Asianet News Hindi

CBSC बोर्ड एग्जाम पर सस्पेंस खत्मः मई-जून के बीच होगी परीक्षा, 30 लाख स्टूडेंट होंगे शामिल

छात्रों को नव वर्ष की पूर्व संध्या पर शुभकामनाएं देते हुए शिक्षा मंत्री ने बताया कि, प्रैक्टिकल परीक्षाएं मार्च से शुरू होंगी। जून में परीक्षाएं खत्म होने के बाद कॉपी जांचने की प्रक्रिया शुरू होगी।  

cbse board exams 2021 will start from may to june education minister announced dates check date sheet here kpt
Author
New Delhi, First Published Dec 31, 2020, 6:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क.  सीबीएसई बोर्ड 2021 क्लास 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं (CBSE Board Exams 2021)  की तारीखें जारी कर दी गई हैं। जैसा कि संभावना थी मई से सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं शुरू होंगी। ये परीक्षाएं जून तक चलेंगी। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने 31 दिसंबर 2020 की शाम इनका ऐलान किया है। उन्होंने बताया कि बोर्ड परीक्षाएं ऑफलाइन यानि लिखित पैटर्न पर ही होंगी। 

छात्रों को नव वर्ष की पूर्व संध्या पर शुभकामनाएं देते हुए शिक्षा मंत्री ने बताया कि, सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 4 मई से 10 जून के बीच होंगी। परीक्षा का पूरा शेड्यूल (डेट शीट) जल्द ही जारी कर दिया जाएगा। इन परीक्षाओं में करीब 30 लाख स्टूडेंट्स शामिल होंगे।

प्रैक्टिकल परीक्षाएं 1 मार्च से शुरू होंगी। जून में परीक्षाएं खत्म होने के बाद कॉपी जांचने की प्रक्रिया शुरू होगी। बहरहाल, इससे छात्रों को तैयारी के लिए दो महीने का समय और मिल गया है।  

 

 

 

खत्म हुआ सस्पेंस

बीते कई दिनों से CBSE बोर्ड परीक्षाओं को लेकर सस्पेंस चल रहा था। फिलहाल बोर्ड ऑनलाइन परीक्षाओं के विकल्प पर विचार नहीं कर रहा है। कोरोना के चलते अटकलें थी कि परीक्षाएं ऑनलाइन हो सकती हैं। पर बोर्ड ने साफ कर दिया कि बोर्ड परीक्षाएं लिखित पैटर्न पर ही आधारित होंगी। ग्रामिण क्षेत्रों में नेट/मोबाइल आदि की कमी देखते हुए ये फैसला लिया है। 

बच्चों का साल खराब नहीं होने दिया

शिक्षा मंत्री बोले- कोरोना को देखते हुए 10वीं और 12वीं क्लास के सिलेबस करीब 30% कम किया गया है। सुरक्षा, सजगता के साथ हमने परीक्षा कराई है और उनका साल खराब होने से बचाया है। छात्रों ने भी जिस मनोबल से काम किया, यह अद्भुत उदाहरण है। हमारे देश में 33 करोड़ छात्र-छात्राएं हैं। यह अमेरिका की कुल आबादी से भी ज्यादा है।

CBSE के चेयरमैन लगातार परीक्षा के सिस्टम पर नजर रखे हुए हैं। छात्रों से उन्होंने कहा कि पूरा सिस्टम आपके साथ जुड़ा हुआ है। विदेशों में जो CBSE स्कूल चल रहे हैं, उन्हें भी चिंता करने की जरूरत नहीं है। ऐसे स्कूलों के लिए भी इंतजाम किए जा रहे हैं।

शिक्षा मंत्री ने दिया था आश्वासन

शिक्षा मंत्री ने एक ट्वीट कर सभी छात्रों को आश्वस्त किया था। उन्होंने गुरुवार को ट्वीट किया - “मैं अपने सभी विद्यार्थियों, अभिभावकों, शिक्षकों एवं संस्थानों को आश्वस्त करता हूं कि परीक्षाओं संबंधी सभी निर्णय आपके हित एवं उज्ज्वल भविष्य को ध्यान में रखकर ही लिए जाएंगे।”

बुधवार को केंद्रीय मंत्री ने कहा था कि, “छात्रों के माता-पिता और स्कूलों के सुझावों के आधार पर हम 31 दिसंबर को सीबीएसई परीक्षाओं से संबंधित तारीखों पर चर्चा करेंगे और बोर्ड परीक्षाओं पर चल रहा सस्पेंस खत्म हो जाएगा। हम भविष्य की परीक्षाओं के लिए तारीखों की घोषणा करने की कोशिश करेंगे। अभी हम ऑनलाइन परीक्षा के विकल्प पर विचार नहीं कर रहे हैं।”

आमतौर पर फरवरी-मार्च में होती रही हैं परीक्षा

पिछले दिनों हुए एक वेबिनार में शिक्षा मंत्री ने कहा था कि कोरोना के कारण इस बार बोर्ड परीक्षाएं फरवरी के महीने में नहीं हो पाएंगी। आमतौर पर सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं फरवरी या मार्च में होती हैं, लेकिन कोरोना के कारण परिस्थितियां काफी अलग हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios