Asianet News Hindi

लॉकडाउन में इंजीनियर सब्जी बेचने को थी मजबूर फिर सोनू सूद ने दिखाई दरियादिली, दिलाई जॉब

कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन से लोग काफी प्रभावित हुए। ऐसे में लोगों की मदद में जुटे हुए हैं। सोनू सूद और उनकी टीम हर व्यक्ति तक मदद पहुंचाने की कोशिश कर रही है। हाल ही में आंध्र प्रदेश के एक गरीब किसान परिवार को ट्रैक्टर देकर मदद की थी।

Coronavirus Effects: Sonu Sood helps for job techie who lost her job during Covid pandemic KPY
Author
Mumbai, First Published Jul 28, 2020, 3:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन से लोग काफी प्रभावित हुए। ऐसे में लोगों की मदद में जुटे हुए हैं। सोनू सूद और उनकी टीम हर व्यक्ति तक मदद पहुंचाने की कोशिश कर रही है। हाल ही में आंध्र प्रदेश के एक गरीब किसान परिवार को ट्रैक्टर देकर मदद की थी। अब उन्होंने एक इंजीनियरिंग की एक युवती की मदद की है, जिसकी कोरोना वायरस के दौर में नौकरी चली गई थी और सब्जी बेचने को मजबूर हो गई थी।   

ट्विटर यूजर ने मांगी थी मदद

एक ट्विटर यूजर ने सोनू से ट्वीट करके मदद मांगी और कहा कि शारदा नाम की लड़की जो कि एक इंजिनियर है, उसकी जॉब लॉकडाउन में चली गई है। इसके बाद शारदा ने अपने परिवार की मदद के लिए सब्जियां बेचना शुरू कर दिया था। अब सोनू सूद ने ट्विटर पर जानकारी दी है कि जल्द ही शारदा दोबारा नौकरी करने लगेंगी। सोनू सूद ने ट्विटर पर लिखा, 'मेरे अधिकारी उनसे मिल चुके हैं। इंटरव्यू हो चुका है। उन्हें जॉब लेटर भेजा जा चुका है। जय हिंद।'

NBT

विदेश से छात्रों को घर लाने का सोनू सूद ने किया था इंतजाम 

बता दें, लॉकडाउन के दौरान हजारों प्रवासी मजदूरों को अपने खर्चे पर घर भेजने के बाद सोनू सूद ने हाल में किर्गिस्तान से भारतीय छात्रों को लाने के लिए चार्टर्ड फ्लाइट का इंतजाम किया था। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा था कि वह जॉर्जिया में फंसे 50 भारतीय छात्रों को वापस लाने का इंतजाम करेंगे। सुशांत लॉकडाउन में घायल हुए या मारे गए प्रवासी मजदूरों के घर का खर्च भी उठाएंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios