Asianet News Hindi

क्या नई शिक्षा नीति में खत्म हुई 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं? FACT CHECK में जानें इस दावे की सच्चाई

हाल-फिलहाल एक मैसेज में यह दावा किया जा रहा है कि सरकार ने नई शिक्षा नीति के तहत 10वीं बोर्ड की परीक्षा खत्म कर दी है, अब सिर्फ 12वीं में ही बोर्ड परीक्षा देनी होगी।

10 board exams ended by new education policy fake claim viral know the truth by pib fact check kpt
Author
New Delhi, First Published Feb 13, 2021, 2:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. पूरे देश में विभिन्न राज्यों में बोर्ड परीक्षाओं को लेकर रोज नई घोषणाएं हो रही हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर परीक्षा को लेकर कई तरह के फर्जी दावे भी वायरल हो रहे हैं। हाल-फिलहाल एक मैसेज में यह दावा किया जा रहा है कि सरकार ने नई शिक्षा नीति के तहत 10वीं बोर्ड की परीक्षा खत्म कर दी है, अब सिर्फ 12वीं में ही बोर्ड परीक्षा देनी होगी, लेकिन भारत सरकार के प्रेस सूचना कार्यालय (PIB) ने इस खबर का खंडन किया है।

सरकार की फैक्ट चैक ऑर्गेनाइजेशन पीआईबी फैक्ट चैक (PIB Fact Check) ने ट्वीटर, फेसबुक पर वायरल इस मैसेज की पड़ताल कर इसे फेक बताया है। 

वायरल पोस्ट क्या है? 

वायरल मैसेज में यूजर्स का दावा है कि 34 साल बाद लागू की गई नई शिक्षा नीति (New Education Policy) के तहत भारत सरकार ने 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं खत्म कर दी हैं। अब बोर्ड परीक्षाएं सिर्फ 12वीं कक्षा में ही हुआ करेंगी। Mphil भी बंद कर दिया गया है। ऐसा नई शिक्षा नीति लागू होने के समय भी कहा गया था। 

 

 

फैक्ट चेकिंग (Fact Check)

सोशल मीडिया पर भयंकर वायरल इस मैसेज का पीआईबी (PIB) ने फैक्ट चैक किया। एक ट्वीट जारी कर कहा, 'एक मैसेज में दावा किया गया है कि नई शिक्षा नीति के अनुसार अब केवल 12वी कक्षा में बोर्ड की परीक्षाएं होंगी और 10वी कक्षा में बोर्ड परीक्षा का कोई प्रावधान नहीं होगा।

#PIBFactCheck: यह दावा फर्जी है। शिक्षा मंत्रालय ने ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है।'

 

 

कब लागू हुई नई शिक्षा नीति

केंद्र सरकार ने 29 जुलाई को 2020 को 34 साल पुरानी व्यवस्था को बदलते हुए नई शिक्षा नीति (New Education Policy 2020) का ऐलान किया था। यह 21वीं सदी की पहली शिक्षा नीति है। यह 34 साल पुरानी राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 1986 की जगह लेगी। इसके तहत अब छात्र-छात्राओं को साल में दो बार परीक्षाएं देने का मौका मिल सकेगा। शिक्षा नीति में कई बड़े बदलाव किए गए लेकिन कहीं भी 10वीं बोर्ड परीक्षा को खत्म करने की बात नहीं है। 

बोर्ड परीक्षाओं को आसान बनाया

नई शिक्षा नीति ने दसवीं और बारहवीं के बोर्ड एग्जाम को आसान कर दिया है। इस कड़ी में सभी छात्र-छात्राएं साल में दो बार बोर्ड एग्जाम दे सकेंगे। सरकारी स्कूलों में कोडिंग भी सिखाए जाने का प्रावधान किया जाएगा। इस नीति की तमाम खास बातों में से एक ये  है कि नई शिक्षा नीति में पांचवीं तक और जहां तक संभव हो सके आठवीं तक मातृभाषा में ही शिक्षा उपलब्ध कराई जाएगी। 

ये निकला नतीजा  

सोशल मीडिया पर बोर्ड परीक्षा से जुड़ा वायरल मैसेज फर्जी है, सरकार द्वारा नई शिक्षा नीति के तहत 10वीं की बोर्ड परीक्षा सिस्टम खत्म नहीं किया जाएगा। इस साल सभी राज्यों में 10वीं और 12वीं की CBSE सहित राज्य बोर्ड परीक्षाएं होंगी। CBSE बोर्ड की क्लास 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 4 मई से शुरू होकर 17 जून तक चलेंगी। वहीं यूपी बोर्ड की परीक्षाएं अप्रैल महीने से शुरू हो रही हैं। परीक्षा को लेकर छात्र फर्जी दावों और अफवाहों से सचेत रहें। इससे पहले कई बार सोशल मीडिया पर फर्जी डेटशीट भी वायरल होती रही हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios