Asianet News HindiAsianet News Hindi

Chhattisgarh Urban Body Polls: नगरीय निकाय चुनाव की तारीखों का ऐलान, 20 दिसंबर को वोटिंग, 23 को नतीजे आएंगे

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में 10 जिलों के 15 नगरीय निकायों में चुनाव (Municipal Elections 2021) की तारीखों का ऐलान हो गया है। बुधवार को राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने बताया कि 20 दिसंबर को सुबह 8 से शाम 5 बजे तक मतदान होगा। इसके बाद 23 दिसंबर को परिणाम जारी कर दिए जाएंगे। प्रदेश में आचार संहिता लागू कर दी गई है।
 

Chhattisgarh Urban Body Polls 2021 Announcement dates voting on December 20 and results declared on 23 Dec UDT
Author
Raipur, First Published Nov 24, 2021, 3:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रायपुर। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में 10 जिलों के 15 नगरीय निकायों में बुधवार को चुनाव (Municipal Elections 2021) की तारीखों का ऐलान हो गया है। चुनाव आयोग ने प्रेस कॉफ्रेंस कर कहा कि 20 दिसंबर को वोटिंग और 23 दिसंबर को मतगणना होगी। चुनाव की अधिसूचना 27 नवंबर को जारी होगी। इसी दिन जिला स्तर पर चुनाव की अधिसूचना जारी होगी। प्रदेश में आचार संहिता लागू कर दी गई है।

राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने निर्वाचन भवन सेक्टर 19 नार्थ ब्लॉक नवा रायपुर अटल नगर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और चुनाव (Urban Body Polls 2021) की तारीखों का ऐलान किया। सिंह ने बताया कि 27 नवंबर को ही मतदान केंद्र की सूची का प्रकाशन होगा। इसके बाद 27 नवंबर से नामांकन शुरू होगा। नामांकन की अंतिम तिथि 3 दिसंबर है। 4 दिसम्बंर को नामांकन पत्रों की जांच होगी। इसके बाद नाम वापस लेने की अंतिम तिथि 6 दिसंबर है। प्रत्याशियों की अंतिम सूची और चुनाव चिह्ल का आवंटन 6 दिसंबर को होगा। इसके बाद 20 दिसंबर को सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान होंगे। 23 दिसंबर को नतीजे आएंगे।

इन निकायों में चुनाव होंगे...
10 जिलों के 15 नगरीय निकायों में आम चुनाव होंगे, इनमें से चार नगर पालिक निगमों- बीरगांव, भिलाई, भिलाई-चरोदा और रिसाली शामिल है। पांच नगर पालिका परिषदों में सारंगढ़, बैकुंठपुर, शिवपुर चर्चा, जामुल, खैरागढ़, छह नगर पंचायतों -प्रेमनगर, मारो, नरहरपुर, कोंटा, भैरमगढ़ और भोपालपट्टनम में चुनाव होंगे।

कोरोना पॉजिटिव भी चुनाव लड़ेंगे
निर्वाचन आयुक्त ने मंगलवार की बैठक में कोरोना प्रोटोकॉल से जुड़ी बातों पर भी चर्चा की। इस बैठक में चुनाव वाले 10 जिलों के अधिकारियों भी मौजूद थे। चुनाव आयोग ने कहा है कि कि कोई चुनाव लड़ने या मतदान से वंचित न हो, इसके लिए कोरोना पॉजिटिव को भी चुनाव लड़ने का अवसर दिया जा रहा है। कोविड को लेकर स्वास्थ्य विभाग को अलग एसओपी बनाने को कहा है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव से खास तौर पर इस संबंध में चर्चा की। सभी कलेक्टरों को निर्देश दिया कि नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने से लेकर मतगणना तक कोविड गाइडलाइन का कड़ाई से पालन कराया जाए।

इसलिए बेहद महत्वपूर्ण माने जा रहे ये चुनाव
छत्तीसगढ़ के अधिकांश शहरों में स्थानीय निकायों के लिए 2019 में ही आम चुनाव कराए गए थे, लेकिन कुछ निकायों का कार्यकाल पूरा नहीं होने की वजह से उनका चुनाव नहीं हो पाया था। कुछ नए निकायों में पहली बार चुनाव होने जा रहा है। ऐसे में राजनीतिक दलों के लिए यह चुनाव बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

चुनावी तैयारियों का लिया फीडबैक
बैठक में राज्य निर्वाचन आयुक्त सिंह ने निर्देश दिए कि मतगणना स्थल की सुरक्षा व्यवस्था, स्ट्रांग रूम, मतपेटियां, मतदान सामग्री, मतपत्र कहां रखे जाने हैं, इसका जायजा खुद कलेक्टर और एसपी मौके पर जाकर लेंगे। साथ ही संवेदनशील केंद्रों का विशेष ध्यान देंगे। दरअसल, तैयारियों को लेकर इससे पहले उप जिला निर्वाचन अधिकारियों की एक बैठक 12 नवंबर को रखी गई थी, जिनमें चार जिलों की अधूरी तैयारियां पाई गई थीं। 17 नवंबर तक कमियां दूर करने कहा गया था, लेकिन इसके बाद भी तीन जिलों में फिर से कमियां मिलीं।

कांग्रेस सरकारें आमने-सामने: छत्तीसगढ़ ने रोका राजस्थान का कोयला, गहलोत की टेंशन बढ़ी, सिर्फ दिसंबर तक स्टॉक

छत्तीसगढ़: CM बघेल ने डीजल पर 2%, पेट्रोल पर 1% वैट घटाया, मंत्री ने UP को पड़ोसी राज्य मानने से इंकार किया

ये हैं छत्तीसगढ़ के CM के पिता: जिन्होंने पानी में किया चौंकाने वाला योग, जल में ही PM Modi से की यह मांग

Rajasthan: CM गहलोत के सलाहकार मीणा बोले, पायलट के नेतृत्व में बुरी तरह हारेगी कांग्रेस, जानिए और क्या बोले...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios