Asianet News Hindi

सफेद बाल, बड़ी फ्रेम का चश्मा, 50 साल में इतनी बदल गई Amitabh Bachchan की एक्ट्रेस, पहचानना भी मुश्किल

First Published Feb 28, 2021, 11:19 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. गुजरे जमाने की जानीमानी एक्ट्रेस जीनत अमान (zeenat aman) को बॉलीवुड इंडस्ट्री में 50 साल हो गए हैं। 50 साल पूरे होने की खुशी में जीनत ने अपने दोस्तों के साथ केक काटकर पार्टी एन्जॉय की। पार्टी में जीनत फ्रेंड्स के साथ डांस करती भी नजर आई। इस पार्टी से जुड़े कई सारे वीडियोज और फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। हालांकि, सामने आई फोटोज में जीनत अमान को पहचान पाना मुश्किल हो रहा है। सफेद बाल, बड़ी फ्रेम के चश्मा पहने नजर आई जीनत ही वो एक्ट्रेस है जिनसे बॉलीवुड में कदम रखते ही इंडस्ट्री का पूरा ट्रेंड बदल दिया था। उस दौरान जहां हीरोइनें फिल्मों में साड़ी और सलवार सूट पहना करती थी वहीं जीनत ने इसमें बोल्डनेस का तड़का लगाया। जीनत ने अपने वेस्टर्न अंदाज से इंडस्ट्री की पूरी हवा ही बदलकर रख दिया था। 

1970 में आई फिल्म हंगामा से जीनत ने डेब्यू किया था। शायद कम ही लोग जानते हैं कि जीनत ने बॉलीवुड में कदम रखते ही इंडस्ट्री का पूरा ट्रेंड बदलकर रख दिया था। अपने करियर में एक से बढ़कर एक फिल्में देने वाली जीनत अब गुमनाम जिंदगी गुजार रही है। 

1970 में आई फिल्म हंगामा से जीनत ने डेब्यू किया था। शायद कम ही लोग जानते हैं कि जीनत ने बॉलीवुड में कदम रखते ही इंडस्ट्री का पूरा ट्रेंड बदलकर रख दिया था। अपने करियर में एक से बढ़कर एक फिल्में देने वाली जीनत अब गुमनाम जिंदगी गुजार रही है। 

वैसे, जीनत की प्रोफेशनल लाइफ जितनी सक्सेसफुल रही उतनी सफल उनकी पर्सनल लाइफ नहीं रही है। करियर के पीक पर उन्होंने शादी की लेकिन उनकी शादीशुदा जिंदगी कामयाब नहीं हो पाई।
 

वैसे, जीनत की प्रोफेशनल लाइफ जितनी सक्सेसफुल रही उतनी सफल उनकी पर्सनल लाइफ नहीं रही है। करियर के पीक पर उन्होंने शादी की लेकिन उनकी शादीशुदा जिंदगी कामयाब नहीं हो पाई।
 

जीनत शुरू से मॉडलिंग में करियर बनाना चाहती थीं और इसी वजह से उन्होंने ब्यूटी कॉन्टेस्ट में हिस्सा लिया। 1970 में वे फेमिना मिस इंडिया और मिस इंडिया पैसिफिक इंटरनेशनल जीतने में कामयाब रहीं।

जीनत शुरू से मॉडलिंग में करियर बनाना चाहती थीं और इसी वजह से उन्होंने ब्यूटी कॉन्टेस्ट में हिस्सा लिया। 1970 में वे फेमिना मिस इंडिया और मिस इंडिया पैसिफिक इंटरनेशनल जीतने में कामयाब रहीं।

ब्यूटी कॉन्टेस्ट जीतने के बाद उन्हें बॉलीवुड से ऑफर मिल गया और 1971 में आई फिल्म हरे राम हरे कृष्णा ने उन्हें इंडस्ट्री में पहचान दिला दी। उन्हें फिल्मों में देव आनंद लेकर आए। फिल्मों में कदम रखने के बाद ही जीनत के अफेयर के किस्से भी चर्चा में आने लगे।

ब्यूटी कॉन्टेस्ट जीतने के बाद उन्हें बॉलीवुड से ऑफर मिल गया और 1971 में आई फिल्म हरे राम हरे कृष्णा ने उन्हें इंडस्ट्री में पहचान दिला दी। उन्हें फिल्मों में देव आनंद लेकर आए। फिल्मों में कदम रखने के बाद ही जीनत के अफेयर के किस्से भी चर्चा में आने लगे।

जीनत के पिता अमानुल्लाह खान स्क्रिप्ट राइट थे और बतौर सहायक उन्होंने मुगल-ए-आजम और पाकीजा जैसी फिल्मों की स्क्रिप्ट लिखी। वे अमान नाम से लिखते थे। जीनत जब 13 साल की थीं तब उनके पिता गुजर गए तो जीनत ने अपने नाम में पिता का नाम जोड़ लिया और वे जीनत खान से जीनत अमान बन गईं।

जीनत के पिता अमानुल्लाह खान स्क्रिप्ट राइट थे और बतौर सहायक उन्होंने मुगल-ए-आजम और पाकीजा जैसी फिल्मों की स्क्रिप्ट लिखी। वे अमान नाम से लिखते थे। जीनत जब 13 साल की थीं तब उनके पिता गुजर गए तो जीनत ने अपने नाम में पिता का नाम जोड़ लिया और वे जीनत खान से जीनत अमान बन गईं।

जीनत अमान को देव आनंद बेहद पसंद करते थे। उनके साथ उन्होंने हीरा पन्ना, इश्क इश्क इश्क, प्रेम शास्त्र, वारंट, डार्लिंग डार्लिंग और कलाबाज जैसी फिल्में की। बरसों बाद देव आनंद ने इस बात को स्वीकारा था कि वे जीनत को चाहने लगे थे।

जीनत अमान को देव आनंद बेहद पसंद करते थे। उनके साथ उन्होंने हीरा पन्ना, इश्क इश्क इश्क, प्रेम शास्त्र, वारंट, डार्लिंग डार्लिंग और कलाबाज जैसी फिल्में की। बरसों बाद देव आनंद ने इस बात को स्वीकारा था कि वे जीनत को चाहने लगे थे।

जीनत ने अपने करियर में अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, जितेंद्र, राजेश खन्ना, देव आनंद, शशि कपूर, मनोज कुमार, संजीव कुमार, फिरोज खान, संजय खान, ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, विनोद खन्ना जैसे सुपरस्टार्स के साथ काम किया। उन्होंने हरे रामा हरे कृष्णा, यादों की बरात, रोटी कपड़ा और मकान, अजनबी, धमर वीर, शालीमार, डॉन, लावारिस, राम बलराम, कुर्बानी, दोस्ताना जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया।

जीनत ने अपने करियर में अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, जितेंद्र, राजेश खन्ना, देव आनंद, शशि कपूर, मनोज कुमार, संजीव कुमार, फिरोज खान, संजय खान, ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, विनोद खन्ना जैसे सुपरस्टार्स के साथ काम किया। उन्होंने हरे रामा हरे कृष्णा, यादों की बरात, रोटी कपड़ा और मकान, अजनबी, धमर वीर, शालीमार, डॉन, लावारिस, राम बलराम, कुर्बानी, दोस्ताना जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया।

साथ काम करते-करते जीनत को 4 बच्चों के पिता संजय खान से मोहब्बत हो गई। इस बात की भनक संजय की पत्नी जरीन खान को हो गई। खबरें तो यहां तक थी कि दोनों ने फिल्म अब्दुल्ला की शूटिंग के दौरान गुपचुप तरीके से शादी भी कर ली थी।

साथ काम करते-करते जीनत को 4 बच्चों के पिता संजय खान से मोहब्बत हो गई। इस बात की भनक संजय की पत्नी जरीन खान को हो गई। खबरें तो यहां तक थी कि दोनों ने फिल्म अब्दुल्ला की शूटिंग के दौरान गुपचुप तरीके से शादी भी कर ली थी।

इसके बाद दोनों का ब्रेकअप हो गया। 1985 में जीनत ने मजहर खान से दूसरी शादी की जिसमें भी उन्हें प्रताड़ना के अलावा कुछ नहीं मिला। मजहर भी बात-बात पर उनकी पिटाई करते थे जिससे परेशान होकर जीनत ने मजहर से तलाक लेने की सोची। हालांकि, दोनों का तलाक हो पाता इससे पहले ही मजहर दुनिया छोड़कर चले गए। बता दें कि मजहर और जीनत के दो बेटे हैं।

इसके बाद दोनों का ब्रेकअप हो गया। 1985 में जीनत ने मजहर खान से दूसरी शादी की जिसमें भी उन्हें प्रताड़ना के अलावा कुछ नहीं मिला। मजहर भी बात-बात पर उनकी पिटाई करते थे जिससे परेशान होकर जीनत ने मजहर से तलाक लेने की सोची। हालांकि, दोनों का तलाक हो पाता इससे पहले ही मजहर दुनिया छोड़कर चले गए। बता दें कि मजहर और जीनत के दो बेटे हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios