पटना (Bihar)। शिवसेना नेता संजय राउत के बयान पर उठा विवाद शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। एक्टर सुशांत राजपूत के चचेरे भाई और भाजपा विधायक नीरज कुमार सिंह बबलू ने शिवसेना नेता और राजसभा सांसद संजय राउत को लीगल नोटिस भेजा है। ये नोटिस उन्होंने अपने वकील के माध्यम से ईमेल के जरिये भेजा है। साथ ही बयान पर माफी मांगने के लिए 48 घंटे का समय दिया है। बता दें कि संजय राउत ने एक्टर सुशांत के पिता केके सिंह की दूसरी शादी को लेकर बयान दिया था।

सुशांत के पिता को लेकर दिया था बयान
बीजेपी विधायक नीरज बबलू ने पहले ही चेतावनी दी थी कि संजय राउत मनगढ़ंत और आधारहीन बयान दे रहे हैं और इस मामले में अगर वो खेद नहीं जताते हैं तो उनका परिवार कानूनी लड़ाई लड़ेगा। नीरज सिंह बबलू के वकील अनीस झा ने बताया कि शिवसेना सांसद संजय राउत को लीगल नोटिस भेजा गया है और अब उनके जवाब का इंतजार है। नीरज के वकील के मुताबिक, अगर 48 घंटे में संजय राउत ने अपना वो विवादास्पद और मनगढ़ंत बयान वापस नहीं लिया या फिर उस पर खेद नहीं जताया तो वैसी स्थिति में आगे मुकदमा किया जाएगा।

कोर्ट में सुशांत के पिता ने कही ये बातें
एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में पिता केके सिंह ने मंगलवार की सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट को बताया कि अब उनके पास अपने अंतिम संस्कार में चिता को मुखाग्नि देने के लिए कोई नहीं है। उन्होंने कहा, 'मैं पटना से हूं और मेरे बेटे के बिना मेरे अंतिम संस्कार की चिता को रोशन करने वाला कोई नहीं है। किसी ने भी मेरे बेटे को फांसी लगाते हुए नहीं देखा है। जब मेरी बेटी पहुंची तो सुशांत बिस्तर पर पड़ा था। सुशांत के पिता ने कहा कि केस में जांच की जरूरत है।

कल आ सकता है फैसला
सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस की जांच प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई ने शुरू कर दी है। मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर केस की जांच पटना से मुंबई ट्रांसफर करने की मांग की है। रिया की याचिका पर सुशांत की मौत की जांच सीबीआई करे या मुंबई पुलिस, इस विषय पर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में लंबी बहस हुई। कोर्ट गुरुवार को इस मामले में फैसला सुना सकता है।