Asianet News Hindi

बेटी के पिता होकर भी विराट ने किया वो काम, जो बेटे के पापा हार्दिक पंड्या ने भी नहीं किया

First Published Mar 19, 2021, 2:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय टीम इस समय इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टी20 मैच की तैयारी कर रही है। गुरुवार को भारत ने इंग्लैंड से 8 रनों से मैच जीतकर सीरीज में 2-2 से बराबरी कर ली है। मैच की तैयारी के साथ ही खिलाड़ी अपने परिवार के साथ भी टाइम स्पेंड कर रहे हैं। कप्तान कोहली (Virat kohli) से लेकर हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya)तक पहली बार अपने बच्चों के साथ किसी टूर पर आए है। ऐसे में अहमदाबाद के जिस होटल में खिलाड़ी और उनके परिवार वाले ठहरे हैं, वहां उनके लिए खास इंतजाम किए गए हैं। विराट ने जहां होटल रूम की नेम प्लेट पर अपनी बेटी वामिका (Vamika) का नाम सबसे पहले लिखवाया है, तो वहीं, हार्दिक ने अपने और नताशा के बाद बेटे अगस्त्य (Agastya) का नाम लिखवाया है।

भारतीय क्रिकेट टीम इस वक्त अहमदाबाद के होटल हयात रेजेंसी में ठहरी हुई हैं। खिलाड़ियों के कमरे के बाहर खास तरह की नेम प्लेट लगाई गई है। जिसमें से विराट और हार्दिक के कमरे के बाहर की नेम प्लेट काफी चर्चा में है।

भारतीय क्रिकेट टीम इस वक्त अहमदाबाद के होटल हयात रेजेंसी में ठहरी हुई हैं। खिलाड़ियों के कमरे के बाहर खास तरह की नेम प्लेट लगाई गई है। जिसमें से विराट और हार्दिक के कमरे के बाहर की नेम प्लेट काफी चर्चा में है।

दरअसल, विराट कोहली के रूम के बाहर जो नेम प्लेट लगाई गई है, उसमें उन्होंने अपनी बेटी वामिका का नाम सबसे पहले लिखवाया है। उसके बाद अनुष्का और फिर विराट ने अपना खुद का नाम लिखवाया है।

दरअसल, विराट कोहली के रूम के बाहर जो नेम प्लेट लगाई गई है, उसमें उन्होंने अपनी बेटी वामिका का नाम सबसे पहले लिखवाया है। उसके बाद अनुष्का और फिर विराट ने अपना खुद का नाम लिखवाया है।

वहीं, टीम इंडिया के स्टार प्लेयर हार्दिक पंड्या के कमरे के बाहर जो नेम प्लेट लगी है, उसमें अगस्त्य का नाम आखिर में लिखा हुआ है। इसमें सबसे पहले हार्दिक फिर नताशा का नाम मेंशन किया गया है।

वहीं, टीम इंडिया के स्टार प्लेयर हार्दिक पंड्या के कमरे के बाहर जो नेम प्लेट लगी है, उसमें अगस्त्य का नाम आखिर में लिखा हुआ है। इसमें सबसे पहले हार्दिक फिर नताशा का नाम मेंशन किया गया है।

नाम चाहे किसी भी सीक्वेंस में लिखे हो, लेकिन ये नेम प्लेट बहुत ही प्यारी लग रही है। बता दें कि, होटल हयात में खिलाड़ियों के लिए सभी इंतजाम किए गए है, क्योंकि कोरोना के चलते खिलाड़ियों का होटल से बाहर जाने की अनुमति नहीं है। 

नाम चाहे किसी भी सीक्वेंस में लिखे हो, लेकिन ये नेम प्लेट बहुत ही प्यारी लग रही है। बता दें कि, होटल हयात में खिलाड़ियों के लिए सभी इंतजाम किए गए है, क्योंकि कोरोना के चलते खिलाड़ियों का होटल से बाहर जाने की अनुमति नहीं है। 

जिन भी खिलाड़ियों के साथ उनके बच्चे है, उनके कमरे में बच्चों के खेलने के लिए खास अरेंजमेंट्स किए गए हैं, ताकि बच्चों के जरा भी बोरियत महसूस न हो। किड्स जोन में बच्चे खेलते हुए भी नजर आए।

जिन भी खिलाड़ियों के साथ उनके बच्चे है, उनके कमरे में बच्चों के खेलने के लिए खास अरेंजमेंट्स किए गए हैं, ताकि बच्चों के जरा भी बोरियत महसूस न हो। किड्स जोन में बच्चे खेलते हुए भी नजर आए।

अन्य खिलाड़ियों की बात करें तो चहल-धनाश्री और सूर्यकुमार-देविशा भी यहां मौजूद हैं। जिनके लिए एक खास तरह की चाबी बनाई गई है, जो एक कार्ड की तरह है और इसमें  गुजरात की विशेषताएं लिखी गई है।

अन्य खिलाड़ियों की बात करें तो चहल-धनाश्री और सूर्यकुमार-देविशा भी यहां मौजूद हैं। जिनके लिए एक खास तरह की चाबी बनाई गई है, जो एक कार्ड की तरह है और इसमें  गुजरात की विशेषताएं लिखी गई है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios