Asianet News Hindi

एक बुजुर्ग ने पूरे परिवार को दिया कोरोना, पत्नी-बेटा-बहू, बेटी-दामाद, 6 माह की नातिन-पोती सब संक्रमित

कोरोना वायरस से संक्रमित होने का खतरा बच्चे-बुर्जुग में ज्यादा होता है। इन लोगों का इम्युनिटी पावर कम होता है। लिहाजा ये जल्द ही कोरोना के जद में आ जाते हैं। लेकिन बच्चे-बुजुर्ग के साथ-साथ कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए युवा व स्वस्थ लोगों में भी कोरोना फैलता है। इसका उदाहरण मुंगेर से सामने आया है। 
 

coronavirus spread in whole family through 60 years old man, 10 more infected pra
Author
Munger, First Published Apr 18, 2020, 2:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंगेर। एक इंसान से दूसरे इंसान में कोरोना का खतरनाक वायरस किस तरह से फैलता है, इसका एक उदाहरण बिहार के मुंगेर जिले से सामने आया है। जहां दो महीने पहले नालंदा में आयोजित हुए तब्लीगी मरकज में शामिल होने वाले एक बुर्जुग में कोरोना की पुष्टि हुई। बुजुर्ग में कोरोना की पुष्टि होने के अगले ही दिन उनके पूरे परिवार और पड़ोस से वैसे लोग, जो उक्त बुजुर्ग के संपर्क में आए होंगे, उनकी जांच की गई। इस जांच के बाद जो रिपोर्ट आई वो चौंकाने वाली थी। उक्त बुजुर्ग के संपर्क में आने वाले उसके परिवार के 8 सदस्य के साथ-साथ पड़ोस का भी एक व्यक्ति कोरोना का संक्रमित मिला। 

सभी का एनएमसीएच पटना में चल रहा इलाज
फिलहाल कोरोना पॉजिटिव मिले इन सभी मरीजों को मुंगेर से बेहतर इलाज के लिए पटना के एनएमसीएच रेफर किया जा चुका है। बुर्जुग के संपर्क में आने से कोरोना पीड़ित होने वाले उसके परिवार के सदस्यों में 60 वर्षीय जमाती की 55 वर्षीय पत्नी, 42 वर्षीय पुत्र, 26 वर्षीय पुत्री, 20 वर्षीय पुत्री, 40 वर्षीय दामाद, 30 वर्षीय दामाद, 30 वर्षीय पुत्रवधू, 02 वर्षीय पोती, 06 माह की नतनी के अलावा 40 वर्षीय एक पड़ोसी शामिल है। परिवार के एक सदस्य के संक्रमित होते ही कोरोना का खतरनाक वायरस नौ अन्य लोगों को संक्रमित कर चुका है। 

एक महीने में एक मरीज 406 लोगों को कर सकता है संक्रमित
विशेषज्ञों के अनुसार ये आंकड़ा और बढ़ भी सकता है। बीते दिनों आईसीएमआर की रिपोर्ट में यह दावा किया गया था कि एक कोरोना पीड़ित मरीज एक महीने में 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है। मुंगेर के बुर्जुग के संपर्क में आए 46 अन्य लोगों का सैंपल शुक्रवार को भेजा गया है। जिसका रिपोर्ट आने के बाद कोरोना मरीज बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। मुंगेर के सिविल सर्जन डॉ. पुरुषोत्तम कुमार ने कहा कि पॉजिटिव मिले वृद्ध सहित 7 अन्य जमातियों के अलावा पॉजिटिव पाए गए सभी 10 लोगों के संपर्क में आए लोगों की स्क्रीनिंग के लिए सूची तैयार की जा रही है। शुक्रवार की शाम तक कुल 46 लोगों की पहचान कर सबों को क्वारेंटाइन कराया गया है। सभी 46 लोगों के स्वाब का सैंपल भागलपुर से आई 15 सदस्यीय टीम द्वारा लिया गया है। संपर्क में आए अन्य लोगों की तलाश जारी है। 

प्रतीकात्मक तस्वीर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios