Asianet News Hindi

नकाबपोश लोगों ने कन्हैया कुमार के काफिले पर फिर किया हमला, जान बचा कर भागने में लोग हुए घायल

जेएनयू के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार पर आरा में नकाबपोशों ने हमला किया। इसमें उनके काफिले में शामिल गाड़ियों को नुकसान हुआ। वे जन गण मन यात्रा के दौरान आरा पहुंचे हुए थे।
 

Stone pelting on kanhaiya kumar convoy in arrah in bihar pra
Author
Arrah, First Published Feb 15, 2020, 2:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

आरा। बिहार में कन्हैया कुमार का विरोध और उनपर हमले की घटनाएं रुकने का नमा नहीं ले रही। शुक्रवार को फिर से उनके काफिले पर लोगों को हमला कर दिया। इसमें उन्हें जान बचा कर भागना पड़ा। भागने के क्रम में पैदल और बाइक सवार भी घायल हो गए। कैन्हया 14 फरवरी को जनगणन मन यात्रा के क्रम में आरा पहुंचे हुए था जहां उन्हें एक जनसभा को संबोधित करना था। लेकिन रास्ते में ही नकाबपोश लोगों ने उनके काफिले पर पत्थरबाजी की। 

गजराजगंज के बामपाली गांव के पास हुआ पत्थराव
सीएए और एनआरसी के विरोध में कन्हैया कुमार ने बिहार से जनगणन यात्रा की शुरुआत की है। इसी क्रम में शुक्रवार को आरा के रमना मैदान में उनकी सभा होने थी। वहां पहंुचने से पहले ही उनके विराेधियों ने गजराजगंज में उनकी यात्रा पर पत्थराव शुरू कर दिया। इसमें उनकी गाड़ी के शीशे टूट गए। और आसपास के गुजरने वाले लोगों को भी चेट आई। पत्थराव शुरू होने के बाद कन्हैया काे मौके से जान बचा कर भागना पड़ा।

सुपौल में काफिले पर पहली बार हुआ हमला
बिहार के सुपौल जिले में कन्हैया के काफिले पर पहली बार हमला हुआ। इसमें सुपौल के एक युवक ने कन्हैया पर मारपीट करने का आरोप लगाया था। इसके बाद उनके उपर मधेपुरा, कटिहार और जमुई में हमला हो चुका है। इसके अलावा एलएमएनयू के छात्रों ने दरभंगा में आयोजित सभा के बाद उस मंच को गंगाजल से धोया था जहां से कन्हैया ने सभा को संबोधित किया था। बता दें कि चंपारण से निकली कन्हैया की जन गण मन यात्रा 27 को पटना के गांधी मैदान में होने वाली विशाल सभा के साथ समाप्त होगी। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios