मुंबई. कोरोना काल और लॉकडाउन के बीच सोनू सूद प्रवासियों के लिए किसी फरिश्ते से कम नहीं हैं। वो लोगों की मदद के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। लोग भी उनके काम की सराहना कर रहे हैं। सोनू सूद ने मुंबई में लॉकडाउन में फंसे हजारों प्रवासियों को उनके घर बस, ट्रेन के जरिए यूपी, बिहार, झारखंड सहित कई राज्यों में भिजवाया है। अब बस और ट्रेन के बाद उन्होंने कुछ प्रवासियों को फ्लाइट से उनके घर भिजवाया। 

उत्तराखंड के 180 प्रवासियों को भिजवाया घर

सोनू सूद ने मुंबई के लॉकडाउन में फंसे उत्तराखंड के 180 प्रवासियों को शुक्रवार की सुबह हवाई जहाज से उनके घर भिजवाया है। इन लोगों में प्रेग्नेंट महिलाएं, दिव्यांग और बुजुर्ग लोग शामिल थे। एक्टर ने इन लोगों से सोशल मीडिया पर उनकी #GharBhejo पहल के तहत संपर्क किया था। एयरपोर्ट पर प्रवासियों को घर भेजने का सोनू सूद का एक वीडियो वायरल हो गया।

 

लोगों को घर भेजना खुद की जिम्मेदारी मानते हैं सोनू सूद 

लोगों को घर भेजने को लेकर सोनू सूद ने कहा कि वो सच में बहुत खुश हैं कि लोग उनके पास पहुंच रहे हैं। उन्हें लगता है कि इन प्रवासियों को घर पहुंचाने में मदद करना उनकी व्यक्तिगत जिम्मेदारी है। उन्होंने इससे पहले भी कहा था कि वो जब तक हर एक प्रवासी मजदूरों को उसके घर नहीं पहुंचा देता तब तक वो रुकने वाले नहीं हैं। 

लोग कर रहे सोनू सूद की जमकर तारीफ 

सोनू सूद ने हाल ही में केरल के एर्नाकुलम में फंसी 177 लड़कियों को भी एयरलिफ्ट करवाकर उनके घर भेजा था। बता दें कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी सहित तमाम बड़े नेता सोनू सूद की तारीफ कर चुके हैं।