Asianet News HindiAsianet News Hindi

अखबारों में विज्ञापन देकर खुद को बिहार का CM कैंडिडेंट बताने वाली कौन हैं पुष्पम प्रिया चौधरी?

8 मार्च बिहार की राजनीति के लिए बेहद खास रहा। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन बिहार के सभी बड़े अखबारों के पेज वन और टू पर विज्ञापन देकर एक मॉडल जैसी दिखने वाली लड़की ने खुद को सीएम कैंडिडेंट बताया। इस विज्ञापन को देख बिहार की सियासी पारा अचानक बढ़ गया है। यहां जानिए कौन हैं ये लड़की जिसने लाखों का विज्ञापन देकर खुद को नीतीश कुमार का प्रतिद्वंद्वी बताया। 

Pushpam Priya Choudhary advertises herself as cm candidate of bihar in papers pra
Author
Patna, First Published Mar 9, 2020, 12:26 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना। 8 मार्च की सुबह बिहार के लोगों ने जैसे ही अखबार देखा, वो हैरान हो गए। राज्य के सभी बड़े अखबार हिन्दूस्तान, दैनिक भास्कर, दैनिक जागरण, प्रभात खबर, टाइम्स ऑफ इंडिया के पेज वन और टू पर पूरे पन्ने का एक विज्ञापन प्रकाशित किया गया था। विज्ञापन में एक मॉडल सी दिखने वाली लड़की ने बिहार विधानसभा चुनाव में खुद को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बताया था। पेज वन के विज्ञापन पर अंग्रेजी में पार्टी का नाम, बिहार के लोगों के नाम छोटा सा संदेश और उक्त लड़की की एक तस्वीर लगी थी। जिसमें उसने खुद को अपनी पार्टी का प्रेसिडेंट बताते हुए अक्टूबर-नवंबर 2020 में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बताया था। पेज 2 पर हिंदी में बिहारियों के नाम संदेश था। हिंदी में लिखे गए संदेश में भी उक्त लड़की ने अपना परिचय बिहार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद की कैंडिडेंट के रूप में बताई थी। 

पहले ब्रांड अथवा मॉडल का विज्ञापन लगा, मैसेज देख हुई हैरानी
राजनीतिक रूप से समृद्ध माने जाने वाले बिहार के लोगों को पहली नजर में एक विज्ञापन किसी मशहूर ब्रांड या मॉडल का लगा। लेकिन उसपर लिखे मैसेज को पढ़ने के बाद लोगों का माथा ठनका। एक अनजान पार्टी की अनजानी प्रेसिडेंट चुनाव से छह महीने पहले खुद को सीएम पद का उम्मीदवार बताते हुए लाखों रुपए खर्च कर सभी अखबारों का पेज-1 और 2 पर विज्ञापन दी थी। विज्ञापन में लिखे मैसेज को पढ़ने के बाद बिहार के आम अवाम के साथ-साथ राजनीतिक दलों के नेता और कार्यकर्ताओं के मन में भी कई सवाल उठे। ये लड़की कौन है? ये पार्टी कौन है? इसका मकसद क्या है?  

पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन और डेवलपमेंट स्टडीज में किया है एमए
ये विज्ञापन जिस पार्टी के नाम से दिया गया है उसका नाम है प्लूरल्स (PLURALS). इस पार्टी की प्रेसिडेंट हैं पुष्पम प्रिया चौधरी। जिन्होंने खुद को बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बताया है। पुष्पम प्रिया चौधरी के सोशल मीडिया अकाउंट से मिली जानकारी के अनुसार ये लंदन में रहती हैं। पुष्पम ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनोमिक्स एंड पॉलिटिकल साइसेज से मास्टर ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन की पढ़ाई की है। इसके साथ ही पुष्पम ने यूनिवर्सिटी ऑफ ससेक्स के आईडीएस से डेवलपमेंट स्टडीज में एमए किया है। ये तो रही पुष्पम की पढ़ाई की बात। फेसबुक पर बने इनके अकाउंट से कई स्पॉन्सर मैसेज और पोस्ट सर्कुलेट होते रहे है। हालांकि यहां गौर करने वाली बात यह हैं कि इस विज्ञापन के बाद इनके फेसबुक पोस्ट की रिच काफी तेजी से बढ़ी है। 

जदयू के पूर्व एमएलसी की बेटी हैं पुष्पम प्रिया चौधरी
पुष्पम की पढ़ाई और सोशल मीडिया एक्टिविटी से कहीं ज्यादा दिलचस्प है उनका बिहार कनेक्शन। जब हमने पुष्पम के बारे में जानकारी जुटानी शुरू की तो पता चला कि ये मूलरूप से बिहार के दरंभगा जिले की रहने वाली है। यहीं नहीं राजनीति इनको विरासत में मिली है। पुष्पम जदयू के पूर्व एमएलसी विनोद चौधरी की बेटी हैं। पुष्पम के चाचा अजय चौधरी उर्फ विनय इस समय जदयू के जिलाध्यक्ष हैं। पुष्पम के दादा उमकांत चौधरी नीतीश कुमार के करीबी मित्रों में से माने जाते हैं। जदयू परिवार से ताल्लुक रखने वाली पुष्पम ने आखिर क्यों खुद को नीतीश कुमार की प्रतिद्वंद्वी बताया, इसपर अभी तक बहुत कुछ खास जानकारी नहीं मिल सकी है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुष्पम के पिता विनोद चौधरी को भी बेटी के इस कदम के बारे में बहुत कुछ पता नहीं है। पुष्पम अभी लंदन में हैं, उनके बिहार आने पर भी उनकी अगली रणनीति साफ हो सकेगी।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios