Asianet News HindiAsianet News Hindi

यह हैं चिल्लरवाली मेम, मोहल्लेवालों ने 2 से 10 रुपए का चंदा देकर कहा, जी ले अपनी जिंदगी

छत्तीसगढ़ के जशपुर और कोरबा में निकाय चुनाव के लिए नामांकन फॉर्म खरीदने पहुंचे दो उम्मीदवार थैले में चिल्लर भरकर पहुंचे। यह देखकर अफसर उनका मुंह तांकते रह गए।

Interesting case of urban body elections in Chhattisgarh Jashpur and korba
Author
Jashpur, First Published Dec 3, 2019, 4:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जशपुर/कोरबा(छत्तीसगढ़). चिल्लर ही जुड़कर बड़ा नोट बनती है! यह कहना महज मजाक नहीं हो सकता। एक महिला निकाय चुनाव में अपनी किस्मत आजमाना चाहता थी। उसके पास पैसे नहीं थे। दुकानदारों और ठेलेवालों ने 2 से 10 रुपए तक की मदद की। महिला यह चिल्लर लेकर नामांकन फार्म खरीदने पहुंची। हालांकि रेजगारी देखकर अफसरों का जरूर सिर चकरा गया।

कहते हैं कि इलेक्शन में पैसा पानी की तरह बहाया जाता है। लेकिन यहां मामला थोड़ा अलग है। यह  हैं कोरबा जिले के रहने वालीं पूजा शर्मा। पूजा निगम वार्ड-3 की सामान्य सीट से पार्षद का इलेक्शन लड़ने जा रही हैं। उसकी आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वो हजार-दो हजार रुपए भी खर्च कर सके। लेकिन जहां चाह, वहां राह। महिला ने मोहल्लेवालों से मदद मांगी। सबने 2 से 10 रुपए तक उसकी मदद की। इन पैसों से महिला ने चुनाव लड़ने के लिए नामांकन फार्म खरीदा है। पूजा ने कहा कि लोगों ने उनकी मदद की है, अब वे चुनाव जीतकर अपने वार्ड के लिए काम करेंगी।

Interesting case of urban body elections in Chhattisgarh Jashpur and korba
पूजा की तरह सत्येंद्र पाठक भी 3000 रुपए की चिल्लर लेकर नामांकन फॉर्म खरीदने पहुंचे। वे जशपुर के वार्ड-2 से पार्षद का चुनाव लड़ने जा रहे हैं। सत्येंद्र अपने वार्ड में एक छोटी-सी दुकान चलाते हैं। उन्होंने यह रकम आसपास के दुकानदारों और ठेलेवालों की मदद से जुटाई। सत्येंद्र समय-समय पर समाजसेवा भी करते हैं। रक्तदान, लावारिस जानवरों की मदद आदि में वे सक्रिय रहते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios