Asianet News HindiAsianet News Hindi

बेटियों को पढ़ाने के लिए रोज 12 किलोमीटर दूर जाता है ये पिता, सोशल मीडिया पर हो रही तारीफ

अफगानिस्तान के पक्तिका प्रांत में रहने वाले मिया खान ने इन दिनों सोशल मीडिया पर कई लोगों का दिल जीत लिया यह कहानी अफगानिस्तान के पक्तिका प्रांत में रहने वाले मिया खान की है जो इसलिए इतनी मेहनत करने की कोशिश में लगा हुआ है कि उसकी बेटियों को अच्छी शिक्षा मिले

This father travels 12 kilometers daily to teach daughters
Author
New Delhi, First Published Dec 5, 2019, 9:24 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: अफगानिस्तान के पक्तिका प्रांत में रहने वाले मिया खान ने इन दिनों सोशल मीडिया पर कई लोगों का दिल जीत लिया। यह कहानी अफगानिस्तान के पक्तिका प्रांत में रहने वाले मिया खान की है जो इसलिए इतनी मेहनत करने की कोशिश में लगा हुआ है कि उसकी बेटियों को अच्छी शिक्षा मिले। अफगानिस्तान में काम कर रही एक एनजीओ स्वीडिश कमिटी ने अपने फेसबुक पेज पर मिया खान की कहानी को कुछ तस्वीरों के साथ शेयर किया है। अब, मिया खान की यह कहानी अलग अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर की जा रही है और लोग इसे काफी पसंद कर रहे हैं। 

स्वीडिश कमिटी फॉर अफगानिस्तान ने अपनी इस पोस्ट की पहली लाइन में लिखा, ''एक पिता जो अपनी बेटियों की शिक्षा को अपनी जिम्मेदारी मानता है'' मिया खान जो अपनी बेटियों को स्कूल ले जाने के लिए रोज 12 किलोमीटर का सफर बाइक से तय करते हैं और उसके बाद उनका स्कूल खत्म होने तक का इंतजार करते हैं ताकि वो उन्हें वापस घर ले जा सके। यह अब उनकी दिनचर्या का हिस्सा बन गया है। 

इस पोस्ट के साथ एनजीओ ने एक ब्लॉग का लिंक भी शेयर किया है, जिसमें बताया गया है कि मिया खान की 3 बेटियां हैं और वह चाहता है कि तीनों को उसके बेटों की तरह अच्छी शिक्षा मिले। ब्लॉग के मुताबिक, मिया खान ने कहा, "मैं अनपढ़ हूं और मैं दिहाड़ी पर अपना वक्‍त बिता रहा हूं लेकिन मेरी बेटियों का शिक्षित होना मेरे लिए बहुत जरूरी है क्योंकि हमारे इलाके में कोई भी महिला चिकित्सक नहीं है। बेटों की तरह अपनी बेटियों को शिक्षित करना मेरा सबसे बड़ा सपना है।" 

ब्लॉग में मिया खान की एक बेटी रोजी ने बताया, "मैं 6ठी कक्षा में हूं और बहुत खुश हूं क्योंकि मैं पढ़ाई कर रही हूं। मेरे पापा और भाई हमें मोटरसाइकिल पर रोज स्कूल लाते हैं और जब हमारी क्लास खत्म होती है तो हमें घर ले जाते हैं।" 

अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लोग इस पिता की प्रशंसा कर रहे हैं। किसी ने इसे हीरो बताया तो किसी ने एक प्यार करने वाला पिता बताया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios