Asianet News Hindi

इस सरकारी स्कीम में मिल रहा है 1 लाख से ज्यादा का गारंटीड रिटर्न, पैसों के लिए नहीं रहना होगा किसी का मोहताज

First Published Sep 10, 2020, 10:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। आज के समय में ऐसी नौकरियां नहीं रह गई हैं, जिनमें रिटायरमेंट के बाद नियमित पेंशन मिलती हो। इसलिए भविष्य की आर्थिक सुरक्षा लोगों के लिए चिंता का एक बड़ी वजह बनी रहती है। समय रहते अगर इसके लिए इंतजाम नहीं किया गया तो बुढ़ापे में लोगों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है। बहरहाल, केंद्र सरकार ने एक ऐसी योजना शुरू की है, जिससे इस समस्या का आसानी से समाधान हो सकता है। इस योजना में निवेश करने पर सीनियर सिटिजन्स को हर महीने पेंशन मिलती है। जानें इस योजना के बारे में। 
(फाइल फोटो)
 

क्या है यह योजना
इसका नाम  प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना (PMVVY) है। इस योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को 10 साल तक एक तय दर से गारंटीड पेंशन मिलती है।
(फाइल फोटो)

क्या है यह योजना
इसका नाम  प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना (PMVVY) है। इस योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को 10 साल तक एक तय दर से गारंटीड पेंशन मिलती है।
(फाइल फोटो)

तीन साल के लिए बढ़ाया गया समय
इस योजना की अवधि को केंद्र सरकार ने 3 साल के लिए बढ़ा दिया है। अब पीएम व्यय वंदना योजना की अंतिम तारीख 31 मार्च, 2023 तक के लिए बढ़ा दी गई है।  
(फाइल फोटो)

तीन साल के लिए बढ़ाया गया समय
इस योजना की अवधि को केंद्र सरकार ने 3 साल के लिए बढ़ा दिया है। अब पीएम व्यय वंदना योजना की अंतिम तारीख 31 मार्च, 2023 तक के लिए बढ़ा दी गई है।  
(फाइल फोटो)

कितना मिलता है ब्याज
केंद्र सरकार की इस योजना का फायदा भारतीय जीवन बीमा निगम के जरिए लिया जा सकता है। इस स्कीम पर 7.40 फीसदी की सालाना दर से ब्याज मिलता है।  7.40 फीसदी का ब्याज का लाभ उन लोगों को मिलेगा, जो इस वित्त वर्ष में योजना में शामिल होंगे।
(फाइल फोटो)

कितना मिलता है ब्याज
केंद्र सरकार की इस योजना का फायदा भारतीय जीवन बीमा निगम के जरिए लिया जा सकता है। इस स्कीम पर 7.40 फीसदी की सालाना दर से ब्याज मिलता है।  7.40 फीसदी का ब्याज का लाभ उन लोगों को मिलेगा, जो इस वित्त वर्ष में योजना में शामिल होंगे।
(फाइल फोटो)

कितने लोग ले चुके हैं लाभ
अब तक करीब 6.28 लाख लोग सरकार की इस योजना का लाभ ले चुके हैं। योजना में लगातार लोग शामिल हो रहे हैं। ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस योजना का लाभ मिल सके, इसीलिए सरकार ने इसकी अवधि बढ़ाई है। 
(फाइल फोटो)
 

कितने लोग ले चुके हैं लाभ
अब तक करीब 6.28 लाख लोग सरकार की इस योजना का लाभ ले चुके हैं। योजना में लगातार लोग शामिल हो रहे हैं। ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस योजना का लाभ मिल सके, इसीलिए सरकार ने इसकी अवधि बढ़ाई है। 
(फाइल फोटो)
 

कौन ले सकते हैं इस योजना का लाभ
केंद्र सरकार की इस योजना का लाभ लेने के​ लिए न्यूनतम उम्र 60 साल होनी चाहिए। 60 साल से ज्यादा उम्र के वरिष्ठ नागरिक भी इस योजना में शामिल हो सकते हैं। इस योजना में अधिकतम उम्र की कोई सीमा नहीं है।
(फाइल फोटो)

कौन ले सकते हैं इस योजना का लाभ
केंद्र सरकार की इस योजना का लाभ लेने के​ लिए न्यूनतम उम्र 60 साल होनी चाहिए। 60 साल से ज्यादा उम्र के वरिष्ठ नागरिक भी इस योजना में शामिल हो सकते हैं। इस योजना में अधिकतम उम्र की कोई सीमा नहीं है।
(फाइल फोटो)

कितना कर सकते हैं निवेश
इस योजना के तहत एक व्यक्ति अधिकतम 15 लाख रुपए का निवेश कर सकता है। इस योजना में कम से कम मासिक पेंशन 1000 रुपए और अधिकतम 9,250 रुपए है। पेंशन का भुगतान मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर किया जाता है।
(फाइल फोटो)

कितना कर सकते हैं निवेश
इस योजना के तहत एक व्यक्ति अधिकतम 15 लाख रुपए का निवेश कर सकता है। इस योजना में कम से कम मासिक पेंशन 1000 रुपए और अधिकतम 9,250 रुपए है। पेंशन का भुगतान मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर किया जाता है।
(फाइल फोटो)

कैसे कर सकते हैं सब्सक्राइब
इस योजना का लाभ लेने के लिए लाइफ इन्श्योरेंस कॉरपोरेशन में एक एप्लिकेशन फर्म भरना होता है। इसके साथ पहचान पत्र और दूसरे जरूरी दस्तावेज देने होते हैं। इसके लिए ऑनलाइन एप्लिकेशन भी दिया जा सकता है। 
(फाइल फोटो)

कैसे कर सकते हैं सब्सक्राइब
इस योजना का लाभ लेने के लिए लाइफ इन्श्योरेंस कॉरपोरेशन में एक एप्लिकेशन फर्म भरना होता है। इसके साथ पहचान पत्र और दूसरे जरूरी दस्तावेज देने होते हैं। इसके लिए ऑनलाइन एप्लिकेशन भी दिया जा सकता है। 
(फाइल फोटो)

लोन की भी मिलती है सुविधा
इस स्कीम के तहत जमा राशि पर लोन लेने की भी सुविधा है। लोन जमा राशि के 75 फीसदी से ज्यादा नहीं मिल सकता। इस योजना में प्रीमेच्योर विद्ड्रॉवल की सुविधा भी कुछ खास स्थितियों में मिलती है। अगर पति या पत्नी को कोई गंभीर बीमारी हो गई तो यह सुविधा मिलती है। हालांकि, प्रीमेच्योर विद्ड्रॉवल में जमा राशि का सिर्फ 98 फीसदी ही मिलता है।  
(फाइल फोटो)
 

लोन की भी मिलती है सुविधा
इस स्कीम के तहत जमा राशि पर लोन लेने की भी सुविधा है। लोन जमा राशि के 75 फीसदी से ज्यादा नहीं मिल सकता। इस योजना में प्रीमेच्योर विद्ड्रॉवल की सुविधा भी कुछ खास स्थितियों में मिलती है। अगर पति या पत्नी को कोई गंभीर बीमारी हो गई तो यह सुविधा मिलती है। हालांकि, प्रीमेच्योर विद्ड्रॉवल में जमा राशि का सिर्फ 98 फीसदी ही मिलता है।  
(फाइल फोटो)
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios