Asianet News Hindi

भारतीय मूल की स्पेस साइंटिस्ट को NASA ने चुना कार्यकारी अध्यक्ष, जानिए कौन हैं भव्या लाल?

First Published Feb 2, 2021, 12:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. दुनियाभर में चर्चित रहने वाली अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) ने हाल ही में भारतवंशी भव्या लाल (Bhavya Lal) को कार्यकारी प्रमुख (Acting chief) नियुक्त किया है। भव्या लाल लंबे समय से नासा से जुड़ी हुई हैं और कई प्रोजेक्ट के लिए काम कर चुकी हैं। नासा ने भव्या को इस पद पर चुनते हुए उन्हें बेहद काबिल और कर्मठ कर्मचारी बताया। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने उन्हें चुना है। आइए जानते हैं कि भव्या लाल कौन हैं, भव्या लाल की फुल बायोग्राफी और करियर (Bhavya Lal Biography and Career) के अनसुने पहलू- 
 

भारतीय मूल की अमेरिकी भव्या (Indian Origin Bhavla Lal)  को अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने यह अहम जिम्मेदारी दी है। बाइडेन स्पेस एजेंसी में कुछ बदलाव और समीक्षा करना चाहते हैं। भव्या मूल रूप से स्पेस साइंटिस्ट हैं। वे बाइडेन की ट्रांजिशन टीम में भी रह चुकी हैं।

भारतीय मूल की अमेरिकी भव्या (Indian Origin Bhavla Lal)  को अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने यह अहम जिम्मेदारी दी है। बाइडेन स्पेस एजेंसी में कुछ बदलाव और समीक्षा करना चाहते हैं। भव्या मूल रूप से स्पेस साइंटिस्ट हैं। वे बाइडेन की ट्रांजिशन टीम में भी रह चुकी हैं।

भव्या बाइडेन द्वारा नासा में बदलाव संबंधी समीक्षा दल की सदस्य हैं और बाइडेन प्रशासन (Biden Administration) के अंतर्गत एजेंसी में परिवर्तन संबंधी कार्यों को देख रही हैं। नासा के मुताबिक भव्या एजेंसी में बजट और फाइनेंस पर सीनियर एडवाइजर के तौर पर भी अपनी सेवाएं देंगी।

भव्या बाइडेन द्वारा नासा में बदलाव संबंधी समीक्षा दल की सदस्य हैं और बाइडेन प्रशासन (Biden Administration) के अंतर्गत एजेंसी में परिवर्तन संबंधी कार्यों को देख रही हैं। नासा के मुताबिक भव्या एजेंसी में बजट और फाइनेंस पर सीनियर एडवाइजर के तौर पर भी अपनी सेवाएं देंगी।

नासा ने बांधे भव्या की तारीफों के पुल (NASA praised Bhavya Lal)

 

सोमवार रात NASA ने एक बयान में कहा- भव्या हर लिहाज से इस पद के लिए काबिल हैं। उनके पास इंजीनियरिंग और स्पेस टेक्नोलॉजी का अनुभव है। वे 2005 से 2020 तक साइंस एंड टेक्नोलॉजी पॉलिसी इंस्टीट्यूट (STPI) के डिफेंस एनालिसिस विंग में मेंबर और रिसर्चर रही हैं।

नासा ने बांधे भव्या की तारीफों के पुल (NASA praised Bhavya Lal)

 

सोमवार रात NASA ने एक बयान में कहा- भव्या हर लिहाज से इस पद के लिए काबिल हैं। उनके पास इंजीनियरिंग और स्पेस टेक्नोलॉजी का अनुभव है। वे 2005 से 2020 तक साइंस एंड टेक्नोलॉजी पॉलिसी इंस्टीट्यूट (STPI) के डिफेंस एनालिसिस विंग में मेंबर और रिसर्चर रही हैं।

बयान में आगे कहा गया- स्पेस टेक्नोलॉजी, स्पेस स्ट्रैटेजी एंड पॉलिसी में खासा अनुभव होने के साथ उन्होंने व्हाइट हाउस में पॉलिसी और नेशनल स्पेस काउंसिल में भी काम किया है। लाल न सिर्फ डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस बल्कि स्पेस इंटेलिजेंस कम्युनिटी की भी गहरी जानकारी रखती हैं।

बयान में आगे कहा गया- स्पेस टेक्नोलॉजी, स्पेस स्ट्रैटेजी एंड पॉलिसी में खासा अनुभव होने के साथ उन्होंने व्हाइट हाउस में पॉलिसी और नेशनल स्पेस काउंसिल में भी काम किया है। लाल न सिर्फ डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस बल्कि स्पेस इंटेलिजेंस कम्युनिटी की भी गहरी जानकारी रखती हैं।

अतंरिक्ष विज्ञान क्षेत्र में बड़ा नाम हैं भव्या (Bhavya Lal a big name in Space Science)

 

भव्या लाल ने न्यूक्लियर एंड एमर्जिंग टेक्नोलॉजीज इन स्पेस (NETS) पर अमेरिकन न्यूक्लियर सोसाइटी के वार्षिक सम्मेलन में पॉलिसी ट्रैक की सह-अध्यक्ष भी हैं। भव्या ने स्मिथसोनियन नेशनल एयर एंड स्पेस म्यूजियम के साथ स्पेस हिस्ट्री और और पॉलिसी पर कई सेमिनार और इवेंट्स भी आयोजित कर चुकी हैं। स्पेस सेक्टर में भव्या के योगदान के लिए उन्हें इंटरनेशनल अकेदमी ऑफ एस्ट्रोनॉट्स के एक मेंबर के रूप में चुना जा चुका है। 

अतंरिक्ष विज्ञान क्षेत्र में बड़ा नाम हैं भव्या (Bhavya Lal a big name in Space Science)

 

भव्या लाल ने न्यूक्लियर एंड एमर्जिंग टेक्नोलॉजीज इन स्पेस (NETS) पर अमेरिकन न्यूक्लियर सोसाइटी के वार्षिक सम्मेलन में पॉलिसी ट्रैक की सह-अध्यक्ष भी हैं। भव्या ने स्मिथसोनियन नेशनल एयर एंड स्पेस म्यूजियम के साथ स्पेस हिस्ट्री और और पॉलिसी पर कई सेमिनार और इवेंट्स भी आयोजित कर चुकी हैं। स्पेस सेक्टर में भव्या के योगदान के लिए उन्हें इंटरनेशनल अकेदमी ऑफ एस्ट्रोनॉट्स के एक मेंबर के रूप में चुना जा चुका है। 

भव्या लाल स्पेस टेक्नोलॉजी और पॉलिसी कम्युनिटी में बड़ा नाम हैं, जो 50 से ज्यादा पेपर पब्लिश कर चुकी हैं। भव्या लाल ने 5 नेशनल अकादमी ऑफ साइंसिज, इंजीनियरिंग और मेडिसिन (NASEM) कमेटी में भी काम किया है।

भव्या लाल स्पेस टेक्नोलॉजी और पॉलिसी कम्युनिटी में बड़ा नाम हैं, जो 50 से ज्यादा पेपर पब्लिश कर चुकी हैं। भव्या लाल ने 5 नेशनल अकादमी ऑफ साइंसिज, इंजीनियरिंग और मेडिसिन (NASEM) कमेटी में भी काम किया है।

नासा सग भव्या का करियर (Bhavya Lal Career with NASA)

 

अमेरिकी न्यूक्लियर सोसायटी और इमर्जिंग टेक्नोलॉजी से जुड़ी दो सरकारी कंपनियों ने भव्या को बतौर एडवाइजर अपने बोर्ड में जगह दी थी। भव्या लगातार दो बार नेशनल ओसियानिक एडमिनिस्ट्रेशन कमेटी को लीड कर चुकी हैं। नासा में पहले वे बतौर एडवाइजरी काउंसिल मेंबर भी रह चुकी हैं।
 

नासा सग भव्या का करियर (Bhavya Lal Career with NASA)

 

अमेरिकी न्यूक्लियर सोसायटी और इमर्जिंग टेक्नोलॉजी से जुड़ी दो सरकारी कंपनियों ने भव्या को बतौर एडवाइजर अपने बोर्ड में जगह दी थी। भव्या लगातार दो बार नेशनल ओसियानिक एडमिनिस्ट्रेशन कमेटी को लीड कर चुकी हैं। नासा में पहले वे बतौर एडवाइजरी काउंसिल मेंबर भी रह चुकी हैं।
 

भव्या लाल ने कहां से ली शिक्षा (Bhavya Lal Education)

 

भव्या लाल की शैक्षणिक योग्यता की बात की जाए तो उन्होंने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) से न्यूक्लियर इंजीनियरिंग में बैचलर ऑफ साइंस, और मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री प्राप्त की है।

 

भव्या ने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से टेक्नोलॉजी और पॉलिसी में मास्टर ऑफ साइंस भी किया है। साथ ही जॉर्ज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी से उन्होंने पब्लिस पॉलिसी एंड पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में डॉक्टोरेट की डिग्री भी प्राप्त की है।

भव्या लाल ने कहां से ली शिक्षा (Bhavya Lal Education)

 

भव्या लाल की शैक्षणिक योग्यता की बात की जाए तो उन्होंने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) से न्यूक्लियर इंजीनियरिंग में बैचलर ऑफ साइंस, और मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री प्राप्त की है।

 

भव्या ने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से टेक्नोलॉजी और पॉलिसी में मास्टर ऑफ साइंस भी किया है। साथ ही जॉर्ज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी से उन्होंने पब्लिस पॉलिसी एंड पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में डॉक्टोरेट की डिग्री भी प्राप्त की है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios