Asianet News Hindi

4 महीने पहले ही हुआ था ऋषि कपूर की बहन का निधन, उसे भी था कैंसर, रिश्ते में थी अमिताभ की समधन

First Published Apr 30, 2020, 12:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. वेटरन एक्टर ऋषि कपूर का गुरुवार सुबह मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल में निधन हो गया। वे लंबे समय से कैंसर से पीड़ित और अमेरिका में उनका इलाज चला था। हालांकि, इलाज कराकर लौटने के बाद भी उनकी तबीयत बीच-बीच में बिगड़ती रही। उनके निधन की जानकारी अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर दी। ऋषि पिछले साल सितंबर में अमेरिका से भारत लौटे थे। उनके अंतिम संस्कार में कुछ गिने-चुने सेलेब्स ही शामिल हो पाए। बता दें कि ऋषि की बेटी रिद्धिमा कपूर को मुंबई आने की परमिशन गृह मंत्रालय से मिल गई थी हालांकि वे पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाई। उन्होंने पिता के अंतिम दर्शन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किए।

बता दें कि जनवरी में ही उनकी बड़ी बहन ऋतु नंदा का निधन हुआ था। ऋतु भी लंबे समय से कैंसर से पीड़ित थी। उन्होंने 71 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कहा था। ऋतु के अंतिम संस्कार में शामिल होने पूरा कपूर खानदान दिल्ली पहुंचा था।

बता दें कि जनवरी में ही उनकी बड़ी बहन ऋतु नंदा का निधन हुआ था। ऋतु भी लंबे समय से कैंसर से पीड़ित थी। उन्होंने 71 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कहा था। ऋतु के अंतिम संस्कार में शामिल होने पूरा कपूर खानदान दिल्ली पहुंचा था।

आपको बता दें कि ऋषि कपूर की बड़ी बहन ऋतु नंदन रिश्ते में अमिताभ बच्चन की समधन लगती थी। अमिताभ की बेटी श्वेता बच्चन ऋतु की बहू है। 

आपको बता दें कि ऋषि कपूर की बड़ी बहन ऋतु नंदन रिश्ते में अमिताभ बच्चन की समधन लगती थी। अमिताभ की बेटी श्वेता बच्चन ऋतु की बहू है। 

वैसे तो कपूर खानदान की दो पीढ़ियां दुनिया को अलविदा कह चुकी है। पहली पीढ़ी पृथ्वीराज कपूर थे, जिनका निधन 29 मई 1971 को मुंबई में हुआ था। इसके बाद दूसरी पीढ़ी में राज कपूर, शम्मी कपूर और शशि कपूर थे। ये तीनों भी अब इस दुनिया में नहीं है। राज कपूर का निधन 1988 में हुआ, शम्मी कपूर का 2011 में और शशि कपूर 2017 में दुनिया छोड़ गए।

वैसे तो कपूर खानदान की दो पीढ़ियां दुनिया को अलविदा कह चुकी है। पहली पीढ़ी पृथ्वीराज कपूर थे, जिनका निधन 29 मई 1971 को मुंबई में हुआ था। इसके बाद दूसरी पीढ़ी में राज कपूर, शम्मी कपूर और शशि कपूर थे। ये तीनों भी अब इस दुनिया में नहीं है। राज कपूर का निधन 1988 में हुआ, शम्मी कपूर का 2011 में और शशि कपूर 2017 में दुनिया छोड़ गए।

तीसरी पीढ़ी में ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, राजीव कपूर, रीमा जैन, ऋतु नंदा, करन कपूर, कुणाल कपूर, संजना कपूर, आदित्य राज कपूर है। हालांकि, इस पीढ़ी के दो मेंबर यानी ऋतु नंदा और ऋषि कपूर अब इस दुनिया में नहीं है। दोनों मात्र 4 महीने के अंदर में दुनिया को अलविदा कह दिया। भाई बहन दोनों दी कैंसर से पीड़ित थे। 

तीसरी पीढ़ी में ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, राजीव कपूर, रीमा जैन, ऋतु नंदा, करन कपूर, कुणाल कपूर, संजना कपूर, आदित्य राज कपूर है। हालांकि, इस पीढ़ी के दो मेंबर यानी ऋतु नंदा और ऋषि कपूर अब इस दुनिया में नहीं है। दोनों मात्र 4 महीने के अंदर में दुनिया को अलविदा कह दिया। भाई बहन दोनों दी कैंसर से पीड़ित थे। 

बता दें कि ऋृषि कपूर का जन्म 4 सितंबर, 1952 को मुंबई में हुआ था। वह पृथ्वीराज कपूर परिवार में जन्मे थे। उनके पिता राज कपूर थे। अपनी पहली ही फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ के लिए उन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार ही मिला था। उन्हें ‘चिंटू’ के नाम से भी जाना जाता था। 2008 में उन्हें फिल्मफेयर की ओर से लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार दिया गया था।

बता दें कि ऋृषि कपूर का जन्म 4 सितंबर, 1952 को मुंबई में हुआ था। वह पृथ्वीराज कपूर परिवार में जन्मे थे। उनके पिता राज कपूर थे। अपनी पहली ही फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ के लिए उन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार ही मिला था। उन्हें ‘चिंटू’ के नाम से भी जाना जाता था। 2008 में उन्हें फिल्मफेयर की ओर से लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार दिया गया था।

कई सुपरहिट फिल्मों में काम करने वाले ऋषि आखिर बार 2019 में आई फिल्म द बॉडी में नजर आए थे। जानकारी के मुताबिक, ऋषि कपूर को चेस्ट इन्फेक्शन, सांस लेने में दिक्कत और हल्का बुखार है। उनका कोविड-19 टेस्ट भी कराया जाएगा। दो स्पेशलिस्ट डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं। 

कई सुपरहिट फिल्मों में काम करने वाले ऋषि आखिर बार 2019 में आई फिल्म द बॉडी में नजर आए थे। जानकारी के मुताबिक, ऋषि कपूर को चेस्ट इन्फेक्शन, सांस लेने में दिक्कत और हल्का बुखार है। उनका कोविड-19 टेस्ट भी कराया जाएगा। दो स्पेशलिस्ट डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं। 

फैमिली के साथ ऋषि कपूर।

फैमिली के साथ ऋषि कपूर।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios