बेगूसराय। जिले के दुनहीं गांव में सोमवार को हिमाचल प्रदेश और बिहार की पुलिस ने संयुक्त रूप से छापा मार कर ऑनलाइन ठगी करने वाले एक युवक को गिरफ्तार किया। गांव में रेड मारने पहुंची पुलिस ठगी करने वाले युवक की गांव स्थित संपत्ति और ठाठ देख हैरान रह गई। युवक ने गांव में करोड़ों की लागत से आलीशान मकान बनवा रखा था। फोर्ड जैसी महंगी गाड़ी उसके दरवाजे की शोभा बढ़ा रहे थे। लेकिन कानून के हाथ बड़े लंबे होते है वाली कहावत के अनुसार सोमवार को ठगी करने वाला युवक और उसका साथी दोनों गिरफ्तार कर लिया गया। 

बेगूसराय से करण और बंगाल से विशाल कुमार गिरफ्तार
बेगूसराय में गिरफ्तार हुए युवक की पहचान दुनहीं गांव निवासी नंदन पंडित के पुत्र प्रदुवन उर्फ करण पंडित के रूप में की गई है। पुलिस ने करण के पास से 6500 रुपए नगद, एक लैपटॉप, आठ एटीएम, विभिन्न मोबाइल कंपनियों के तकरीबन 50 सीम और छह मोबाइल बरामद किए है। साथ ही करण की निशानदेही पर पुलिस ने पश्चिम बंगाल के पुरुलिया से विशाल कुमार पाल नामक युवक को भी गिरफ्तार किया है। विशाल फिनो बैंक का एजेंड है। उसे ऑनलाइन ठगी का मास्टर माइंड बताया जाता है। 

23 अगस्त 2019 को शिमला के व्यापारी से हुई थी ठगी
मामले के बारे में साइबर क्राइम ब्रांच शिमला के डीएसपी नरवीर सिंह राठौड़ ने बताया कि 23 अगस्त 2019 को शिमला के एक व्यापारी के खाते  से 24 लाख रुपए की अवैध निकासी हुई थी। इसमें 12 लाख रुपए लोन के जबकि 12 लाख रुपए सेविंग अकाउंट के थे। व्यवसायी ने मामले की शिकायत साइबर विभाग में की थी। जिसके बाद से पुलिस अपनी छानबीन में जुटी थी। सर्विलांस पर मोबाइल लेकर पुलिस मामले की जांच में बेगूसराय तक पहुंची। जहां से करण और उसकी निशानदेही पर बंगाल के पुरुलिया के विशाल कुमार पाल को गिरफ्तार किया गया।