Asianet News Hindi

सड़क पर पड़ी थी 7 महीने की गर्भवती, फूट-फूटकर रो रहा था पास खड़ा 'शैतान' पति

छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में 14 अक्टूबर को सुनसान रोड पर 25 साल की महिला की लाश पड़ी होने की खबर ने सनसनी फैला दी थी। इसे दुर्घटना माना जा रहा था। हालांकि पुलिस के एक शक ने पति के षड्यंत्र की कलई खोल दी। जानिए पूरा मामला..

Sensational case of marriage and murder after rape in Balrampur, Chhattisgarh
Author
Balrampur, First Published Oct 23, 2019, 2:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बलरामपुर. पत्नी से पीछा छुड़ाने एक पति ने खौफनाक साजिश रची। लेकिन कहते हैं कि अपराध कितना भी बड़ा क्यों न हो, कितनी ही सफाई से क्यों न किया गया हो, पुलिस के लिए कोई न कोई सबूत जरूर छोड़ जाता है। यही इस मामले में हुआ। 14 अक्टूबर को बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के चांदो थानांतर्गत करचा गांव की रहने वाली कीर्ति सोनवानी(25) की सड़क पर लाश पड़ी मिली थी। कीर्ति 7 महीने की गर्भवती थी। उसके सिर पर चोट के गहरे निशान थे। कीर्ति अपने पति आशीष के साथ बलरामपुर में किराए से रहती थी। आशीष ने बताया था कि वो कीर्ति को उसके मायके छोड़ने जा रहा था। रास्ते में उसका एक्सीडेंट हो गया। लेकिन रास्ते में मिले सबूत कुछ और कहानी कह रहे थे।

रेप के बाद दबाव में की थी शादी...
पुलिस की जांच में सामने आया कि आशीष ने कीर्ति से रेप किया था। इसके बाद दबाव में आकर उसने 7 महीने पहले ही कीर्ति से मंदिर में जाकर शादी की थी। दोनों पहले से ही एक-दूसरे से प्रेम करते थे। आशीष ने बताया था कि कीर्ति बाइक से गिर पड़ी थी। लेकिन जब पड़ताल की गई, तो सामने आया कि आशीष ने कीर्ति से पीछा छुड़ाने ही उसे बाइक से गिराया था। फिर सिर पर कई बार बाइक चढ़ाई। बलरामपुर एएसपी प्रशांत कतलम ने बताया कि पुलिस को पहले ही दिन से आशीष पर शक था। उसने घटनास्थल पर ऐसा सीन क्रियेट किया था, ताकि पुलिस को लगे कि वाकई महिला दुर्घटना का शिकार हुई। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। उसे जेल भेज दिया गया है। जांच में सामने आया है कि आरोपी ने दबाव में यह शादी की थी। क्योंकि प्रेमिका ने चेतावनी दी थी कि अगर वो उससे शादी नहीं करेगा, तो वो जेल करा देगी।


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios