पत्नी को मारने के लिए कॉन्ट्रैक्ट किलर्स को देने थे पैसे, पति ने ले लिया बैंक से लोन और करवा दी हत्या

First Published 11, Jul 2020, 8:15 PM

पटना(Bihar).  साली से इश्क लड़ा रहे पति द्वारा अपनी पत्नी की हत्या करवाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पति ने पत्नी को मारने का जो तरीका अपनाया उसे जानकर पुलिस के भी होश उड़ गए। पति ने पत्नी को मारने के लिए प्रोफेशनल किलर्स का सहारा लिया और उन्हें पैसे देने के लिए बैंक से लोन ले लिया. हांलाकि पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है, आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने साली के प्यार में फंस कर पत्नी की हत्या करवा दी।
 

<p>घटना गोपालपुर थाना क्षेत्र की है जहां 9 जुलाई को गर्भवती रूबी देवी की अपराधियों के बीच सड़क गोली मारकर हत्या कर दी थी। तफ्तीश में जुटी पुलिस ने इस बात का खुलासा किया है रूबी से पति शंभू रजक के ताल्लुक अच्छे नहीं थे लिहाजा दो बेटियों के बाद तीसरी बेटी होने की आशंका को लेकर पति ने रूबी की हत्या करवा दी।<br />
 </p>

घटना गोपालपुर थाना क्षेत्र की है जहां 9 जुलाई को गर्भवती रूबी देवी की अपराधियों के बीच सड़क गोली मारकर हत्या कर दी थी। तफ्तीश में जुटी पुलिस ने इस बात का खुलासा किया है रूबी से पति शंभू रजक के ताल्लुक अच्छे नहीं थे लिहाजा दो बेटियों के बाद तीसरी बेटी होने की आशंका को लेकर पति ने रूबी की हत्या करवा दी।
 

<p>जानकारी के अनुसार पटना के परसा बाजार के झाईचक निवासी शंभू की सिपारा में लॉड्री  है। पिछले अक्टूबर उसकी मुलाकात जक्कनपुर थाना क्षेत्र में रहने वाले कान्ट्रेक्ट किलर ऋषि से हुई थी। तब उसने ऋषि को बताया कि उसे साली से प्रेम है और पत्नी रूबी का काम तमाम करना है।<br />
 </p>

जानकारी के अनुसार पटना के परसा बाजार के झाईचक निवासी शंभू की सिपारा में लॉड्री  है। पिछले अक्टूबर उसकी मुलाकात जक्कनपुर थाना क्षेत्र में रहने वाले कान्ट्रेक्ट किलर ऋषि से हुई थी। तब उसने ऋषि को बताया कि उसे साली से प्रेम है और पत्नी रूबी का काम तमाम करना है।
 

<p>इसके बदले किलर ने तीन लाख रुपये की मांग की. फिर ढाई लाख रुपये पर बात बन गई। किलर ने एडवांस में 50 हजार रुपये और हत्या के बाद दो लाख रुपये की मांग की थी, लेकिन शंभू के पास  20 हजार रुपये ही थे। इसके बाद शंभू ने बैंक से 30 हजार रुपए लोन लिया। किलर को जनवरी में दुकान पर बुलाकर 50 हजार रुपये एडवांस दिए।</p>

इसके बदले किलर ने तीन लाख रुपये की मांग की. फिर ढाई लाख रुपये पर बात बन गई। किलर ने एडवांस में 50 हजार रुपये और हत्या के बाद दो लाख रुपये की मांग की थी, लेकिन शंभू के पास  20 हजार रुपये ही थे। इसके बाद शंभू ने बैंक से 30 हजार रुपए लोन लिया। किलर को जनवरी में दुकान पर बुलाकर 50 हजार रुपये एडवांस दिए।

<p>जनवरी में ही शंभू ने किलर ऋषि के साथ मिलकर हत्या का प्लान तैयार किया, तय समय पर शंभू पत्नी और दोनों बच्चों को बाइक पर बैठाकर ससुराल छोड़ने के लिए चल पड़ा। रास्ते में प्लान के मुताबिक अपराधियों ने 30 वर्षीय रूबी देवी की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली कुख्यात और कई हत्याकांड को अंजाम दे चुके ऋषि ने मारी थी और उसका साथी नवीन बाइक चला रहा था।</p>

जनवरी में ही शंभू ने किलर ऋषि के साथ मिलकर हत्या का प्लान तैयार किया, तय समय पर शंभू पत्नी और दोनों बच्चों को बाइक पर बैठाकर ससुराल छोड़ने के लिए चल पड़ा। रास्ते में प्लान के मुताबिक अपराधियों ने 30 वर्षीय रूबी देवी की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली कुख्यात और कई हत्याकांड को अंजाम दे चुके ऋषि ने मारी थी और उसका साथी नवीन बाइक चला रहा था।

<p>इस मामले के खुलासे के लिए पुलिस के सामने बड़ी चुनौती थी। पति शंभू से जक्कनपुर थाने पर पूछताछ शुरू हुई तो उसने अनभिज्ञता जाहिर की। लेकिन गुरूवार की देर रात पटना एसएसपी उपेन्द्र शर्मा, एसपी सिटी ईस्ट जितेंद्र कुमार ने साढ़े पांच घंटे तक कड़ी पूछताछ की, जिसमे पति के करतूत सामने आ गई।<br />
 </p>

इस मामले के खुलासे के लिए पुलिस के सामने बड़ी चुनौती थी। पति शंभू से जक्कनपुर थाने पर पूछताछ शुरू हुई तो उसने अनभिज्ञता जाहिर की। लेकिन गुरूवार की देर रात पटना एसएसपी उपेन्द्र शर्मा, एसपी सिटी ईस्ट जितेंद्र कुमार ने साढ़े पांच घंटे तक कड़ी पूछताछ की, जिसमे पति के करतूत सामने आ गई।
 

loader