Asianet News Hindi

इस राज्य में कक्षा 3 से 8 तक के छात्रों को नहीं देनी होगी कोई परीक्षा, पास होने के लिए ऐसे मिलेंगे नंबर

दिल्ली शिक्षा निदेशालय ने एकेडमिक सेशन 2020-21 के लिए असेसमेंट की नई गाइडलाइंस जारी की हैं। इन गाइडलाइंस के अंतर्गत ही परीक्षाएं न कराने का निर्णय लिया गया। परीक्षाओं की जगह स्टूडेंट्स को विभिन प्रोजेक्ट्स आदि के आधार पर जज किया जाएगा।

delhi directorate of education said no offline exams for class 3 to 8 students board exams 2021 kpt
Author
New Delhi, First Published Feb 26, 2021, 12:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. No Exams For Class three To 8th: कोरोना महामारी के बीच न्यू नॉर्मल की बातों को नकारते हुए दिल्ली में स्कूली छात्रों को बड़ी राहत मिली है। बच्चों की सुरक्षा को महत्व देते हुए दिल्ली शिक्षा निदेशालय ने एक बड़ी घोषणा करते हुए स्टूडेंट्स को राहत पहुंचायी है। दिल्ली के कक्षा तीन से आठ तक के स्टूडेंट्स की ऑफलाइन परीक्षाएं नहीं होंगी।

दिल्ली शिक्षा निदेशालय ने एकेडमिक सेशन 2020-21 के लिए असेसमेंट की नई गाइडलाइंस जारी की हैं। इन गाइडलाइंस के अंतर्गत ही परीक्षाएं न कराने का निर्णय लिया गया। परीक्षाओं की जगह स्टूडेंट्स को विभिन प्रोजेक्ट्स आदि के आधार पर जज किया जाएगा।

स्कूलों में लिखित परीक्षा की जगह असाइनमेंट से छात्रों का मूल्यांकन किया जाएगा। क्लास 3 से 8 तक के स्टूडेंट्स को वर्कशीट्स और असाइनमेंट्स के आधार पर अंक मिलेंगे। जिन बच्चों के असाइनमेंट में अच्छा परफॉर्म किया होगा उन्हें अच्छे नंबर मिलेंगे। हालांकि किसी छात्र को फेल नहीं किया जाएगा।

जिनके पास नहीं है डिजिटल एक्सेस -

निदेशालय ने यह भी साफ किया है कि वे स्टूडेंट्स जिनके पास डिजिटल एक्सेस नहीं है यानी इंटरनेट, कंप्यूटप, लैपटॉप आदि की व्यवस्था नहीं है, उन्हें परेशान नहीं होना है। ऐसे स्टूडेंट्स अपने पैरेंट्स के हाथ हार्डकॉपी के फॉर्म में असाइनमेंट्स और वर्कशीट्स जमा कर सकते हैं। यहां भी स्टूडेंट्स को इस काम के लिए हाजिर नहीं होना है। उनकी जगह उनके माता-पिता सभी कोविड गाइडलाइंस का पालन करते हुए स्कूल जाकर उनका असाइनमेंट सबमिट कर सकते हैं।

कक्षा 9 और 11 के छात्रों का क्या?

दिल्ली सरकार ने अभी क्लास 9 और 11 के लिए अभी किसी प्रकार का नोटिस जारी नहीं किया गया है। दरअसल इस साल कोरोना के कारण क्लासेस जैसे संचालित होनी थी, वैसे नहीं हो पाईं और पढ़ाई का भी अच्छा नुकसान हुआ। इन बिंदुओं पर विचार करते हुए सरकार ने परीक्षा की जगह असेसमेंट कराने का फैसला लिया है। यह निर्णय दिल्ली के सभी स्कूलों पर लागू होगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios