Asianet News Hindi

देवबंद आतंक की गंगोत्री... इस बयान पर गिरिराज सिंह को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने किया तलब

दिल्ली में चुनाव हारने के बाद भाजपा अपने नेताओं द्वारा दिए जाने वाले बयानों पर फोकस किए हुए है। अमित शाह ने बताया था कि गोली मारो जैसे बयानों की वजह से दिल्ली चुनाव में नुकसान हुआ। अब भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को तलब किया है।

Delhi elections BJP President JP Nadda summoned Union Minister Giriraj Singh kpn
Author
New Delhi, First Published Feb 15, 2020, 3:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. दिल्ली में चुनाव हारने के बाद भाजपा अपने नेताओं द्वारा दिए जाने वाले बयानों पर फोकस किए हुए है। अमित शाह ने बताया था कि गोली मारो जैसे बयानों की वजह से दिल्ली चुनाव में नुकसान हुआ। अब भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को तलब किया है। गिरिराज सिंह ने कहा था, देवबंद में आतंक की गंगोत्री है।  

गिरिराज सिंह ने क्या कहा था?
गिरिराज सिंह ने कहा था, देखिए कितने लोग देवबंद से आतंकी गतिविधियों में शामिल हुए हैं। दुर्भाग्य है इस देश का जो राष्ट्र के लिए काम करना चाहिए, वे राष्ट्र विरोधी। मैंने सही कहा कि देवबंद गंगोत्री है आतंकवाद का। 
- गिरिराज सिंह ने कहा था, जब सोनिया जी बाटला हाउस में गई थीं। एनकाउंटर में आंसू बहाने, तो भी भीड़ थी उन गलियों में। दिग्विजय सिंह आजमगढ़ गए थे तो भी भीड़ थी, जितने देश में शाहीन बाग हो रहे हैं, वे एक तरह से खिलाफत आंदोलन हो रहा है, देश को तोड़ने की साजिश हो रही है।

चुनाव हारने के बाद अमित शाह ने जताई थी नाराजगी
दिल्ली विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद अमित शाह ने एक टीवी इंटरव्यू दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि गोली मारो... जैसे बयानों ने भाजपा को चुनाव में नुकसान पहुंचाया। उन्होंने इंटरव्यू में सीएए का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा था,  दिल्ली चुनाव के नतीजों को सीएए और एनआरसी पर जनादेश नहीं माना जा सकता। 

इस साल बिहार और अगली साल पश्चिम बंगाल में चुनाव
दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार के बाद भाजपा अपनी गलतियों से सबक लेते हुए आगे की रणनीती बना रही है। इस साल बिहार में विधानसभा चुनाव है। इसके बाद अगले साल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव है। ऐसे में भाजपा राज्य स्तर पर पार्टी नेतृत्व में कई बदलाव कर रही है। इतना ही नहीं, बड़े नेताओं के बयानों पर भी फोकस है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios