110

मौजूदा मुख्यमंत्री और नई सरकार के लिए भाजपा के सीएम पद के उम्मीदवार भूपेंद्र पटेल को पार्टी ने अहमदाबाद की घाटलोदिया सीट से मैदान में उतारा था। भूपेंद्र पटेल ने इस बार भी रिकॉर्ड मतों से जीत दर्ज की है। उन्हें 2 लाख 13 हजार 530 वोट मिले, जबकि कांग्रेस के अमी याग्निक को महज 21 हजार 267 वोट मिले। वहीं, आप प्रत्याशी विजय पटेल को 16 हजार 194 वोट मिले। 

Subscribe to get breaking news alerts

210

2015 में पाटीदार आंदोलन के बाद चर्चा में आए हार्दिक पटेल को भाजपा ने अहमदाबाद जिले की वीरमगाम सीट से मैदान में उतारा था। हार्दिक पटेल चुनाव जीत गए हैं। उन्हें 85 हजार 485 वोट मिले, जबकि आप प्रत्याशी अमर सिंह ठाकोर 44 हजार 742 वोट के साथ दूसरे नंबर पर रहे। कांग्रेस प्रत्याशी लाखाभाई भरवाड़ 34 हजार 760 वोट मिले। 

310

पिछले चुनाव में भाजपा के लिए मुसीबत बने अल्पेश ठाकोर को पार्टी ने इस बार गांधीनगर दक्षिण विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतारा था। अल्पेश ठाकोर चुनाव जीत गए हैं। उनको कुल 1 लाख 33 हजार 339 वोट मिले। कांग्रेस प्रत्याशी को 90 हजार 17 वोट मिले आप प्रत्याशी को 10733 वोट मिले। 

410

क्रिकेटर रविंद्र जडेजा की पत्नी रिवाबा जामनगर उत्तर विधानसभा सीट से मैदान में थीं। शुरुआती रुझान में रिवाबा आगे चल रही हैं। रिवाबा चुनाव जीत गई हैं। उन्हें 84 हजार 336 वोट मिले, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी विपेंद्र सिंह जडेजा को 22 हजार 822 वोट मिले। वहीं, आप नेता कर्षणभाई करमुर को 33 हजार 800 वोट मिले। 

510

आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार इसुदान गढ़वी देवभूमि द्वारका की खांभलिया सीट से मैदान में थे। इसुदान गढ़वी चुनाव हार गए। उन्हें 59 हजार 89 वोट मिले, जबकि भाजपा प्रत्याशी मुलुभाई बेरा ने इस सीट से जीत दर्ज की। उन्हें 77 हजार 834 वोट मिले। वहीं, कांग्रेस प्रत्याशी विक्रमभाई अहीर को 44 हजार 715 वोट मिले। 

610

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ टिप्पणी कर चर्चा में आए गोपाल इटालिया को आम आदमी पार्टी ने सूरत की कतारगाम सीट से मैदान में उतारा था। गोपाल इटालिया चुनाव हार गए। उन्हें 55 हजार 804 वोट मिले। वहीं, भाजपा प्रत्याशी विनोद मोराडिया इस सीट से चुनाव जीत गए हैं। उन्हें एक लाख 20 हजार 205 वोट मिले। कांग्रेस प्रत्याशी को कल्पेश वारिया को 26 हजार 835 वोट मिले। 

710

पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के समर्थन से निर्दलीय चुनाव में उतरे और वडगाम सीट पर जीत दर्ज की थी। इस बार वडगाम सीट से ही कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े।जिग्नेश मेवानी चुनाव जीत गए हैं। उन्हें 61 हजार 703 वोट मिले, जबकि भाजपा प्रत्याशी मणिभाई वाघेला को 57 हजार 625 वोट मिले। आम प्रत्याशी दलपत भाटिया को 3 हजार 583 वोट मिले। 

810

पुराने कांग्रेसी नेता करीब डेढ़ साल पहले आप में गए। टिकट नहीं मिला तो नाराज होकर वापस कांग्रेस ज्वाइन कर ली। राजकोट-पूर्व विधानसभा सीट से ये पीछे चल रहे हैं। इंद्रनील राजगुरु चुनाव हार गए हैं। उन्हें 57 हजार 559 वोट मिले, जबकि भाजपा प्रत्याशी उदय कांगद यहां से चुनाव जीत गए हैं। उन्हें 86 हजार 194 वोट मिले। आप प्रत्याशी राहुल भुवा को 35 हजार 446 वोट मिले। 

910

अमरेली विधानसभा सीट पर पिछले दो चुनाव से कांग्रेस के लिए झंडा गाड़ रहे परेश धनानी इस बार भी यहां से उम्मीदवार हैं। परेश धनानी चुनाव हार गए हैं। इस बार उन्हें 42 हजार 377 वोट मिले। वहीं, भाजपा प्रत्याशी कौशिक वेकारिया 89 हजार 34 वोट हासिल कर चुनाव जीत गए हैं। आप प्रत्याशी रवि धनानी को 26 हजार 445 वोट मिले। 

1010

मोरबी पुल हादसे के बाद चर्चा में आए पूर्व विधायक कांतिलाल अमृतिया को भाजपा ने टिकट दिया था। कांतिलाल अमृतिया को एक लाख 14 हजार 538 वोट मिले। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी जयंतीलाल पटेल को हराया। जयंतीभाई को 52 हजार 459 से वोट मिले।