छत्तीसगढ़ से गायब महिला बैंकर की उड़ीसा में मिली अधजली लाश, ब्वॉयफ्रेंड ने इस वजह से दी थी दर्दनाक मौत

| Dec 02 2022, 08:27 AM IST

छत्तीसगढ़ से गायब महिला बैंकर की उड़ीसा में मिली अधजली लाश, ब्वॉयफ्रेंड ने इस वजह से दी थी दर्दनाक मौत

सार

रायपुर में एक निजी बैंक में कार्यरत महिला कर्मचारी की ओडिशा में बेरहमी से हत्‍या कर दी गई और हत्‍यारे ने पहचान छिपाने के लिए जंगल में शव को पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर दिया।

रायपुर(Chhattisgarh).  छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में महिला बैंकर की हत्‍या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक रायपुर में एक निजी बैंक में कार्यरत महिला कर्मचारी की ओडिशा में बेरहमी से हत्‍या कर दी गई और हत्‍यारे ने पहचान छिपाने के लिए जंगल में शव को पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर दिया। हालांकि मामला सामने आने के बाद पुलिस ने ओडिशा के जंगल से युवती के अधजले शव को बरामद किया है। पुलिस ने इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपित हार्डवेयर व्यवसायी को भी गिरफ्तार कर लिया है।

इस कहानी की शुरुआत तीन साल पहले हुई। कोरबा निवासी तनु कुर्रे (26) तीन वर्ष पहले रायपुर आई थी। यहां पर वह शंकर नगर के एक पीजी में रहकर मोवा स्थित एक्सिस बैंक में नौकरी कर रही थी। इस दौरान 2019 में उसकी मुलाकात बैंक में आने वाले बलांगीर ओडिशा निवासी कारोबारी सचिन अग्रवाल से हुई थी। धीरे-धीरे दोनों में दोस्ती हुई और फिर एक दूसरे को दोनों पसंद करने लगे। तीन साल तक दोनों में मिलना जुलना होता रहा। इसकी जानकारी तनु ने कोरबा में अपने परिजनों को भी दी थी।

Subscribe to get breaking news alerts

19 नवंबर को परिजनों से मिलाने ले गया बालांगीर
19 नवंबर को सचिन रायपुर आया और अपने स्वजनों से मिलाने के नाम पर तनु को अपने साथ बलांगीर ले गया। इधर तनु के परिजनों ने 21 नवंबर को उसे फोन किया तो उसका फोन बंद आया। इसके बाद परिजन उसी दिन कोरबा से रायपुर आए। यहां पर उसके शंकर नगर किराए के मकान पर खोजबीन की। काफी खोजबीन के बाद भी जब तनु का कोई पता नहीं चला तो इसकी शिकायत 22 नवंबर को मोवा थाने में की गई। जिसके बाद पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की।

24 नवंबर को जंगल मे मिला शव, 5 दिन बाद शिनाख्त

बैंक कर्मचारी तनु के परिजनो ने पूछताछ के दौरान तनु के ब्वॉयफ्रेंड सचिन अग्रवाल के बारे में पुलिस को जानकारी दी थी। सचिन का जब कोई पता नहीं चला तो पुलिस की शक की सुई उसकी ओर घूम गई। इधर बालाकोट पुलिस ने 24 नवंबर को जंगल में युवती  का अधजला शव बरामद किया। जिसके बाद मोवा पुलिस के साथ पहुंचे परिजनों ने 29 नवंबर को उसकी शिनाख्त किया।

ट्रेन से कलकत्ता भागने की फिराक में था आरोपी
रायपुर पुलिस और तुराइकेला थाना बलांगीर ओडिशा पुलिस टीम ने हत्यारे सचिन अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया है। वह घटना को अंजाम देने के बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए कोलकाता भागते समय समलेश्वरी एक्सप्रेस से पकड़ा गया। आरोपित बलांगीर में हार्डवेयर कारोबारी है। इधर पुलिस आरापित को घटना स्थल लेकर गई है। पुलिस घटना में प्रयुक्त कार और पिस्टल बरामद करने में लगी है।

ऐसे दिया घटना को अंजाम
आरोपित सचिन  अग्रवाल19 नवंबर को रायपुर आया था। यहां पर उसने तनु कुर्रे के साथ मैग्नेटों माल में फिल्म देखी। इसके बाद दोनों शंकर नगर आए और 21 नवंबर की शाम लगभग चार बजे वह ओडिशा के लिए डस्टर कार से निकला। उसके साथ तनु भी थी। फिल्म देखकर बाहर निकलने के बाद दोनों के बीच किसी बात पर विवाद हुआ था। इस बात से आरोपित काफी गुस्से में था और 21 नवंबर को तनु को अपने साथ शादी करने का वादा कर बलांगीर ले गया। वहां तुराइकेला के जंगल मे फिर से दोनों में विवाद हुआ। सचिन ने गुस्से में युवती की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस को आरोपित ने बताया कि उसने तनु को तीन गोली मारी। हत्या के बाद पकड़े जाने के डर से आरोपी ने पेट्रोल और अन्य केमिकल डालकर शव को जला दिया और फिर फरार हो गया था।

नशे का लती था आरोपित सचिन
आरोपित के फोन से पुलिस को कुछ फोटो ग्राफ मिले हैं। इसमें वह एंजेक्शन से ड्रग्स लेते दिख रहा है। यह भी जानकारी हाथ लगी है कि वह युवती से आए दिन झगड़ा भी करता था।