Asianet News Hindi

गांगुली के बारे में सहवाग की दो भविष्यवाणियां, पहली सच साबित हुई दूसरी का इंतजार

भारतीय टीम के विस्फोटक ओपनर सहवाग ने कहा है कि गांगुली को लेकर 12 साल पहले की गई उनकी भविष्यवाणी सच साबित हुई है। सहवाग ने कहा था कि गांगुली एक दिन बीसीसीआई के प्रेसिडेंट बनेंगे और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री भी जरूर बनेंगे।

Sehwag's two predictions about Ganguly, the first proved to be true, the second awaited
Author
New Delhi, First Published Oct 28, 2019, 5:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारतीय टीम के विस्फोटक ओपनर सहवाग ने कहा है कि गांगुली को लेकर 12 साल पहले की गई उनकी भविष्यवाणी सच साबित हुई है। सहवाग ने कहा था कि गांगुली एक दिन बीसीसीआई के प्रेसिडेंट बनेंगे और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री भी जरूर बनेंगे। सहवाग की पहली भविष्यवाणी सच साबित हुई है, जबकि दूसरी भविष्यवाणी के हकीकत में बदलने का सहवाग इंतजार कर रहे हैं।  

12 साल पहले की थी 2 भविष्यवाणियां 
पूर्व भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग का मैदान पर विस्फोटक अंदाज सभी को बहुत पसंद आता था। सहवाग सिर्फ अपने शॉट्स के लिए ही नहीं बल्कि अपनी बातों के लिए भी खासे चर्चित हैं। मैदान के अंदर वीरू का बल्ला बोलता था और वीरू की बातें कम ही सुनने को मिलती थी, पर जब से सहवाग ने कमेंटरी शुरू की है क्रिकेट फैंस को वीरू का यह रूप भी देखने को मिला है। वीरू ने 12 साल पहले सौरव गांगुली को लेकर 2 भविष्यवाणियां की थी, जिनमें से एक सच हो चुकी है और सहवाग को उनकी दूसरी भविष्यवाणी के सच होने का इंतजार है। पहली भविष्यवाणी सौरव गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनने को लेकर थी, जे कि सच साबित है चुकी है और दूसरी भविष्यवाणी में सहवाग ने कहा था कि गागुंली पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री बनेंगे। सहवाग को भरोसा है कि एक दिन उनकी यह भविष्यवाणी भी सच होगी।   

सहवाग को याद आया अफ्रीका दौरा 
सहवाग ने कहा कि "वास्तव में जब मैंने पहली बार दादा के बोर्ड अध्यक्ष बनने के बारे में सुना, तो मुझे 2007 के दक्षिण अफ्रीका दौरे की याद आ गई। केपटाउन में टेस्ट मैच चल रहा था और सहवाग और वसीम जाफर जल्दी आउट हो गए थे। पहले तेंदुलकर को नंबर 4 पर बल्लेबाजी करनी थी, पर बाद में गांगुली को उनकी जगह आना पड़ा। गांगुली इस सीरीज में टीम में वापसी कर रहे थे। उन पर दबाव था, लेकिन जिस तरह से उन्होंने बल्लेबाजी की, दबाव और तनाव को संभाला, केवल गांगुली ही ऐसा कर सकते थे। उस दिन ड्रेसिंग रूम में सभी सहमत थे कि अगर हमारे बीच कोई बीसीसीआई अध्यक्ष बन सकता है, तो वह दादा हैं। मैंने कहा कि वह बंगाल के मुख्यमंत्री भी बन सकते हैं। मेरी भविष्यवाणियों में से एक सच हो चला है, अब दूसरे के बारे में देखें...'

आपको बता दें कि भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने 23 अक्टूबर को बीसीसीआई अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला है। गांगुली निर्विरोध चुने गए हैं और उनका कार्यकाल जुलाई 2020 तक चलेगा। 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios