Asianet News Hindi

जख्मी होने के बावजूद अपराधियों से लड़ता रहा युवक, फोन करने पर भी नहीं पहुंची बिहार की पुलिस

मामला बिहार के गोपालगंज जिले का है। जहां रविवार का रात करीब आधा दर्जन अपराधियों ने नशे में एक युवक से बाइक छिनने की कोशिश की। हालांकि युवक ने हिम्मत दिखाते हुए अपराधियों के मंसुबे को पूरा नहीं होने दिया। 

criminals stabbed young man during bike loot at gopalganj in bihar pra
Author
Gopalganj, First Published Feb 10, 2020, 4:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गोपालगंज। बिहार में अपराध के बढ़ते ग्राफ का ताजा उदाहरण गोपालगंज जिले से सामने आया है। जहां रविवार की शाम नशे में धुत्त करीब आधा दर्जन अपराधियों ने एक युवक से बाइक छिनने की कोशिश की। सरेराह हुई इस आपराधिक वारदात में युवक बदमाशों से भिड़ गया। युवक ने हिम्मत दिखाते हुए अपनी बाइक लूटने से तो बचा ली। लेकिन अपराधियों ने उसे चाकू से गोद कर घायल कर दिया। चाकू लगने से घायल हुए युवक को आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचाया। जहां उक्त युवक की मरहम-पट्टी की गई। घटना के समय युवक ने कई बार पुलिस को फोन किया लेकिन न तो पुलिस ने फोन रिसीव किया और न हीं कोई गश्ती दल वहीं पहुंची। 

नगर थाना क्षेत्र के राजेंद्र नगर बस स्टैंड की घटना
बेखौफ अपराधियों के हमले से घायल हुए युवक की पहचान साहजेब अनवर से रूप में हुई है। अनवर अपने दोस्त समीर अकरम के साथ किसी रिश्तेदार के यहां जा रहा था। इसी दौरान जब वो नगर थाना क्षेत्र के राजेंद्र नगर बस स्टैंड के पास पहुंचा तभी करीब आधा दर्जन बदमाशों ने उसे घेर लिया। सभी बदमाश नशे में थे, बदमाशों ने युवक से बाइक छीनने की कोशिश की। विरोध करने पर बदमाशों ने युवक को चाकू से गोद कर हमला कर दिया। इसी बीच शोर होने पर स्थानीय लोगों से जुटने से बदमाश भाग निकले। 

नियमित गश्ती करती पुलिस तो नहीं होती ऐसी घटनाएं
भागते हुए बदमाशों को पकड़ने के लिए युवक के साथ कई स्थानीय लोग उसके पीछे गए। लेकिन वे लोग बदमाश को पकड़ने में सफल नहीं हुए। इस दौरान अनवर और उसके दोस्त अकरम ने कई बार पुलिस को फोन की। लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ लिहाजा कोई भी जवान युवक की मदद करने नहीं पहुंचा। चाकू के हमले से घायल होने के बाद भी युवक बदमाशों से भिड़ा रहा। युवक के हिम्मत की स्थानीय लोग दाद देते दिखे। हालांकि नगर थाना क्षेत्र में हुई घटना से स्थानीय लोगों में रोष है। लोगों का कहना है कि पुलिस की गश्ती नियमित होती रहती तो बदमाश ऐसा काम करने की हिम्मत नहीं उठाते।  

प्रतीकात्मक तस्वीर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios