पति परदेश में, आशिक को बुलाकर महिला करती थी ये काम; बेटे ने किया विरोध तो मिली खौफनाक सजा

First Published 1, Jul 2020, 2:27 PM

औरंगाबाद ( Bihar) । बेटे ने मां के साथ शारीरिक संबंध बनाने वाले का विरोध किया तो उसे नागवार गुजरी। हालांकि प्रेमिका के सामने वह कुछ नहीं बोला, लेकिन अपने रास्ते को कांटा हटाने के लिए प्रेमी ने प्रेमिका के बेटे की हत्या कर दी। शव को ठिकाने लगाने के लिए उसने अपने बहनोई की भी मदद ली। लेकिन, वारदात स्थल पर जल्दबाजी में उसका वोटर आइडी कार्ड गिर गया, जिसके हाथ लगने के बाद पुलिस आरोपियों तक पहुंच गई। कड़ाई से पूछताछ की तो पूरी कहानी सामने आ गई। यह घटना औरंगाबाद इलाके की है। जिसका आज खुलासा एसडीपीओ अनूप कुमार ने किया। 

<p><br />
पुलिस के मुताबिक कपिल का 15 वर्षीय सूरज की मां से अवैध संबंध था। चूंकि सूरज के पिता रोजी-रोटी को लेकर बाहर रहते थे। ऐसे में कपिल अक्सर घर आता और सूरज की मां से शारीरिक संबंध बनाता था। वहीं, कपिल का इस तरह बार-बार घर आना और बंद कमरे में मां के साथ रहना सूरज को अच्छा नहीं लगता था। (प्रतीकात्मक फोटो)</p>


पुलिस के मुताबिक कपिल का 15 वर्षीय सूरज की मां से अवैध संबंध था। चूंकि सूरज के पिता रोजी-रोटी को लेकर बाहर रहते थे। ऐसे में कपिल अक्सर घर आता और सूरज की मां से शारीरिक संबंध बनाता था। वहीं, कपिल का इस तरह बार-बार घर आना और बंद कमरे में मां के साथ रहना सूरज को अच्छा नहीं लगता था। (प्रतीकात्मक फोटो)

<p><br />
सूरज ने कई बार विरोध भी जताया था। ऐसे में कपिल में उसे राह से हटा देना ही उचित समझा। ताकि उसका प्रेम की राह में कोई कांटा न बन सके। (प्रतीकात्मक फोटो)<br />
 </p>


सूरज ने कई बार विरोध भी जताया था। ऐसे में कपिल में उसे राह से हटा देना ही उचित समझा। ताकि उसका प्रेम की राह में कोई कांटा न बन सके। (प्रतीकात्मक फोटो)
 

<p><br />
कपिल ने अपने षड़यंत्र के तहत अपने बहनोई सुनील पासवान को साथ में लेकर 12 जून को सूरज की गला दबाकर हत्या कर दी। (प्रतीकात्मक फोटो)<br />
 </p>


कपिल ने अपने षड़यंत्र के तहत अपने बहनोई सुनील पासवान को साथ में लेकर 12 जून को सूरज की गला दबाकर हत्या कर दी। (प्रतीकात्मक फोटो)
 

<p><br />
सूरज की हत्या के बाद उसके शव को बधार में फेंक दिया। लेकिन, हत्या की इस वारदात के दौरान घटना स्थल पर उसका वोटर आईडी कार्ड गिर गया, जो जांच में पहुंची पुलिस के हाथ लग गई। जिससे पुलिस ने परत दर परत राज खुलने लगी और आखिरकार कपिल ने सारे राज खोल दिए। (प्रतीकात्मक फोटो)<br />
 </p>


सूरज की हत्या के बाद उसके शव को बधार में फेंक दिया। लेकिन, हत्या की इस वारदात के दौरान घटना स्थल पर उसका वोटर आईडी कार्ड गिर गया, जो जांच में पहुंची पुलिस के हाथ लग गई। जिससे पुलिस ने परत दर परत राज खुलने लगी और आखिरकार कपिल ने सारे राज खोल दिए। (प्रतीकात्मक फोटो)
 

<p><br />
एसडीपीओ अनूप कुमार ने कहा है कि शुरू से ही बिल्कुल ब्लाइंड इस केस को सुलझा लेने वाले पुलिसकर्मियों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। (प्रतीकात्मक फोटो)</p>


एसडीपीओ अनूप कुमार ने कहा है कि शुरू से ही बिल्कुल ब्लाइंड इस केस को सुलझा लेने वाले पुलिसकर्मियों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। (प्रतीकात्मक फोटो)

loader