15

जांच में ये बात सामने आई कि घटना वाले दिन ही दोनों बीएमपी को एक साथ सुबह 10 बजे ड्यूटी करनी थी। लेकिन, ड्यूटी शुरू करने से करीब सवा घंटे पहले ही अमर सुब्बा महिला रेस्ट रूम में गए। जहां पहले से मौजूद वर्षा पर एसएलआर से 4 गोलियां दाग दीं। इसके बाद वहीं पर खुद के सिर में भी गोली मारकर सुसाइड कर ली।

Subscribe to get breaking news alerts

25


एएयरपोर्ट थाना में लील बहादुर थापा के बयान पर केस दर्ज हुआ है, जो उस दिन ड्यूटी जांच पदाधिकारी के रूप में बीएमपी वन में प्रतिनियुक्त थे। पुलिस के मुताबिक थापा का कहना है कि वह खुद काम में लग गए। इसी बीच पौने नौ बजे चार-पांच गोली चलने की आवाज सुनाई दी। गोली चलने और चिल्लाने की आवाज पर महिला रेस्ट रूम में गए तो देखा कि वर्षा औरर अमर दोनों खून से लथपथ थे और उनकी मौत हो गई।  

(प्रतीकात्मक फोटो)

35


जांच टीम ने अमर और वर्षा के बारें में सभी जवानों से जानकारी ली तो ये बात सामने आई कि उनके बीच सात-आठ माह से प्रेम-प्रसंग चल रहा है। हालांकि वह शादीशुदा थे। 

(प्रतीकात्मक फोटो)

45


अमर पर शादी करने का वर्षा दबाव बनाने लगी थी, जिससे वह डिप्रेशन में चला गया था। जिसका इलाज भी चल रहा था। फिर, मंगलवार को बीएमपी वन के परिसर में जो हुआ, शायद किसी ने सोचा भी नहीं था। वहीं, अधिकारियों का कहना है कि दोनों ड्यूटी और समय के बड़े पाबंद थे।
 (प्रतीकात्मक फोटो)

55


पति के अफेयर की जानकारी दीपा को भी हो गई थी। चर्चाओं की मुताबिक उसने राखी बंधन के दिन वर्षा से बात की थी कि तुम मेरा घर क्यों बर्बाद कर रही हो। साथ ही वर्षा को बहन का हवाला दिया था। इसके बाद उसने कहा था कि वह ऐसा नहीं करेगी। 

(प्रतीकात्मक फोटो)