Asianet News HindiAsianet News Hindi

पुलिस कांस्टेबल से सरकारी क्लर्क तक, कुछ ऐसा रहा है गुजरात के AAP चीफ गोपाल इटालिया का सफर

आम आदमी पार्टी की गुजरात इकाई के अध्यक्ष गोपाल इटालिया सूरत जिले के कतरगाम सीट से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। गोपाल इटालिया गुजरात मे आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं। गोपाल इटालिया अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में बने रहते हैं।

From police constable to clerk in government office this has been the journey of AAP chief Gopal Italia of Gujarat
Author
First Published Nov 9, 2022, 1:53 PM IST

सूरत(Gujrat).  आम आदमी पार्टी की गुजरात इकाई के अध्यक्ष गोपाल इटालिया सूरत जिले के कतरगाम सीट से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। गोपाल इटालिया गुजरात मे आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं। गोपाल इटालिया अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में बने रहते हैं। इटालिया का यहां तक का सफर काफी दिलचस्प रहा है।

गुजरात के आम आदमी पार्टी चीफ गोपाल इटालिया कभी गुजरात पुलिस में कांस्टेबल हुआ करते थे। काफी समय तक उन्होंने ये नौकरी की। जिसके बाद उन्हें आवदेन के बाद एक सरकारी ऑफिस में क्लर्क की नौकरी मिल गई। क्लर्क रहने के दौरान इटालिया ने 2017 में गुजरात सरकार के एक मंत्री को मीटिंग के दौरान जूता फेंक कर मारा था। जिसके बाद उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया।

नौकरी छूटने के बाद पकड़ी राजनीति की राह
क्लर्क की नौकरी छूटने के बाद इटालिया आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करते हुए आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल से मिले। बातचीत कब दौरान केजरीवाल उनसे खासा प्रभावित हुए और मौका मिलते ही उन्हें गुजरात की कमान सौंप दी गई। अब उन्हें विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी बनाया गया है।

गुजरात मे युवाओं पर सबसे अधिक दांव लगा रही AAP
AAP के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा राजनीति में युवाओं की भागीदारी जरूरी है। गुजरात में हमारे प्रदेश अध्यक्ष और लोकप्रिय युवा नेता गोपाल इटालिया सूरत की कतरगाम विधानसभा सीट से और प्रदेश महासचिव मनोज सोरथिया करंज विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। मैं दोनों युवाओं को शुभकामनाएं देता हूं। इसके अलावा भी गुजरात में अब तक घोषित आप के प्रत्याशियों में युवाओं को सबसे अधिक मौका दिया गया है।

पाटीदार आंदोलन में मुख्य भूमिका में थे इटालिया

गुजरात पुलिस में कॉन्स्टेबल रहे गोपाल इटालिया पाटीदार आंदोलन के प्रमुख चेहरों में से एक थे। साल 2015 में हार्दिक पटेल के साथ मिलकर गुजरात में पाटीदार आरक्षण के लिए आंदोलन खड़ा किया और उसके बाद सियासत में कदम रखा। साल 2020 में आम आदमी पार्टी के साथ गोपाल इटालिया ने अपना सियासी सफर शुरू किया और जल्द की AAP के गुजरात उपाध्यक्ष नियुक्त किए गए। आम आदमी पार्टी ज्वाइन करने के कुछ महीनों के बाद ही केजरीवाल ने गोपाल इटालिया को प्रदेश संयोजकर बनाकर गुजरात में पार्टी की कमान सौंप दी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios