Asianet News Hindi

वोट न देने की सजा, पंच के गले में डाली जूतों की माला..गांव में निकाला जुलूस और भीड़ बजा रही थी नगाड़ा..

यह शर्मनाक फोटो छत्तीसगढ़ के जशपुर का है। पंचायत चुनाव में अपनी हार से बौखलाए उप सरपंच के प्रत्याशी ने गांववालों को भड़का कर पंच को दिलाई सजा।

Shameful punishment given to a young man after the election in Jashpur kpa
Author
Jashpur, First Published Feb 26, 2020, 2:42 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जशपुर, छत्तीसगढ़. यह शर्मनाक तस्वीर जशपुर जिले के कांसाबेल विकासखंड के साजापानी पंचायत की है। यहां गांववालों ने एक पंच को ही सरेआम तालिबानी तरीके से सजा दे दी। पंच ने पंचायत चुनाव में आरोपी एक उप सरपंच के प्रत्याशी को अपना वोट नहीं दिया था। इस हार के बाद उप सरपंच गुस्से में बैठा था। उसने गांववालों को पंच के खिलाफ भड़काया और फिर सरेआम प्रताड़ित कराया। उसे जूते की माला पहनाई और फिर गांवभर में जुलूस निकाला। पीछे-पीछे आदमी-औरत और बच्चे नगाड़ा बजाते हुए चल रहे थे। आधे रास्ते में पंच चप्पल की माला पकड़े जाते दिखाई दिया। इसका किसी ने फोटो सोशल मीडिया पर वायरल किया था।


डरके मारे राजीनामा....
यह मामला कांसाबेल थाने पहुंचा..लेकिन पीड़ित पंच या अन्य किसी ने भी कोई शिकायत दर्ज कराने से मना कर दिया। लिहाजा पुलिस भी चुप्पी साधकर बैठ गई है। बताते हैं कि उप सरपंच के चुनाव में साजापानी से दो लोग खड़े हुए थे। इसमें रामकुमार बघेल को उमेश यादव ने हरा दिया था। रामकुमार इसके लिए पंच को दोषी मान रहा था। उसका मानना था कि अगर यह पंच उसे वोट दे देता, तो वो जीत जीता। हार से बौखलाए रामकुमार ने वार्ड-11 के लोगों को भड़का दिया। इसके बाद पंच को प्रताड़ित किया गया। पहले पंच ने इस मामले की शिकायत की थी, लेकिन बाद मे राजीनामा कर लिया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios