Asianet News Hindi

Post Office की इस स्कीम में 100 रुपए से भी खोल सकते हैं अकाउंट, सरकारी गारंटी के साथ मिलेगा अच्छा रिटर्न

First Published Nov 9, 2020, 9:09 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। अक्सर लोग सोचते हैं कि जब उनके पास ज्यादा पैसे होंगे तो वे बचत की शुरुआत करेंगे। लेकिन ऐसा हो नहीं पाता है। पैसे खर्च हो जाते हैं और बचत नहीं हो पाती है। इसलिए छोटी रकम से भी बचत की शुरुआत कर देनी चाहिए। पोस्ट ऑफिस (Post Office) की कुछ स्कीम्स ऐसी हैं, जिनमें बहुत छोटी रकम से भी बचत की शुरुआत की जा सकती है।अगर कोई चाहे तो पोस्ट ऑफिस के रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट (RD) में सिर्फ 100 रुपए से बचत की शुरुआत कर सकता है। पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में निवेश करना हमेशा फायदेमंद होता है। पोस्ट ऑफिस में किया जाने वाला निवेश हमेशा सुरक्षित रहता है। पोस्ट ऑफिस में जमा रकम पर सरकार की गारंटी मिलती है। जानें पोस्ट ऑफिस के रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में कैसे कर सकते हैं निवेश।
(फाइल फोटो)
 

क्या है यह स्कीम
पोस्ट ऑफिस के रिक​रिंग डिपॉजिट छोटी-छोटी किस्तों में पैसा जमा किया जा सकता है। यह सरकारी गारंटी वाली स्कीम है। पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट में 5 साल के लिए निवेश किया जा सकता है। हालांकि, कुछ बैंक 6 महीने से लेकर साल भर, 2 साल और 3 साल के ​रिकरिंग अकाउंट में निवेश की सुविधा देते हैं। 
(फाइल फोटो)
 

क्या है यह स्कीम
पोस्ट ऑफिस के रिक​रिंग डिपॉजिट छोटी-छोटी किस्तों में पैसा जमा किया जा सकता है। यह सरकारी गारंटी वाली स्कीम है। पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट में 5 साल के लिए निवेश किया जा सकता है। हालांकि, कुछ बैंक 6 महीने से लेकर साल भर, 2 साल और 3 साल के ​रिकरिंग अकाउंट में निवेश की सुविधा देते हैं। 
(फाइल फोटो)
 

ब्याज दर 
फिलहाल पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट पर 5.8 फीसदी की दर से ब्याज मिल दिया जा रहा है। यह दर 1 अप्रैल 2020 से लागू है। रिकरिंग डिपॉजिट पर ब्याज दर तिमाही आधार पर तय की जाती है। इसमें ब्याज हर 3 महीने के अंत में चक्रवृद्धि ब्याज स​हित जोड़ दिया जाता है। 
(फाइल फोटो)
 

ब्याज दर 
फिलहाल पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट पर 5.8 फीसदी की दर से ब्याज मिल दिया जा रहा है। यह दर 1 अप्रैल 2020 से लागू है। रिकरिंग डिपॉजिट पर ब्याज दर तिमाही आधार पर तय की जाती है। इसमें ब्याज हर 3 महीने के अंत में चक्रवृद्धि ब्याज स​हित जोड़ दिया जाता है। 
(फाइल फोटो)
 

100 रुपए से खोल सकते हैं अकाउंट
पोस्ट ऑफिस की आरडी (RD) स्कीम में कम से कम 100 रुपए से निवेश की शुरुआत की जा सकती है। इससे ज्यादा की बचत 10 रुपए के मल्टीपल में जमा की जा सकती है। अधिकतम जमा राशि की कोई लिमिट नहीं है। 10 रुपए के मल्टीपल में कितनी भी बड़ी रकम आरडी अकाउंट में जमा की जा सकती है।
(फाइल फोटो)
 

100 रुपए से खोल सकते हैं अकाउंट
पोस्ट ऑफिस की आरडी (RD) स्कीम में कम से कम 100 रुपए से निवेश की शुरुआत की जा सकती है। इससे ज्यादा की बचत 10 रुपए के मल्टीपल में जमा की जा सकती है। अधिकतम जमा राशि की कोई लिमिट नहीं है। 10 रुपए के मल्टीपल में कितनी भी बड़ी रकम आरडी अकाउंट में जमा की जा सकती है।
(फाइल फोटो)
 

खुलवा सकते हैं कई खाते
पोस्ट ऑफिस की  रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में कोई भी व्यक्ति अपने नाम ​से चाहे जितने भी आरडी खाते खुलवा सकता है। इस स्कीम में खाता सिर्फ व्यक्तिगत रूप से खुलवाया जा सकता है। परिवार (HUF) या संस्था के नाम पर खाता नहीं खोला जा सकता। 
(फाइल फोटो)
 

खुलवा सकते हैं कई खाते
पोस्ट ऑफिस की  रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में कोई भी व्यक्ति अपने नाम ​से चाहे जितने भी आरडी खाते खुलवा सकता है। इस स्कीम में खाता सिर्फ व्यक्तिगत रूप से खुलवाया जा सकता है। परिवार (HUF) या संस्था के नाम पर खाता नहीं खोला जा सकता। 
(फाइल फोटो)
 

खोल सकते हैं जॉइंट अकाउंट
पोस्ट ऑफिस की रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में दो वयस्क व्यक्ति एक साथ मिलकर जॉइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं। इसके अलावा, पहले से खोले गए किसी व्यक्तिगत आरडी खाते को कभी भी जॉइंट अकाउंट में बदला जा सकता है। साथ ही, पहले खोले गए  जॉइंट आरडी अकाउंट को कभी भी व्यक्तिगत आरडी खाते में बदला जा सकता हैं।
(फाइल फोटो)
 

खोल सकते हैं जॉइंट अकाउंट
पोस्ट ऑफिस की रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में दो वयस्क व्यक्ति एक साथ मिलकर जॉइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं। इसके अलावा, पहले से खोले गए किसी व्यक्तिगत आरडी खाते को कभी भी जॉइंट अकाउंट में बदला जा सकता है। साथ ही, पहले खोले गए  जॉइंट आरडी अकाउंट को कभी भी व्यक्तिगत आरडी खाते में बदला जा सकता हैं।
(फाइल फोटो)
 

समय से किस्त जमा नहीं करने पर लगता है जुर्माना
पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में तय तारीख तक किस्त जमा नहीं करने पर जुर्माना देना पड़ता है। देर से किस्त जमा करने पर 1 फीसदी महीने की दर से जुर्माना जमा करना पड़ता है। अगर लगातार 4 किस्तें जमा नहीं की गईं तो अकाउंट बंद भी कर दिया जाता है। इसलिए समय से किस्त जमा करने का ध्यान रखना चाहिए।
(फाइल फोटो)


 

समय से किस्त जमा नहीं करने पर लगता है जुर्माना
पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में तय तारीख तक किस्त जमा नहीं करने पर जुर्माना देना पड़ता है। देर से किस्त जमा करने पर 1 फीसदी महीने की दर से जुर्माना जमा करना पड़ता है। अगर लगातार 4 किस्तें जमा नहीं की गईं तो अकाउंट बंद भी कर दिया जाता है। इसलिए समय से किस्त जमा करने का ध्यान रखना चाहिए।
(फाइल फोटो)


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios