Asianet News HindiAsianet News Hindi

छत्तीसगढ़ में लखीमपुर जैसी घटना: तेज रफ्तार कार ने सड़क पर चल रही भीड़ को रौंदा, एक की मौत, 26 घायल

हादसा शुक्रवार दोपहर दो बजे के आसपास हुआ। उस वक्त पत्थलगांव में 7 दुर्गा पंडालों की मूर्ति को विसर्जन करने के लिए लोग नदी में ले जा रहे थे कि अचानक आई तेज रफ्तार कार ने विसर्जन करने जा रही भीड़ को रौंद दिया।

chhattisgarh a car 25 people crushed one dead, 24 injured in jashpur
Author
Jashpur, First Published Oct 15, 2021, 5:16 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जशपुर : छत्तीसगढ़ (chhatisgarh) के जशपुर (jashpur) जिले में लखीमपुर खीरी (lakhimpur kheri) जैसी वारदात हुई है। दुर्गा विसर्जन करने जा रहे लोगों को तेज रफ्तार से आ रही कार ने कुचल दिया। इस दुर्घटना में एक की मौत हो गई, जबकि दर्जनभर से ज्यादा लोग घायल हो गए। हादसे के बाद का पूरे इलाके में तनाव की स्थिति हो गई। गुस्साए लोगों ने गाड़ी में आग लगा दी और गाड़ी चलाने वाले ड्राइवर की जमकर पिटाई की। घटना पत्थलगांव की है। 7 दुर्गा पंडालों की मूर्ति को विसर्जन करने के लिए लोग जा रहे थे कि अचानक आई तेज रफ्तार कार ने विसर्जन करने जा रही भीड़ को रौंद दिया। इसके बाद अफरा-तफरी मच गई। 

दिल दहलाने वाला वीडियो
इस घटना का दिल दहलाने वाला वीडियो सामने आया है। दुर्गा माता विसर्जन के लिए लोग भजन गाते जा रहे थे। तभी अचानक पीछे से लाल रंग की एक तेज रफ्तार कार मौके पर आती है और लोगों को कुचलते हुए आगे निकल जाती है। लोग कुछ समझ पाते उससे पहले ही सब कुछ खत्म हो चुका था।

 

नेशनल हाइवे जाम
घटना के बाद लोगों में काफी नाराजगी है। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि कार की स्पीड लगभग 100 से 120 की रही होगी और उसने सीधे लोगों को ठोकर मार दी है। लोगों ने घटना के विरोध में पत्थलगांव थाने का घेराव कर दिया। इसके अलावा गुमला-कटनी नेशनल हाइवे को मृतक का शव रखकर चक्काजाम कर दिया है। उनकी मांग है कि दोषी पर जल्द से जल्द कार्रवाई हो। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है। लोगों ने एक ASI पर गांजा तस्करी कराने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि आरोपी इस ASI के साथ मिलकर ही गांजा तस्करी करने की फिराक में था। इसलिए हम ASI के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग करते हैं। लोगों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। जिसके बाद ASI को निलंबित कर दिया गया है।

शांति बनाए रखने की अपील
घटना पर दुख जताते हुए कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने कहा कि पहली प्राथमिकता घायलों के इलाज की है। उन्होंने लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई जरूर की जाएगी। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बड़ी मुश्किल से आरोपी को भीड़ से छुड़ाया है। आरोपी को भीड़ से बचाने पुलिस उसे रायगढ़ जिले के कापू थाना लेकर गई है।

कौन हैं आरोपी
दोनों आरोपी मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं। एक का नाम बबलू विश्वकर्मा, जिसकी उम्र 21 साल है। यह सिंगरौली के बैढ़न का रहने वाला है। दूसरे आरोपी का नाम शिशुपाल साहू है, जिसकी उम्र 26 साल बताई जा रही है। वह सिंगरौली के बरगवां का रहने वाला है। दोनों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

मुआवजे की मांग
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने घटना पर दुख जताते हुए एसपी को तत्काल हटाए जाने की मांग की है। उन्होंने मृतकों के परिजनों के लिए 50-50 लाख रुपये मुआवजे की भी मांग की है। उन्होंने कहा कि घायलों की इलाज की उचित व्यवस्था होनी चाहिए। राज्य के गृहमंत्री को इस हादसे की जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

 

मुख्यमंत्री ने जताया दुख
वहीं, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (bhupesh baghel) ने घटना को दुखद और हृदयविदारक बताया है। उन्होंने जानकारी दी कि दोषियों को तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रथम दृष्टया दोषी दिख रहे पुलिस अधिकारियों पर भी कार्रवाई हुई है। जांच के आदेश दिए गए हैं। कोई भी बख्शा नहीं जाएगा।

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios