Asianet News Hindi

बहू ऐश्वर्या की फिल्म से कमबैक कर बदली थी अमिताभ की किस्मत नहीं तो कर्जदारों की वजह बदतर हो गई थी जिंदगी

First Published Oct 27, 2020, 1:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. डायरेक्टर आदित्य चोपड़ा की फिल्म मोहब्बतें (mohabbatein) की रिलीज को आज 20 साल पूरे हो गए हैं। फिल्म 27 अक्टूबर, 2000 को रिलीज हुई। फिल्म बॉक्सऑफिस पर ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी। शाहरुख खान (shahrukh khan), अमिताभ बच्चन (amitabh bachchan) और ऐश्वर्या राय (aishwarya rai) स्टारर ये फिल्म 20 साल बाद भी लोगों के दिलों में 'मोहब्बतें' जिंदा रखने में कामयाब रही है। शायद कम ही लोग जानते हैं कि यहीं वो फिल्म जिससे अमिताभ ने सक्सेसफुल कमबैक किया था। फिल्म में उन्होंने सख्त स्कूल प्रिंसिपल का किरदार निभाया था। उनके लुक को इंडो-वेस्टर्न रखा गया था। उनके इस लुक को करन जौहर ने डिजाइन किया था। साथ ही फिल्म में उनके सारे कॉस्टयूम भी करन ने ही डिजाइन किए थे। आज फिल्म से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बतानें जा रहे है, जिनके बारें शायद कम ही लोग जानते होंगे।

इस फिल्म से न सिर्फ अमिताभ ने सक्सेसफुल कमबैक किया था बल्कि कई न्यू कमर्स के लिए भी यह फिल्म वरदान साबित हुई थी। हालांकि, आगे चलकर इसी फिल्म से डेब्यू करने वाले कई स्टार्स इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने में कामयाबी हासिल नहीं कर पाए। 

इस फिल्म से न सिर्फ अमिताभ ने सक्सेसफुल कमबैक किया था बल्कि कई न्यू कमर्स के लिए भी यह फिल्म वरदान साबित हुई थी। हालांकि, आगे चलकर इसी फिल्म से डेब्यू करने वाले कई स्टार्स इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने में कामयाबी हासिल नहीं कर पाए। 

आपको बता दें कि इस फिल्म में किम शर्मा ने संजना और शमिता शेट्टी ने इशिका धनराजगीर का रोल प्ले किया लेकिन यह दोनों ही रोल पहले काजोल और करिश्मा कपूर को ऑफर हुए थे लेकिन किन्ही कारणों से दोनों ने फिल्म में काम करने से मना कर दिया था। 

आपको बता दें कि इस फिल्म में किम शर्मा ने संजना और शमिता शेट्टी ने इशिका धनराजगीर का रोल प्ले किया लेकिन यह दोनों ही रोल पहले काजोल और करिश्मा कपूर को ऑफर हुए थे लेकिन किन्ही कारणों से दोनों ने फिल्म में काम करने से मना कर दिया था। 

फिल्म में शाहरुख खान ने राज आर्यन का किरदार निभाया था। इस फिल्म में मिथुन चक्रवर्ती का भी एक छोटा-सा रोल था, लेकिन फिल्म लंबी होने की वजह से उनका रोल हटाना पड़ा। 

फिल्म में शाहरुख खान ने राज आर्यन का किरदार निभाया था। इस फिल्म में मिथुन चक्रवर्ती का भी एक छोटा-सा रोल था, लेकिन फिल्म लंबी होने की वजह से उनका रोल हटाना पड़ा। 

बता दें कि पहले फिल्म अमिताभ की पत्नी का भी रोल दिखाया जाने वाला था। इसके लिए श्रीदेवी को अप्रोच भी किया गया था, लेकिन उनके मना करने पर यह रोल ही हटा दिया गया।

बता दें कि पहले फिल्म अमिताभ की पत्नी का भी रोल दिखाया जाने वाला था। इसके लिए श्रीदेवी को अप्रोच भी किया गया था, लेकिन उनके मना करने पर यह रोल ही हटा दिया गया।

आपको जानकर थोड़ा अजीब लगे लेकिन यश चोपड़ा मोहब्बतें में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को भी छोटे से रोल के लिए कास्ट करना चाहते थे और रोल था अमिताभ बच्चन के सौतेले बेटे का लेकिन बाद में उनके रोल को खत्म कर दिया गया।

आपको जानकर थोड़ा अजीब लगे लेकिन यश चोपड़ा मोहब्बतें में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को भी छोटे से रोल के लिए कास्ट करना चाहते थे और रोल था अमिताभ बच्चन के सौतेले बेटे का लेकिन बाद में उनके रोल को खत्म कर दिया गया।

इस फिल्म को करने के लिए शाहरूख खान ने स्क्रिप्ट पढ़ने तक की जरूरत नहीं समझी। जी हां शाहरूख ने मोहब्बतें बिना स्क्रिप्ट पढ़े साइन की थी।
 

इस फिल्म को करने के लिए शाहरूख खान ने स्क्रिप्ट पढ़ने तक की जरूरत नहीं समझी। जी हां शाहरूख ने मोहब्बतें बिना स्क्रिप्ट पढ़े साइन की थी।
 

मोहब्बतें 2000 में आई थी और ये उस समय की फिल्म है जब अमिताभ अपने करियर के बुरे दौर से गुजर रहे थे। उनके पास सिर्फ दो फिल्में थीं। अमिताभ बेझिझक यश चोपड़ा के पास गए और उनसे सीधे-सीधे कहा कि उन्हें काम चाहिए। इसके पहले जब वो यश जी के यहां गए थे तो उन्हें दीवार के लिए कास्ट किया गया था।

मोहब्बतें 2000 में आई थी और ये उस समय की फिल्म है जब अमिताभ अपने करियर के बुरे दौर से गुजर रहे थे। उनके पास सिर्फ दो फिल्में थीं। अमिताभ बेझिझक यश चोपड़ा के पास गए और उनसे सीधे-सीधे कहा कि उन्हें काम चाहिए। इसके पहले जब वो यश जी के यहां गए थे तो उन्हें दीवार के लिए कास्ट किया गया था।

2000 की ही बात है, जब अमिताभ पूरी तरह कर्ज में डूब चुके थे। उनपर 90 करोड़ का कर्ज था। उनकी कंपनी एबीसीएल (अमिताभ बच्चन कॉपरेशन लिमिटेड) बंद होने की कगार पर आ गई थी। उनके पास न खास फिल्में थी और न ही कोई दूसरा ऐसा काम, जिससे वो कर्ज चुका सकते थे।

2000 की ही बात है, जब अमिताभ पूरी तरह कर्ज में डूब चुके थे। उनपर 90 करोड़ का कर्ज था। उनकी कंपनी एबीसीएल (अमिताभ बच्चन कॉपरेशन लिमिटेड) बंद होने की कगार पर आ गई थी। उनके पास न खास फिल्में थी और न ही कोई दूसरा ऐसा काम, जिससे वो कर्ज चुका सकते थे।

उनके घर के बाहर सुबह से लेनदारों की लंबी लाइन लग जाया करती थी। सिर्फ इतना ही नहीं, पैसे वापस लेने के लिए लोग उन्हें गालियां और धमकियां तक देते थे। बिग बी ही नहीं, पूरे बच्चन परिवार के लिए यह बेहद बुरा वक्त था।

उनके घर के बाहर सुबह से लेनदारों की लंबी लाइन लग जाया करती थी। सिर्फ इतना ही नहीं, पैसे वापस लेने के लिए लोग उन्हें गालियां और धमकियां तक देते थे। बिग बी ही नहीं, पूरे बच्चन परिवार के लिए यह बेहद बुरा वक्त था।


अमिताभ ने खुद एक बार इंटरव्यू में इस बात का जिक्र किया था कि उनके 44 साल के करियर का वो सबसे बुरा और भयानक वक्त था। तब बिग बी यश चोपड़ा के पास काम मांगने गए थे और यश ने उन्हें 'मोहब्बतें' में एक अहम रोल दिया था। मगर, जितना कर्ज अमिताभ पर था, उसके लिए सिर्फ 'मोहब्बतें' में एक रोल मिलना काफी नहीं था। यही वो वक्त था जब अमिताभ को टीवी रियलिटी शो कौन बनेगा करोड़पति भी मिला और उनके करियर की दूसरे इनिंग की शानदार शुरुआत हुई थी।


अमिताभ ने खुद एक बार इंटरव्यू में इस बात का जिक्र किया था कि उनके 44 साल के करियर का वो सबसे बुरा और भयानक वक्त था। तब बिग बी यश चोपड़ा के पास काम मांगने गए थे और यश ने उन्हें 'मोहब्बतें' में एक अहम रोल दिया था। मगर, जितना कर्ज अमिताभ पर था, उसके लिए सिर्फ 'मोहब्बतें' में एक रोल मिलना काफी नहीं था। यही वो वक्त था जब अमिताभ को टीवी रियलिटी शो कौन बनेगा करोड़पति भी मिला और उनके करियर की दूसरे इनिंग की शानदार शुरुआत हुई थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios