मौत का गड्ढा: एक-एक करके 4 लोगों को निगल गया ये टैंक, जो भी इसमें उतरा वह लौटकर नहीं आया

First Published 24, Jun 2020, 9:03 AM

मुंगेली. छत्तीसगढ़ में एक दुखद घटना ने घटना सामने आई है, जहां सेप्टिक टैंक की सफाई करने उतरे चार में से चार लोगों की मौत हो गई। करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद तीन शव बरामद हुए। जबकि एक की तलाश अभी जारी है, इस हादसे में मारे जाने वाले दो तो सगे भाई थे, जबकि एक उनका पड़ोसी था। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस-प्रशासन पहुंच गया है।

<p><br />
दरअसल, यह घटना मुंगेली के सरगांव क्षेत्र मर्राकोना गांव में हुई मंगलवार शाम में हुई। जिसमें  अखिलेश्वर कौशिक (40) सहति दोनों भाई गौरी शंकर कौशिक (28) रामखिलावन कौशिक की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि तीनों लोग टैंक में फंस गए होंगे और जहरीली गैस के कारण उनकी मौत हो गई। वहीं सुभाष डागौर की तलाश जारी है।</p>


दरअसल, यह घटना मुंगेली के सरगांव क्षेत्र मर्राकोना गांव में हुई मंगलवार शाम में हुई। जिसमें  अखिलेश्वर कौशिक (40) सहति दोनों भाई गौरी शंकर कौशिक (28) रामखिलावन कौशिक की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि तीनों लोग टैंक में फंस गए होंगे और जहरीली गैस के कारण उनकी मौत हो गई। वहीं सुभाष डागौर की तलाश जारी है।

<p>घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे एडीशनल एसपी कमलेश्वर चंदेल एसडीओपी नवनीत कौर एसडीएम बृजेश सिंह ने सेफ्टिक टैंक को तुडवाया। पुलिस की मदद से टैंक से सभी शव बाहर निकलवाए गए।</p>

घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे एडीशनल एसपी कमलेश्वर चंदेल एसडीओपी नवनीत कौर एसडीएम बृजेश सिंह ने सेफ्टिक टैंक को तुडवाया। पुलिस की मदद से टैंक से सभी शव बाहर निकलवाए गए।

<p><br />
जेसीबी, फायर ब्रिगेड सहित अन्य लोगों को बुलाया गया। रात 9 बजे तक तीन शव निकालने का काम चलता रहा।</p>


जेसीबी, फायर ब्रिगेड सहित अन्य लोगों को बुलाया गया। रात 9 बजे तक तीन शव निकालने का काम चलता रहा।

<p><br />
सेप्टिक टैंक सहित आसपास की जगह को भी तोड़ा गया। ताकि इसमें फंसे चौथे युवक के शव को निकाला जा सके।<br />
 </p>


सेप्टिक टैंक सहित आसपास की जगह को भी तोड़ा गया। ताकि इसमें फंसे चौथे युवक के शव को निकाला जा सके।
 

<p>घटना की जानकारी लगते ही हड़कंप मच गया और आनन फानन में प्रशासन सहित पूरे गांव के लोग वहां जमा हो गए। सभी मृतकों के शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा जा रहा है जहां पोस्टमार्टम में बाद शव परिजनों को सौंपा जाएगा</p>

घटना की जानकारी लगते ही हड़कंप मच गया और आनन फानन में प्रशासन सहित पूरे गांव के लोग वहां जमा हो गए। सभी मृतकों के शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा जा रहा है जहां पोस्टमार्टम में बाद शव परिजनों को सौंपा जाएगा

loader