Asianet News HindiAsianet News Hindi

पत्नी को भी कराना चाहता था समुद्र का खूबसूरत सफर, अचानक आ धमके खूंखार समुद्री लुटेरे

3 दिसंबर की रात नाइजीरिया के बोन्नी ऑफशोर टर्मिनल से नाइजीरियन लुटेरों द्वारा किडनैप किए गए 19 लोगों के बारे में एक नई खबर सामने आई है। इनमें एक कपल रायपुर का भी था।

Case related to Kidnaiss of Vijay Tiwari and Anju Tiwari, Chief Engineer of Merchant Navy, Raipur kpa
Author
Raipur, First Published Dec 23, 2019, 4:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रायपुर, छत्तीसगढ़. 3 दिसंबर की रात नाइजीरिया के बोन्नी ऑफशोर टर्मिनल से किडनैप किए गए रायपुर के विजय तिवारी और उनकी पत्नी अंजू तिवारी को समुद्री लुटेरों ने रिहा कर दिया है। विजय तिवारी मर्चेंट नेवी में चीफ इंजीनियर हैं। समुद्री लुटेरों ने एंग्लो ईस्टर्न शिप मैनेजमेंट कंपनी के जहाज पर सवार 19 लोगों को किडनैप कर लिया था। इसमें से 10 भारतीय थे।

जब यह घटना हुई, तब विजय की मां के दिल का ऑपरेशन हुआ था। लिहाज उन्हें बहुत बाद में इसकी खबर दी गई। हालांकि कंपनी के एक अफसर विनीत गुप्ता ने अगले ही दिन यानी 4 दिसंबर को उनके परिजनों को इस बारे में बता दिया था।

Case related to Kidnaiss of Vijay Tiwari and Anju Tiwari, Chief Engineer of Merchant Navy, Raipur kpa

मोटी रकम लेकर छोड़ा...
बताया जाता है कि समुद्री लुटेरों ने सभी को रिहा करने के एवज में मोटी रकम वसूली है। इस घटना को लेकर अंतरराष्ट्रीय दवाब भी बनाया गया था। अमेरिका के काउंसलेट जनरल से छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने बता करके दखल देने को कहा था। अंजू के भाई जय प्रकाश ने यूनाइटेड नेशन (यूएन) से मदद मांगी थी। बताते हैं कि तिवारी दम्पती 23 दिसंबर तक मुंबई पहुंचेंगे। विजय के परिजनों ने बताया कि वो चार महीने के लिए जहाज पर जा रहे थे, लिहाज अपने साथ पत्नी को भी ले गए। इसी दौरान यह घटना हो गई। सभी के रिहा होने पर परिजनों ने खुशी जाहिर की है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios