स्पोर्ट्स डेस्क। कोरोना महामारी की वजह से 15 मार्च, 2020 के बाद से ही घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टूर्नामेंट बंद हैं। लेकिन आज बुधवार से इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच खाली स्टेडियम में इसकी शुरुआत होने जा रही है। सीमित ओवरों वाले क्रिकेट की शुरुआत के बाद पिछले 46 सालों में यह पहल मौका होगा, जब 100 से भी ज्यादा दिनों तक कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला गया। इंग्लैंड के साउथेम्टन में भारतीय समय के मुताबिक, यह मैच आज दोपहर 3.30 बजे से खेला जाएगा। इस मैच के साथ ही 117 दिन के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी होगी।  

नहीं होंगे स्टेडियम में दर्शक
यह पहला ऐसा मैच होगा जब स्टेडियम में खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाने के लिए दर्शक नहीं होंगे। खिलाड़ी आपस में गले भी नहीं मिल सकेंगे। यही नहीं, हफ्ते में दो बार खिलाड़ियों की कोरोना जांच होगी। खिलाड़ी अपने होटल से बाहर भी नहीं जा सकेंगे। खिलाड़ियों को सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। 

मैदान में क्या दिखेंगे बदलाव
इस मैच में सिर्फ दोनों टीमों के कप्तान बेन स्टोक्स, जेसन हेल्डर और मैच रेफरी क्रिस ब्राॉड टॉस के लिए बाहर जाएंगे। इस दौरान कैमरे का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। कप्तान हाथ भी नहीं मिलाएंगे। अम्पायर रिचर्ड इलिंगवर्थ और रिचर्ड केटलबोरो अफनी गेंद लेकर जाएंगे। मैच के बीच में सैनेटाइजेशन ब्रेक भी होगा। 

बरतनी होंगी ये सावधानियां
मैच के दौरान प्लेयर्स को काफी सावधानी बरतनी होगी। खिलाड़ी ग्लव्ज, शर्ट, पानी की बोतल, बैग और स्वेटर वगैरह साझा नहीं कर सकते। इस मैच में कोई बॉल बॉय भी नहीं होगा। ग्राउंड स्टाफ मैदान पर खिलाड़ियों के बीच 20 मीटर के दायरे में नहीं जाएगा। टीम शीट्स डिजिटल होगी। स्कोरर पेन और पेंसिल साझा नहीं करेंगे। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने पहले ही सलाइवा (लार) के इस्तेमाल पर रोक लगा दिया है। इस मामले में दो चेतावनी के बाद 5 रन का जुर्माना लगाए जाने का प्रावधान है। 

15 मार्च, 2020 के बाद से बंद था क्रिकेट
कोविड-19 महामारी के कारण 15 मार्च, 2020 के बाद से ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बंद था। इससे पहले आखिरी मैच ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच सिडनी में वनडे इंटरनेशनल के रूप में खेला गया था। वनडे और फिर टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट के आने से बीच-बीच में कुछ अवसरों पर टेस्ट मैच 100 से अधिक दिनों के अंतराल में खेले गए, लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सहित कई घरेलू लीग की शुरुआत के बावजूद इंटरनेशनल क्रिकेट में कभी ऐसा देखने को नहीं मिला था। इससे पहले 1972 में 114 और 1973 में 113 दिनों तक कोई इंटरनेशनल मैच नहीं खेला गया था। 

देखें वेस्‍टइंडीज के 140 किलो वजनी खिलाड़ी ने कैसे लपका शानदार कैच