सूरत. दक्षिण अफ्रीका की महिला क्रिकेट टीम ने भारतीय दौरे की शुरूआत सकारात्मक तरीके से करते हुए रविवार को दूसरे टी20 अभ्यास मुकाबले में बोर्ड अध्यक्ष एकादश को 83 रन से शिकस्त दी। दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट पर 174 रन बनाने के बाद भारतीय पारी को महज 91 पर समेट दिया।लेग स्पिनर लुस ने 17 रन देकर तीन विकेट लेकर बोर्ड अध्यक्ष एकादश के मध्यक्रम को झकझोर दिया। शबनिब इस्माइल ने 11 रन देकर तीन और अयाबोंग खाका ने सात रन देकर दो विकेट लिये।

गेंदबाजों का साधारण प्रदर्शन  
इससे पहले दक्षिण अफ्रीकी विकेटकीपर लिजेली ली ने 10 चौके और एक छक्के की मदद से 48 गेंद में 65 रन की पारी खेली। उन्होंने तजमिन ब्रिट्स (20 रन) के साथ पहले विकेट के लिए 61 रन की साझेदारी की। आखिरी के ओवरों में मिगनोन डु प्रीज ने 18 गेंद में 40 रन की तेज तर्रार पारी खेली जिन्हें नांदिने डि क्लार्क (29) का साथ मिला और दोनों ने स्कोर को 170 के पार पहुंचाया। भारत के लिए तरन्नुम पाठक ने 23 रन देकर दो विकेट जबकि पूजा वस्त्रकार ने 32 रन देकर एक विकेट लिया।

नहीं चला कोई बल्लेबाज 
लक्ष्य का पीछा करने उतरी बोर्ड एकदश की शुरुआत बेहद ही खराब रही। टीम ने तीसरे ओवर तक एमडी थिरुशकामिनि (दो), युवा खिलाड़ी शेफाली वर्मा (शून्य), वनिता वीआर (चार) और कप्तान सुष्मा वर्मा (शून्य) के विकेट गंवा दिये। इस समय टीम का स्कोर सिर्फ छह रन था। भारती फुलमानी(23) और मानसी जोशी (20) ही बोर्ड एकादश के लिए कुछ रन जुटा सके। दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम भारत के खिलाफ 24 सितंबर से शुरू होने वाली पांच मैचों की टी20 श्रृंखला के अलावा तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला भी खेलेगी।

युवा शेफाली ने किया निराश 
महज 15 साल की उम्र में टीम का हिस्सा बनी शेफाली वर्मा से सभी को शानदार प्रदर्शन की उम्मीद थी। लेकिन शेफाली उम्मीदों के इस दबाव को झेल नहीं सकी और बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गई। शैफाली के इस प्रदर्शन का असर टीम के खेल पर भी पड़ा और पूरी टीम सिर्फ 91 रन के स्कोर पर आउट हो गई। 
(यह खबर न्यूज एजेंसी पीटीआई भाषा की है। एशियानेट हिंदी की टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)