Asianet News Hindi

लॉकडाउन में बढ़ी पुलिसिया ज्यादती, डॉक्टर को दिखाने जा रहे वृद्धा को मारा डंडा, मौत के बाद हंगामा

बिहार में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मरीजों को देखते हुए लॉकडाउन को सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया गया है। लेकिन इस बीच कई जगह से पुलिस की सख्ती ज्यादती प्रतीत होती है। ताजा मामला मधेपुरा का है। जहां डॉक्टर को दिखाने जा रही महिला की मौत पुलिस के डंडे की मार के कारण हुई।  
 

police beats an old woman to death who was going to doctor in madhepura bihar pra
Author
Madhepura, First Published Apr 25, 2020, 12:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मधेपुरा। कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी लॉकडाउन प्रशासन लोगों से घरों में ही रहने की अपील कर रहा है। इस बीच बीमार लोगों की परेशानी बढ़ रही है। घर में रहे बीमारी बढ़ रही है। बाहर निकले तो पुलिस डॉक्टर तक पहुंचने नहीं दे रही है। कई जगह तो स्थिति ऐसी है कि डॉक्टर मिल भी नहीं रहे हैं। लॉकडाउन पालन के लिए पुलिस सख्ती भी बरत रही है। सड़क पर निकले लोगों पर डंडा भी चलाया जा रहा है। पुलिस की मार से न केवल लोग चोटिल हो रहे हैं बल्कि मौत भी हो रही है। ताजा मामला बिहार के मधेपुरा जिले का है। जहां नाती के साथ बाइक से डॉक्टर के पास जा रही एक वृद्ध महिला की मौत पुलिस के डंडे की मार के कारण हो गई। 

सहरसा की महिला, नाती संग डॉक्टर के पास जा रही थी
मृतका की पहचान सहरसा जिले की रहने वाली 55 वर्षीया उर्मिला देवी के रूप में हुई है। मिली जानकारी के अनुसार उर्मिला की आंख खराब थी। जिसका इलाज कराने के लिए वो अपने नाती कल्याण के साथ बाइक से डॉक्टर के पास जा रही थी। मधेपुरा के पश्चिमी बाइपास के पास शुक्रवार को देपहर करीब एक बजे नए बस स्टैंड के पास मृतका के नाती द्वारा बाइक रोकने में कुछ सेंकेड की देरी होने के कारण पुलिस ने डंडा चला दिया। डंडा बाइक पर पीछे बैठी उर्मिला के सिर पर लगा। पीछे से लगे डंडे की चोट खाकर उर्मिला वहीं सड़क पर गिर पड़ी। उसका सिर फट गया। 

चेक पोस्ट पर तैनात जवानों ने आरोपों का किया खंडन
आनन-फानन में नाती जख्मी महिला को लेकर डॉक्टर के पास पहुंचा। जहां से डॉक्टर ने वृद्धा की हालत गंभीर देख उसे डीएमसीएच दरभंगा के लिए रेफर कर दिया। लेकिन दरभंगा पहुंचने से पहले ही महिला की मौत हो गई। महिला की मौत के बाद स्थानीय लोगों ने रोड जाम कर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं दूसरी ओर नए बस स्टैंड के पास बने चेक पोस्ट पर तैनात मजिस्ट्रेट दिनेश कुमार दास, दारोगा चंद्रप्रकाश चंद्र, व अन्य जवानों ने लोगों के आरोप का खंडन करते हुए कहा कि बाइक सवार युवक को रोकने का इशारा किया गया था। लेकिन वो तेज गति से भागना चाहा। इसी बीच बाइक एक ट्रैक्टर से टकाराई और महिला सड़क पर गिर पड़ी। इसी दौरान उसके सिर में चोट लगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios