Asianet News Hindi

फिर मैदान में दिखाई देगा ये दिग्गज खिलाड़ी, तिलकरत्ने दिलशान के कहने पर संभाली बड़ी जिम्मेदारी

First Published Jun 5, 2021, 2:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क. श्रीलंका के पूर् हरफनमौला खिलाड़ी सनथ जयसूर्या (Sanath Jayasuriya) एक बार फिर से मैदान में दिखाई देंगी। सनथ जयसूर्या को  मेलबर्न क्लब (Melbourne club) की टीम मुलग्रेव का हेड कोच (coach) बनाया गया है। वो अगले सीजन में टीम को कोचिंग देंगे। जयसूर्या अपने साथ खेल चुके तिलकरत्ने दिलशान और उपुल तरंगा को भी कोचिंग देंगे क्योंकि ये दोनों प्लेयर बतौर क्रिकेटर विक्टोरिया ईस्टर्न क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े हैं।

दो सालों का लगा था प्रतिबंध
फरवरी 2019 में ICC के भ्रष्टाचार विरोधी संहिता के उल्लंघन के लिए दो साल के प्रतिबंध के बाद जयसूर्या की वापसी होगी। उन पर श्रीलंका में भ्रष्टाचार से संबंधित जांचकर्ताओं के साथ सहयोग करने से इनकार करने का आरोप लगाया गया था। आरोपों में जांच में बाधा डालना या देरी करना भी शामिल है। फिर भी, पिछले साल नवंबर में प्रतिबंध हटा दिया गया था।

दो सालों का लगा था प्रतिबंध
फरवरी 2019 में ICC के भ्रष्टाचार विरोधी संहिता के उल्लंघन के लिए दो साल के प्रतिबंध के बाद जयसूर्या की वापसी होगी। उन पर श्रीलंका में भ्रष्टाचार से संबंधित जांचकर्ताओं के साथ सहयोग करने से इनकार करने का आरोप लगाया गया था। आरोपों में जांच में बाधा डालना या देरी करना भी शामिल है। फिर भी, पिछले साल नवंबर में प्रतिबंध हटा दिया गया था।

इस खिलाड़ी ने मनाया
'हेरल्ड सन' की रिपोर्ट के अनुसार- श्रीलंका के पूर्व सलामी बल्लेबाज तिलकरत्ने दिलशान ने 51 वर्षीय जयसूर्या को यह पद संभालने के लिए मनाया। दिलशान और उपुल थरंगा मुलग्रेव क्लब की तरफ से खेलेंगे। जयसूर्या श्रीलंका की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थे। 

इस खिलाड़ी ने मनाया
'हेरल्ड सन' की रिपोर्ट के अनुसार- श्रीलंका के पूर्व सलामी बल्लेबाज तिलकरत्ने दिलशान ने 51 वर्षीय जयसूर्या को यह पद संभालने के लिए मनाया। दिलशान और उपुल थरंगा मुलग्रेव क्लब की तरफ से खेलेंगे। जयसूर्या श्रीलंका की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थे। 

खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन मौका
मुलग्रेव के अध्यक्ष मालिन पुलेनयेगम ने कहा, 'दिलशान ने हमारे लिए रास्ता खोला और यह हमारे लिए शानदार मौका है। हमें इस पर काम करना था और एक समझौता करना था। हमने ऐसा किया। यह हमारे युवा खिलाड़ियों के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के स्तर को समझने का बेहतरीन अवसर है।'

खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन मौका
मुलग्रेव के अध्यक्ष मालिन पुलेनयेगम ने कहा, 'दिलशान ने हमारे लिए रास्ता खोला और यह हमारे लिए शानदार मौका है। हमें इस पर काम करना था और एक समझौता करना था। हमने ऐसा किया। यह हमारे युवा खिलाड़ियों के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के स्तर को समझने का बेहतरीन अवसर है।'


साथी खिलाड़ियों को देंगे कोचिंग
जयसूर्या के साथ श्रीलंका के लिए खेल चुके तिलकरत्ने दिलशान और उपुल तरंगा विक्टोरिया ईस्टर्न क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े इस क्लब के साथ बतौर खिलाड़ी जुड़े हैं।  जयसूर्या अपने साथ खेले इन दोनों खिलाड़ियों को अब कोचिंग देंगे।


साथी खिलाड़ियों को देंगे कोचिंग
जयसूर्या के साथ श्रीलंका के लिए खेल चुके तिलकरत्ने दिलशान और उपुल तरंगा विक्टोरिया ईस्टर्न क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े इस क्लब के साथ बतौर खिलाड़ी जुड़े हैं।  जयसूर्या अपने साथ खेले इन दोनों खिलाड़ियों को अब कोचिंग देंगे।

22 साल था जयसूर्या का क्रिकेट करियर
मुलग्रेव क्लब ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा, 'हम जयसूर्या को अपने साथ जोड़कर काफी रोमांचित महसूस कर रहे हैं। हमें पूरी उम्मीद है कि जयसूर्या क्लब के वरिष्ठ और युवा खिलाड़ियों को अहम मार्गदर्शन देंगे। जयसूर्या ने अपने 22 साल के लंबे समय में 110 टेस्ट और 445 एकदिवसीय मैच खेले हैं, जबकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 42 शतक बनाए हैं।

22 साल था जयसूर्या का क्रिकेट करियर
मुलग्रेव क्लब ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा, 'हम जयसूर्या को अपने साथ जोड़कर काफी रोमांचित महसूस कर रहे हैं। हमें पूरी उम्मीद है कि जयसूर्या क्लब के वरिष्ठ और युवा खिलाड़ियों को अहम मार्गदर्शन देंगे। जयसूर्या ने अपने 22 साल के लंबे समय में 110 टेस्ट और 445 एकदिवसीय मैच खेले हैं, जबकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 42 शतक बनाए हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios