मुंबई। सिंगर अदनान सामी (Adnan Sami) ने हाल ही में लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar), आशा भोंसले और नूरजहां की एक फोटो शेयर करते हुए इन तीनों को महान गायिका बताया था। अदनान सामी की इस पोस्ट पर कई लोगों ने कमेंट किए। ज्यादातर लोग जहां अदनान की बात से सहमत दिखे वहीं, कुछ लोग ऐसे भी थे जिन्होंने लता मंगेशकर की बुराई करनी शुरू कर दी। इतना नहीं कुछ लोगों ने तो लता मंगेशकर की आवाज पर ही सवाल खड़े कर दिए। ये देखकर अदनान सामी ने ट्रोलर्स को करारा जवाब देते हुए उनकी बोलती बंद कर दी।
lata mangeshkar troll on twitter called overrated singer adnan sami slams  users-लता मंगेशकर को बताया 'ओवररेटेड सिंगर' तो अदनान सामी ने कहा- बंदर क्या  जाने... - India TV Hindi News

अदनान की पोस्ट पर एक शख्स ने लिखा- भारतीय लोगों का ब्रेनवॉश किया गया है कि लता मंगेशकर की आवाज बहुत प्यारी है। वहीं एक और शख्स ने कहा- उनकी आवाज बहुत खराब और बार-बार रिपीट की गई है। इस तरह के कमेंट देख अदनान सामी ने भी ट्रोलर्स को करारा जवाब दिया। अदनान सामी ने लिखा, ‘बंदर क्या जाने, अदरक का स्वाद। चुप बैठना और बेवकूफ लगना ज्यादा बेहतर है बजाय इसके कि मुंह खोलकर अपनी हकीकत सबके सामने रख दो, ताकि सारी शंका ही खत्म हो जाए।  

 

अदनान सामी के इस जवाब के बाद कई लोग उनकी तारीफ करते हुए सपोर्ट कर रहे हैं। एक शख्स ने कहा- सर आप क्यों ऐसे लोगों को भाव देते हैं, जिन्हें संगीत के सारेगामापा की भी जानकारी नहीं है। वहीं एक और शख्स बोला- बहुत सही जवाब।  

 

28 सितंबर, 1929 को इंदौर में एक मध्यमवर्गीय मराठा परिवार में जन्मी लता का नाम पहले 'हेमा' था। हालांकि जन्म के पांच साल बाद माता-पिता ने इनका नाम 'लता' रख दिया था। छह दशक से हिन्दुस्तान की आवाज बन चुकीं लताजी ने 36 से ज्यादा भाषाओं में करीब 30 हजार से ज्यादा गाने गाए हैं। साल 2011 में लता जी ने आखिरी बार ‘सतरंगी पैराशूट’ गाना गाया था, उसके बाद से वो अब तक सिंगिग से दूर हैं। लता ने 13 साल की उम्र में पहली बार साल 1942 में आई मराठी फिल्म ‘पहली मंगलागौर’ में गाना गाया। हिंदी फिल्मों में उनकी एंट्री साल 1947 में फिल्म ‘आपकी सेवा’ के जरिए हुई।

Lata Mangeshkar: Lata Mangeshkar's spokesperson says singer is recovering,  requests fans to not react to 'needless rumours'