Asianet News Hindi

Oxygen का News मीटरः यूके से 3 ऑक्सीजन जनरेटर, 1000 वेंटिलेटर भारत पहुंचा, दक्षिण कोरिया भी भेज रहा इक्वीपमेंट

कोविड-19 से भारत में मचे हाहाकार के बीच दुनिया के तमाम देशों ने मदद को हाथ आगे बढ़ाया है। दुनिया के तमाम मित्र देश ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाएं और मेडिकल इक्विपमेंट्स से लेकर हर जरूरी सामानों से लगातार मदद कर रहे हैं। देश में भी कई औद्योगिक घरानों ने मदद में कोई कोर कसर नहीं छोड़ा है। मिलजुलकर लड़ी जा रही इस लड़ाई से कोविड मरीजों को आवश्यक मदद पहुंच जा रही। आइए जानते हैं कि महामारी के खिलाफ चल रहे महाअभियान में भारत को कहां-कहां से मदद मिल रही है...

Covid 19: foreign countries and many organisations helping India to fight against Corona, Know all DHA
Author
New Delhi, First Published May 9, 2021, 8:24 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। कोविड-19 से भारत में मचे हाहाकार के बीच दुनिया के तमाम देशों ने मदद को हाथ आगे बढ़ाया है। दुनिया के तमाम मित्र देश ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाएं और मेडिकल इक्विपमेंट्स से लेकर हर जरूरी सामानों से लगातार मदद कर रहे हैं। देश में भी कई औद्योगिक घरानों ने मदद में कोई कोर कसर नहीं छोड़ा है। मिलजुलकर लड़ी जा रही इस लड़ाई से कोविड मरीजों को आवश्यक मदद पहुंच जा रही।

आइए जानते हैं कि महामारी के खिलाफ चल रहे महाअभियान में भारत को कहां-कहां से मदद मिल रही है...

यूनाइटेड किंगडम से 3 ऑक्सीजन जनरेटर, 1000 वेंटिलेटर भारत पहुंचा। एक ऑक्सीजन जनरेटर से एक मिनट में 500 लीटर ऑक्सीजन प्रोडक्शन हो सकेगा।

दक्षिण कोरिया के सियोल में स्थित भारतीय दूतावास से जानकारी मिली है कि ऑक्सीजन सिलेंडर्स, कंसेंट्रेटर्स, नेगेटिव प्रेशर कैरियर्स का पहला कनसाइनमेंट भारत भेजा जा रहा है। 

उत्तराखंड में डीआरडीओ दो बड़े अस्पताल कोविड मरीजों के लिए बना रहा है। हल्द्वानी में 500 बेड वाले अस्पताल में 375 बेड ऑक्सीजन वाला होगा जबकि 125 बेड वेंटीलेटर से इक्वीप्ड होगा। इसी तरह ऋषिकेश में 400 ऑक्सीजन बेड और 100 वेंटीलेटर बेड बनाया जा रहा है। 

फै्रंकफर्ट से मेडिकल इक्वीपमेंट्सः सी-17 ग्लोबमास्टर मेडिकल इक्वीपमेंट्स लेकर मुंबई पहुंच रहा है। फ्रैंकफर्ट से करीब 35 टन मेडिकल इक्वीपमेंट्स लोड कर भारत पहुंचाया जा रहा है। 

ऑक्सीजनः रेलमंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि रेलवे का ऑक्सीजन एक्सप्रेस अंगुल से नागपुर पहुंच चुका है। 

टोल टैक्स में छूटः सड़क परिवहन एवं हाईवे मंत्रालय ने ऑक्सीजन टैंकर्स को टोल टैक्स फ्री कर दिया है। अब किसी भी टोल पर इनको नहीं रोका जा सकेगा ना ही इनको टैक्स कटवाना होगा। 


 

 

Asianet News का विनम्र अनुरोधः आईए साथ मिलकर कोरोना को हराएं, जिंदगी को जिताएं...। जब भी घर से बाहर निकलें माॅस्क जरूर पहनें, हाथों को सैनिटाइज करते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। वैक्सीन लगवाएं। हमसब मिलकर कोरोना के खिलाफ जंग जीतेंगे और कोविड चेन को तोडेंगे। #ANCares #IndiaFightsCorona

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios