Asianet News Hindi

लॉकडाउन में करियर बिखरते देख नौजवान को कुछ नहीं सूझा..उसने पिता की रिवॉल्वर उठाई और सीने में गोली दाग ली

First Published Jun 26, 2020, 10:46 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

सोनीपत, हरियाणा। लॉकडाउन में अपना करियर बिगड़ता देख 18 साल के एक नौजवान ने अपने पिता की लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को शूट कर लिया। रोहित के पिता अजीत सैनी खरखौदा नगरपालिका के पूर्व उपाध्यक्ष हैं। रोहित ने बुधवार को सीने में गोली दाग ली थी। गोली की आवाज सुनकर परिजन कमरे में पहुंचे। घायल रोहित को अस्पताल ले  जाया गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। गुरुवार को उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस घटना ने पूरे परिवार को सदमे में डाल दिया है। रोहित बैडमिंटन का अच्छा खिलाड़ी था। वो इसमें आगे तक जाने का सपना देखता था। रोहित 12वीं की एग्जाम दे रहा था। लॉकडाउन के कारण कुछ पेपर रुक गए थे। माना जा रहा है कि वे इन्हीं वजहों से परेशान था। हालांकि सही वजह सामने नहीं आई है।

डीएसपी राव वीरेंद्र ने बताया कि रोहित की सुसाइड की अभी पुख्ता वजह सामने नहीं आई है। लेकिन यह माना जा रहा है कि वो लॉकडाउन में मानसिक परेशान था।

डीएसपी राव वीरेंद्र ने बताया कि रोहित की सुसाइड की अभी पुख्ता वजह सामने नहीं आई है। लेकिन यह माना जा रहा है कि वो लॉकडाउन में मानसिक परेशान था।

रोहित के पिता यह मानते हैं कि वो लॉकडाउन में अपने करियर को लेकर चिंतित था। लॉकडाउन के कारण वो बैडमिंटन खेलने नहीं जा पा रहा था। इस वजह से परेशान था।

रोहित के पिता यह मानते हैं कि वो लॉकडाउन में अपने करियर को लेकर चिंतित था। लॉकडाउन के कारण वो बैडमिंटन खेलने नहीं जा पा रहा था। इस वजह से परेशान था।

मृतक का गुरुवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस घटना से परिवार को गहरा सदमा लगा है। 

मृतक का गुरुवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस घटना से परिवार को गहरा सदमा लगा है। 

मृतक के पिता अजीत सैनी ने कहा कि उन्हें नहीं मालूम था कि लॉकडाउन में उनका बेटा इतना परेशान हो जाएगा।

मृतक के पिता अजीत सैनी ने कहा कि उन्हें नहीं मालूम था कि लॉकडाउन में उनका बेटा इतना परेशान हो जाएगा।

परिजनों के मुताबिक, रोहित पढ़ने में होशियार था। 

परिजनों के मुताबिक, रोहित पढ़ने में होशियार था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios