Asianet News Hindi

मिलिए स्वच्छता अभियान के रियल हीरो से, झाड़ू के लिए पत्नी के गहने तक बेंच दिया, लोगों से मिला है ऐसा नाम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2014 में शुरू किए गए स्वच्छता मिशन से चार साल पहले से सीतामढ़ी के शशिभूषण सिंह अकेले दम पर स्वच्छता मिशन चला रहे हैं। शशि के इस काम के लिए लोग उन्हें पगला झाड़ू वाला कहते हैं। 
 

meet the real hero of swachata abhiyan shashibhushan singh from bihar pra
Author
Sitamarhi, First Published Feb 12, 2020, 6:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

सीतामढ़ी । राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता के सपने को सीतामढ़ी का एक युवक अकेले दम पर साकार करने में जुटा हुआ है। स्वच्छता की ललक ऐसे कि स्वच्छता के लिए पत्नी के गहने तक बेच दिए। आस-पास के लोग इस युवक को पगला झाड़ू वाला कहते है लेकिन उसके काम की हर कोई तारीफ भी करता है। ये युवक है बिहार के सीतामढ़ी जिले के मेजरगंज प्रखंड स्थित डुमरी कला गांव का। साल 2011 से गांव में अपने बूते स्वच्दता की मुहिम छेड़ इसने छेड़ रखी है। गांव की सड़कों और गलियों में जहां कहीं गंदगी दिखती है उसे वो झाड़ू लेकर साफ करने लगता है। 

पत्नी के गहने बेच खरीदी टोकरी
स्वच्छता अभियान के इस रियल हीरो का नाम है शशिभूषण सिंह। शशिभूषण ने पत्नी के गहने बेच कर उससे मिले पैसे से कूड़ा उठाने के लिए टोकरी और डस्टबिन की खरीद की। इसके साथ ही शशिभूषण पिछले नौ सालों से लोगों को खुले में शौच नहीं करने के प्रति भी जागरूक कर रहे हैं। शशिभूषण सिंह बताते हैं कि जब वे पढ़ाई करते थे, तब उनके इलाके में पसरी हुई गंदगी की वजह से गांव में बीमारी फैल गई थी। जिसने कई लोगों को मौत हो गया। इस घटना ने उन्हें गंदगी के खिलाफ स्वच्छता चलाने की प्रेरणा दी। 

2011 से शुरू चल रहा अभियान
देशवासियों के लिए भले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में स्वच्छ भारत अभियान शुरू किया था। लेकिन सीतामढ़ी के शशिभूषण ने अपना अभियान इससे 4 साल पहले ही शुरू कर दिया था। वे 2011 से ही प्रत्येक सुबह झाड़ू लेकर अपने गांव की सड़कों पर निकल जाते हैं और सफाई शुरू कर देते हैं। उनके इस काम को तो ग्रामीणों ने पहले हल्के में लिया लेकिन बाद में उसकी काम के समर्थन में उतर आए। साल 2015 में वो पंचायत चुनाव में वार्ड सदस्य के लिए चुनाव लड़ा और आसानी से जीत दर्ज की। 

बाइक में बांधकर रखते हैं झाड़ू
अब गांव के लोगों ने शशिभूषण सिंह को चंदा करके एक मोटरसाइकिल खरीद कर दिया है। जिसमें वो हमेशा झाड़ू बांधे चलते है। इस दौरान जहां भी उन्हें गंदगी दिख जाती है उसकी सफाई करने लगते है। आज से युग में ऐसे लोगों की हर जिले-हर शहर में जरूरत है, जिन्होंने साफ-सफाई के लिए अपनी पूरी जिदंगी लगा दी हो। बता दें कि इस काम के लिए उन्हें स्थानीय स्तर पर कई पुरस्कार भी मिल चुका है। शशिभूषण प्रधानमंत्री मोदी के बड़े फैन है, उनसे मिलने की चाहत रखते हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios