रायपुर. महाराष्ट्र में जिस तरह से कोरोना आउट ऑफ कंट्रोल होता जा रहा है, उसी तरह छत्तीसगढ़ में भी महामारी कहर बरपाने लगी है। यहां शहरों से लेकर गांव तक के हालात खराब हो चुके हैं। रोज नए-नए आंकड़े रिकॉर्ड बना रहे हैं। राज्य के बिगड़ते हालात को देखते हुए प्रदेश सरकार ने  राजधानी रायपुर में 10 दिन का टोटल  लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। जो 9 अप्रैल शाम 6 बजे से 19 अप्रैल तक रात 10 बजे तक लागू रहेगा।

पहली राजधानी जिसमें लगा इतना लंबा लॉकडाउन
दरअसल, राजधानी रायपुर में रोज संक्रमित मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में यहां  2 हजार 821 मामले सामने आए हैं। वहीं इस खतरनाक वायरस से 26 लोगों की जान चली गई। जिसके बाद राज्य सरकार ने बुधवार को 10 दिन का लॉकडाउन लगाने का फैसला किया। बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर में रायपुर ऐसी पहली राजधानी है जहां राज्य सरकार को इतना लंबा लॉकडाउन लगाना पड़ा है।

सभी सीमाएं सील, सिर्फ इमरजेंसी सेवा चालू
कलेक्टर एस भारती दासन ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि इस दौरान जिले की सभी सीमाएं सील रहेंगी। सिफ दूध वितरण के लिए समय निर्धारित किया गया है। शराब दुकानें, पर्यटन स्थल, शासकीय एवं निजी कार्यालय पूरी तरह से बंद रहेंगे। सरकार से अनुमति प्राप्त परीक्षाओं को छोड़कर बाकी अन्य परीक्षाए स्थगित रहेंगी। सभी तरह के निजी एंव सरकारी संस्थान भी बंद रहेंगे।

सीएम ने कहा-हालात चिंताजनक है, लेकिन कामयाबी मिलेगी
सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि वर्तमान समय में कोरोना संक्रमण में तेजी आई है जो चिंताजनक है। इसलिए लोगों से अपील करता हूं की वह नियमों का पालन करें और मास्क के साथ दो गज की दूरी दूसरे से बनाकर रखें। अब इस मुश्किल दौर में हम सब एकजुटता से पुनः कोरोना के खिलाफ यह लड़ाई लड़ेंगे। पिछले समय भी सभी प्रदेशवासियों एवं सामाजिक संगठनों ने एक दूसरे का साथ दिया था। हम सबको सभी नियमों का पालन करना भी है और अन्य लोगों से करवाना भी है। हम सब इस लड़ाई को मिलकर लड़ेंगे और जीतेंगे।

राज्य की हालात भयावह दौर में पहुंचे
बता दें कि छत्तीसगढ़ अब  सबसे भयावह दौर में पहुंच गया है। राज्य में अप्रैल के पहले 6 दिनों में 37 हजार मरीज मिल चुके हैं। औसतन 6 हजार से अधिक नए पॉजिटिव रोज मिल रहे हैं। मंगलवार को राज्य में रिकॉर्ड 9,921 केस मिले और 53 मौतें हुई हैं। राजधानी में 1,001 व प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 4,400 पार कर गई।

लॉकडाउन में क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद
- अगर आपको रायपुर में प्रवेश करना है तो इसके लिए ई-पास दिखाना होगा, जिसके माध्यम से ही एंट्री मिलेगी।
- कलेक्टर गाइडलाइन के मुताबिक, सिर्फ कोरोना टीकाकरण लगवाने वाले व्यक्तियों को ही छूट दी जाएगी।
- सभी तरह की धार्मिक संस्थाएं बंद रहेंगी, कोई सामाजिक या निजी समारोह नहीं आयोजित होगा।
- इतना ही नहीं शहर की सभी शराब की दुकानें पूण रुप से बंद रहेंगी।
- इमरजेंसी सेवाओं में लगे में चार पहिया वाहन और अधिकतम तीन लोगों को अनुमति मिलेगी।
- मीडिया कर्मी  घर से ही काम करेंगे। अतिरिक्त गंभीर स्थिति में दफ्तर आने पर आईडी कार्ड दिखाना अनिवार्य होगा।
- केवल दूध, पेट्रोल पंप और मेडिकल सेवाएं ही होंगी संचालित।
- बेवजह घूमने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही उनके वाहन जब्त कर लिए जाएंगे।  
- रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट के लिए टैक्सी सेवाए चालू रहेगी।