Asianet News HindiAsianet News Hindi

एसिड अटैक मामले में पीड़िता ने लगाया पुलिस पर आरोप, एसपी ने गठित की एसआईटी

रोहतास के बिक्रमगंज प्रखण्ड के शिवपुर गांव में एक ही परिवार के तीन सदस्यों पर एसिड अटैक मामले में पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लग गया है। पीड़िता ने जब पुलिस की जांच पर सवाल उठाया और मामला प्रकाश में आया तब अधिकारी इस मामले में एक्टिव हुए।

Victim accuses police in acid attack case at rohtas uja
Author
First Published Oct 6, 2022, 1:04 PM IST

रोहतास( Bihar). रोहतास के बिक्रमगंज प्रखण्ड के शिवपुर गांव में एक ही परिवार के तीन सदस्यों पर एसिड अटैक मामले में पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लग गया है। पीड़िता ने जब पुलिस की जांच पर सवाल उठाया और मामला प्रकाश में आया तब अधिकारी इस मामले में एक्टिव हुए। घटना के 6 दिन बाद पीड़िता का फर्द बयान लिया गया और प्राथमिकी दर्ज की गई। अब एसपी आशीष भारती ने मामले एसआईटी का गठन किया गया है।

एसपी आशीष भारती ने पत्रकार वार्ता में जानकारी देते हुए बताया, बिक्रमगंज थाना अंतर्गत शिवपुर गांव में हुए एसिड अटैक मामले में बयान दिया गया । बयान के आधार पर बिक्रमगंज थाने में केस संख्या 466/ 22, के तहत अज्ञात के विरुद्ध मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। 

स्पष्ट नही हुआ घटना का कारण 
पीड़िता द्वारा अपने बयान में घटना का कारण स्पष्ट नहीं किया गया है तथा अज्ञात के विरुद्ध मामला दर्ज कराया गया है। मामले जल्द खुलासे और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एसडीपीओ, बिक्रमगंज के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है। एसपी आशीष भारती ने बताया कि मामले की जानकारी मिलते ही बिक्रमगंज एसडीपीओ एवं बिक्रमगंज थानाध्यक्ष को जांच कर कड़ी कार्यवाही करने का निर्देश दिया गया था। 

एसिड अटैक में घायल हुए हैं मां-बेटी और बेटा 
गौरतलब है कि बीते 29 सिंतंबर को रात तकरीबन नौ बजे बिक्रमगंज थाना क्षेत्र के शिवपुर गांव में भुल्लु शाह के घर में घुस कर बदमाशों ने मां, बेटे और बेटी पर तेजाब फेंक दिया था और इसके बाद बाइक से भाग निकले थे। एसिड अटैक में भुल्लु की पत्नी कांति देवी, बेटा रितेश कुमार, एवं बेटी नेहा घायल हो गए थे। आनन-फानन में परिजन उन्हें अस्पताल बिक्रमगंज ले गए, जहां से चिकित्सकों ने प्राथमिक चिकित्सा के बाद उन्हें रेफर कर दिया था। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios