Asianet News HindiAsianet News Hindi

एक जिले एक ही नाम के दोनों जवान एक साथ शहीद, एक की हो चुकी थी शादी, दूसरा लड़की देखने जानेवाला था

रायपुर, छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में  शनिवार को हुए नक्सली हमले के दौरान 17 जवान शहीद हो गए थे। इनमें दो जवान तो एक ही जिले यानी कांकेर के रहने वाले थे और इन दोनों का नाम भी एक ही जैसा था।
 

Two young jawan of the same name martyrs in naxalite attack sukma chhattisgarh kpr
Author
Sukma, First Published Mar 23, 2020, 12:01 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रायपुर. छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में  शनिवार को हुए नक्सली हमले के दौरान 17 जवान शहीद हो गए थे। इनमें दो जवान तो एक ही जिले यानी कांकेर के रहने वाले थे और इन दोनों का नाम भी एक ही जैसा था।

संयोग से दोनों जवानों का नाम था हेमंत
दरअसल, शनिवार को नक्सली मुठभेड़ में 17 जवान अचानक लापता हो गए थे। जिनके शव रविवार को मिले थे। इन जवानों में डीआरजी के 12 और 5 एसटीएफ के जवान बताए जा रहे हैं। संयोग देखिए इस हमले जो दो जवान साथ शहीद हुए हैं उन दोनों का नाम हेमंत था। एक जहां कांकेर के चारमा और दूसरा नरहरपुर का रहने वाला था। जैसे ही दोनों के शव गांव में पहुंचे उनके घर में मातम पसर गया। माता-पिता एक टक उनको देखते रहे।

शादी के लिए लड़की देखने जाने वाला था 
हेमंतदास मानिकपुरी साल 2017 में सुकमा पुलिस फोर्स में भर्ती हुआ था। उसका 2 अप्रैल को जन्मदिन था। वह कुछ दिनों बाद ही अपनी शादी के लिए लड़की देखने जाने वाला था। इसके लिए उसने छुट्टी भी ले रखी थी और मंजूर भी हो गई थी। लेकिन इससे पहले वह नक्सली हमले में शहीद हो गया।

10 माह पहले हुई थी शादी
दूसरा जवान हैमंत पोया था जो साल 2013 में एसटीएफ में भर्ती हुआ था। उसका बचपन से सपना था देश के लिए आर्मी में जाना है। बता दें कि शहीद की दस महीने पहले 25 मई 2019 को उसकी शादी हुई थी।

सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार
एएसपी कीर्तन राठौर ने बताया- दोनों शहीद जवानों के शव उनके घर लाया गया। जहां उनको पूरे सैन्य सम्मान के साथ आखिरी सलामी दी गई।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios