Asianet News Hindi

कंगना रनोट ने किया दावा, महाराष्ट्र सरकार ने दर्ज कराई नई FIR, शिवसेना को बताया पप्पू सेना

बॉलीवुड की कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन कही जाने वाली एक्ट्रेस कंगना रनोट ने शनिवार को दावा किया है कि महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार ने उनके खिलाफ एक नई प्राथमिकी दर्ज करवाई है। कंगना ने ये कहते हुए अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है कि राज्य सरकार शायद उनसे उबर ही नहीं पा रही है।

Kangana Ranaut Said maharastra government files FIR Against her And Called Pappu sena to Shivsena KPY
Author
Mumbai, First Published Oct 18, 2020, 10:19 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. बॉलीवुड की कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन कही जाने वाली एक्ट्रेस कंगना रनोट ने शनिवार को दावा किया है कि महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार ने उनके खिलाफ एक नई प्राथमिकी दर्ज करवाई है। कंगना ने ये कहते हुए अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है कि राज्य सरकार शायद उनसे उबर ही नहीं पा रही है। दरअसल, एक्ट्रेस ने नवरात्रि के मौके पर अपनी एक फोटो ट्विटर पर शेयर की। अपनी इस पोस्ट के जरिए कंगना ने राज्य सरकार पर तंज कसा। शिवसेना को बताया पप्पू सेना...  

अपने पोस्ट के कैप्शन में कंगना लिखती हैं, 'कौन-कौन नवरात्रि में उपवास रख रहा है? ये आज की सेलीब्रेशन की तस्वीरें हैं, क्योंकि मैंने खुद भी व्रत रखा हुआ है, इस बीच मेरे खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। महाराष्ट्र में पप्पू सेना मुझसे उबर ही नहीं पा रही है, मुझे इतना भी याद मत कीजिए। मैं वहां जल्द ही होऊंगी।'

 

कंगना के खिलाफ एफआईआर

वहीं, अधिकारियों ने शनिवार को कहा कि मुंबई की एक अदालत ने शहर की पुलिस को कंगना और उनकी बहन रंगोली चंदेल के खिलाफ शिकायत की जांच करने का आदेश दिया है। शिकायत में दोनों बहनों पर सांप्रदायिक घृणा और झूठ फैलाने का आरोप लगाया गया है। इसके साथ ही एक्ट्रेस के वकील रवीश एफ. जमींदार ने कहा कि 'बांद्रा कोर्ट ने कास्टिंग डायरेक्टर साहिल अशरफ सय्यद की शिकायत के बाद ही में कंगना और उनकी बहन के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं।'

कंगना पर लगे हैं ये आरोप

सैय्यद ने कंगना और उनकी बहन रंगोली पर कई बातों के आरोप लगाए हैं, जिनमें बॉलीवुड को बदनाम करना, अपने नेपोटिज्म के दावों से इंडस्ट्री में काम करने वाले लोगों का चित्रण बुरी तरह से करना, मादक पदार्थों का सेवन, सांप्रदायिक पूर्वाग्रह, विभिन्न समुदायों के कलाकारों के बीच दरार पैदा करने के प्रयास, धर्मों का अपमान और सोशल मीडिया पर व अपने सार्वजनिक बयानों के माध्यम से लोगों को हत्यारा करार देना शामिल है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios