नई दिल्ली. विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत के बाद आम आदमी के मुखिया अरविंद केजरीवाल 16 दिसंबर को सीएम पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण में पीएम मोदी को भी बुलाया गया है। इसके अलावा शिक्षा निदेशालय ने सर्कुलर जारी कर सरकारी स्कूलों के प्रिंसिपल और टीचर को समारोह में शामिल होने के लिए रामलीला मैदान पहुंचने का आदेश गया दिया है। सर्कुलर पर भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने हमला बोला है।

Image

"रामलीला मैदान में टीचर्स की हाजिरी लगाना गलत"
कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया, सरकार के शपथ ग्रहण में टीचर्स आये ये अच्छी बात हैं, लेकिन सरकारी आर्डर निकालकर जबरदस्ती टीचर्स को लाया जाए? टीचर्स की हाजिरी रामलीला मैदान में लगाई जाए? ये एक गलत परंपरा की शुरुआत हैं। शपथ ग्रहण को ऐसे अनावश्यक ग्रहणों से मुक्त रखना चाहिए।

Image

ट्रैफिक रूट में होगा बदलाव
शपथ ग्रहण समारोह को देखते हुए दिल्ली के ट्रैफिक रूट में भी बदलाव देखने को मिलेगा। कई ऐसे रास्ते होंगे, जहां से बड़ी गाड़ियों की आवाजाही पर रोक रहेगी। दिल्ली पुलिस ने ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की है। केजरीवाल का शपथ ग्रहण समारोह रामलीला मैदान में रविवार को दोपहर 12.15 बजे होगा। इस आयोजन को देखते हुए दिल्ली में रामलीला मैदान के आसपास वाले इलाकों में सुबह आठ बजे से दोपहर दो बजे के बीच यातायात पर रोक लगाई है।

Image

बसों और कॉमर्शियल गाड़ियों पर रोक
ट्रैफिक एडवाइजरी के मुताबिक, रामलीला मैदान की ओर जाने वाली बसों और कॉमर्शियल गाड़ियों पर रोक रहेगी। 

11 फरवरी को आए थे नतीजे
दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों पर 8 फरवरी को मतदान हुआ था। 11 फरवरी को नतीजे आए थे। आम आदमी पार्टी को 62 और भाजपा को 8 सीट मिली थी। कांग्रेस का इस बार भी खाता नहीं खुला था।