दृष्टया यह पता चलता है कि सभी ने अवैध शराब का सेवन किया है। जिस इलाके में यह शराब कांड हुआ है वहां पर पुलिस की टीम लगातार छापेमारी कर रही है और काफी मात्रा में शराब की बरामदगी भी हुई है।

कानून की आड़ में साहेब पी रहे 'खून' - तेज प्रताप
एक तरफ इस मामले में पुलिस-प्रशासन छापेमारी कर रहा है तो दूसरी तरफ राज्य में राजनीति भी तेज हो गई है। विपक्ष लगातार इस बात का आरोप लगा रहा है कि नालंदा प्रशासन इस पूरे मामले की लीपापोती में लगा हुआ है। आरजेडी नेता तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि बिहार में शराबबंदी के नाम पर ढोंग किया जा रहा है। लोग मर रहे हैं और सरकार लोगों का खून पीने का धंधा कर रही है। तेज प्रताप ने अपने ट्वीट में लिखा कि शराबबंदी वाली ढोंग की आड़ में खून पीने का धंधा शुरू किया है साहेब ने।

इसे भी पढ़ें-Bihar में जहरीली शराब से मौतों पर चौतरफा घिरे Nitish Kumar, अब सहयोगी दल BJP ने भी पूछे तीखे सवाल

इसे भी पढ़ें-बिहार में शराब ने तबाह कर दिए कई परिवार: किसी का सुहाग उजडा तो किसी के पिता, CM Nitish के जिले में ही 10 मौत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios