Asianet News Hindi

Fact Check: ब्रिटिश एयरवेज़ के पायलट ने खींची सूर्यग्रहण की जबरदस्त तस्वीर है? सामने आया सच उड़ा देगा होश

First Published Jun 26, 2020, 3:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक्ट चेक डेस्क.  Solar Eclipse Viral Photo Fact Check: सूर्यग्रहण दर्शाते एक डिजिटल आर्टवर्क की तस्वीर को हाल ही में 21 जून को हुए सूर्यग्रहण के रूप में शेयर किया जा रहा है। आर्टवर्क को इस झूठे दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि अटलांटिक महासागर को पार करते वक्त एक ब्रिटिश एयरवेज़ पायलट ने यह तस्वीर खींची थी। ये फोटो शेयर करके लोग सत्य की खोज के दावे कर रहे हैं। फोटो वाकई खूबसूरत है और नजारा देख लोग हैरान हैं। इस बीच इस फोटो को लेकर जो कहानी वायरल हो रही है वहीं सू्रय ग्रहण के नीचे उड़ता विमान पर काफी बवाल मचा हुआ है। 

 

फैक्ट चेकिंग में आइए जानते हैं कि आखिर सूर्य ग्रहण की इस फोटो का सच क्या है? 

सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर हो रही इस तस्वीर पर लोग सवाल भी उठा रहे हैं, क्या किसी जहाज़ की खिड़की से ऐसी तस्वीर खींची जा सकती है?
 

सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर हो रही इस तस्वीर पर लोग सवाल भी उठा रहे हैं, क्या किसी जहाज़ की खिड़की से ऐसी तस्वीर खींची जा सकती है?
 

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

फेसबुक, ट्विटर पर पोस्ट वायरल है, कैप्शन लिखा है, एक ब्रिटिश एयरवेज के पायलट ने सूर्य ग्रहण की यह तस्वीर तब क्लिक कि जब उनका विमान अटलांटिक महासागर को पार कर रहा था। एक ही उड़ान पथ 21-6-2020 पर एक और विमान देख सकता है।

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

फेसबुक, ट्विटर पर पोस्ट वायरल है, कैप्शन लिखा है, एक ब्रिटिश एयरवेज के पायलट ने सूर्य ग्रहण की यह तस्वीर तब क्लिक कि जब उनका विमान अटलांटिक महासागर को पार कर रहा था। एक ही उड़ान पथ 21-6-2020 पर एक और विमान देख सकता है।

ये तस्वीर फ़ेसबुक पर काफी वायरल है। तस्वीर को ऐसे समय शेयर किया जा रहा है जब भारत में 21 जून को सुबह 9.15 से दोपहर 3.04 तक का सूर्यग्रहण देखा गया था। 

ये तस्वीर फ़ेसबुक पर काफी वायरल है। तस्वीर को ऐसे समय शेयर किया जा रहा है जब भारत में 21 जून को सुबह 9.15 से दोपहर 3.04 तक का सूर्यग्रहण देखा गया था। 

फैक्ट चेक

 

फैक चेक में हमने पाया, ये डिजिटल आर्टवर्क दरअसल 2017 से ऑनलाइन मौजूद है। तस्वीर में फ़ोटोशॉप द्वारा एक विमान जोड़ा गया है। मूल तस्वीर, जो बिना विमान की है, एडोब से लिया गया एक स्टॉक फ़ोटो है। इसका शीर्षक है: 'सूर्य ग्रहण: तस्वीर के तत्व नासा द्वारा सुसज्जित,' जिस से पता चलता है की तस्वीर में डिजिटल रूप से हेरफेर किया गया है, और यह ग्रहण की वास्तविक तस्वीर नहीं है। व्हाट्सएप्प पर भी यही तस्वीर और इसके साथ किया गया गलत दावा वायरल है।

 

गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमारे सामने एक अन्य तस्वीर आयी जिसमे यह विमान नहीं दिखाई देता। हमें यही तस्वीर 2017 से इंटरनेट पर मौजूद मिली जिससे स्पष्ट होता है की ये 21 जून, 2020 के सूर्यग्रहण से पहले की है। हमें रिवर्स इमेज सर्च करने पर एक एडोबी स्टॉक फ़ोटो मिला जिसके साथ एक अंग्रेज़ी कैप्शन है जो कहता है 'Solar Eclipse "Elements of this image furnished by NASA'इसके साथ एक नाम - 'muratart' -भी है | हालांकि इस तस्वीर में हवाई जहाज नज़र नहीं आता | इस तस्वीर के साथ दिए कैप्शन से प्रतीत होता है की ये एक डिजिटल आर्टवर्क है ना की सूर्यग्रहण की असल तस्वीर।

फैक्ट चेक

 

फैक चेक में हमने पाया, ये डिजिटल आर्टवर्क दरअसल 2017 से ऑनलाइन मौजूद है। तस्वीर में फ़ोटोशॉप द्वारा एक विमान जोड़ा गया है। मूल तस्वीर, जो बिना विमान की है, एडोब से लिया गया एक स्टॉक फ़ोटो है। इसका शीर्षक है: 'सूर्य ग्रहण: तस्वीर के तत्व नासा द्वारा सुसज्जित,' जिस से पता चलता है की तस्वीर में डिजिटल रूप से हेरफेर किया गया है, और यह ग्रहण की वास्तविक तस्वीर नहीं है। व्हाट्सएप्प पर भी यही तस्वीर और इसके साथ किया गया गलत दावा वायरल है।

 

गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमारे सामने एक अन्य तस्वीर आयी जिसमे यह विमान नहीं दिखाई देता। हमें यही तस्वीर 2017 से इंटरनेट पर मौजूद मिली जिससे स्पष्ट होता है की ये 21 जून, 2020 के सूर्यग्रहण से पहले की है। हमें रिवर्स इमेज सर्च करने पर एक एडोबी स्टॉक फ़ोटो मिला जिसके साथ एक अंग्रेज़ी कैप्शन है जो कहता है 'Solar Eclipse "Elements of this image furnished by NASA'इसके साथ एक नाम - 'muratart' -भी है | हालांकि इस तस्वीर में हवाई जहाज नज़र नहीं आता | इस तस्वीर के साथ दिए कैप्शन से प्रतीत होता है की ये एक डिजिटल आर्टवर्क है ना की सूर्यग्रहण की असल तस्वीर।

'Solar Eclipse "Elements of this image furnished by NASA' कीवर्ड के साथ सर्च करने पर पता चला की शटरस्टॉक की लाइब्रेरी में भी यही तस्वीर मौजूद है। इस तस्वीर के कलाकार muratart की सूर्य ग्रहण कलाकृतियों की एक पूरी गैलरी है । सोशल मीडिया पर यह तस्वीर 2017 से वायरल है, कभी विमान के साथ तो कभी उसके बिना।

'Solar Eclipse "Elements of this image furnished by NASA' कीवर्ड के साथ सर्च करने पर पता चला की शटरस्टॉक की लाइब्रेरी में भी यही तस्वीर मौजूद है। इस तस्वीर के कलाकार muratart की सूर्य ग्रहण कलाकृतियों की एक पूरी गैलरी है । सोशल मीडिया पर यह तस्वीर 2017 से वायरल है, कभी विमान के साथ तो कभी उसके बिना।

ये निकला नतीजा 

 

2017 में भी तस्वीर वायरल हुई थी। यदि सूर्यग्रहण की तस्वीर खींचने के लिए नासा द्वारा जारी किये गए दिशानिर्देशों को देखा जाये तो पता चलता है की स्मार्टफोन से ऐसी तस्वीर खींचना इतना आसान नहीं होता | वायरल तस्वीर जैसी फ़ोटो निकालने के लिए टेलीफ़ोटो लेंस और और फिल्टर्स बेहद ज़रूरी हैं और एक हवाई जहाज़ की खिड़की से ऐसी तस्वीर निकालना तो नामुमकिन के बराबर है। 
 

ये निकला नतीजा 

 

2017 में भी तस्वीर वायरल हुई थी। यदि सूर्यग्रहण की तस्वीर खींचने के लिए नासा द्वारा जारी किये गए दिशानिर्देशों को देखा जाये तो पता चलता है की स्मार्टफोन से ऐसी तस्वीर खींचना इतना आसान नहीं होता | वायरल तस्वीर जैसी फ़ोटो निकालने के लिए टेलीफ़ोटो लेंस और और फिल्टर्स बेहद ज़रूरी हैं और एक हवाई जहाज़ की खिड़की से ऐसी तस्वीर निकालना तो नामुमकिन के बराबर है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios